श़िक्षामंत्री फरमा रहीं आराम, स्कूली बच्चों के अभिवावक परेशान


SHUBHENDU SHUKLA 04/07/2018 09:15:23
657 Views

Lucknow. जुलाई से शिक्षा सत्र शुरू होते ही बच्चों के एडमिशन को लेकर अभिवावक बेसिक शिक्षा विभाग में अधिकारियों के चक्कर काट रहे हैं। लेकिन उनकी कोई सुनवाई नहीं हो रही है। शिक्षा व्यवसथा बेहतर बनाने के लिए शिक्षा विभाग को प्रदेश सरकार ने सबसे अधिक बजट दिया है। वहीं, बेसिक शिक्षा मंत्री कुर्सी पर आराम फरमाने में मस्त हैं। गरीब बच्चों की आवज मंत्री तक नहीं पहुंच पा रही है, या फिर सबकुछन कर भी वह उदासीन बनी हुई हैं। जिसका परिणाम यह है कि अभिभावक बेसिक शिक्षा विभाग में अधिकारियों से गुहार लगा रहे हैं और निराश होकर खाली हाथ लौट रहे हैं। बताते चलें कि आरटीई के तहत बच्चों का निशुल्क एडमिशन किया जाना है। लेकिन विभाग में भ्रष्टाचार और अधिकारियों की लापरवाही के कारण बच्चों का भविष्य अधर में लटक गया है। 

Corruption in Basic Education Department Parent upset

यह भी पढ़ें...ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर यूपी सरकार से जवाब तलब

  तीन दिनों से बीएसए नदारद

नवनियुक्त बीएसए की मनमानी इस कदर है कि तीन दिनों से उनका कार्यालय में पता नहीं है। परिणाम स्वरूप अभिभावक बीएसए से मिलने की उम्मीद लेकर आते हैं और गरीबी में भी दूर दराज से सैकड़ों रुपए खर्च कर चले जाते हैं। पीड़ित परिजनों का कहना है कि शि​क्षा विभाग की करस्तानी से आरटीई के तहत बच्चों का एडमिशन होना था। इसके लिए तीन महीने से प्रक्रिया चल रही है। कई तरह कि गड़बड़ियां विभाग की लापरवाही से हुई है। इस कारण उनके बच्चों का भविष्य अधर में लटक गया है। अब अधिकारी कह रहे हैं कि जुलाई महीने तक सुधार कर लिया जाएगा। सवाल उठता है कि प्रदेश की सरकार गरीब के बच्चों को शिक्षा देने के लिए हर सम्भव प्रयास कर रही है, लेकिन बेसिक शिक्षा के अधिकारी की वजह से राजधानी के गरीब बच्चों को शिक्षा नहीं मिल पाएगीए लेकिन प्रदेश के मुख्यमंत्री का सपना प्रदेश का हर बच्चा बने शिक्षित पर पानी फिर सकता है।

Corruption in Basic Education Department Parent upset

यह भी पढ़ें...बेसिक शिक्षा विभाग की मनमानी, स्कूल चलो अभियान को लगा रहे पलीता

  भटक रहे अभिवावक

जितेन्द्र कुशवाहा के बेटे कृष्णा कुशवाहा निवासी इंदिरानगर पवन कुमार यादव पुल नियायत यादव निवासी आचार्य नरेन्द्र यादव बच्चे के एडमिशन को लेकर भटक रहे हैं। लेकिन उनकी कोई सुनने वाला नहीं है। इसी तरह मोहम्मद शहनवाज के पुत्र मोहम्मद उमर शीतला देवी वार्ड, मोहम्मद मुसीरर पुत्री शुभाना सिद्दीकी निवासी शीतला देवी वार्ड वजीरबाग सहादत गंज, मोहम्मद इलियास के पु​त्र मोहम्मद हसन निवासी मल्लाही टोला द्वितीय सहित सैकड़ों अभिवावक बच्चों के एडमिशन को लेकर शिक्षा विभाग के चक्कर काट रहे हैं।

वर्जन
जब मामले को लेकर शिक्षा मंत्री अनुपमा जायसवाल के सीयूजी नंबर पर बात की गई तो पीआरओ ने कहा कि अभी वह व्यस्त हैं। उनसे बात नहीं हो सकती। हम आपकी बात उपर तक पहुंचा देंगे।

Corruption in Basic Education Department Parent upset

Web Title: Corruption in Basic Education Department Parent upset ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया