निर्वाचन आयोग के इस फैसले के बाद अब माननीयों के नफरती भाषणों पर लगेगी लगाम


RAGHVENDRA CHAURASIA 04/07/2018 12:39:18
481 Views

New Delhi. निर्वाचन आयोग ने नेताओं के नफरत फैलाने वाले भाषणों के खिलाफ बड़ा कदम उठाया है। अब चुनाव के समय माननीय आचार संहिता की धज्जियां नहीं उड़ा सकते हैं। आयोग ने नफरती भाषणों पर लगाम लगाने के लिए एक एंड्रायड एप लांच किया है। इस एप के जरिए कोई भी व्यक्ति नेता के नफरती भाषण की शिकायत आयोग से कर सकता है।

After this decision of the Election Commission, the reins will be seen on the hate speech of the people

 यह भी पढ़ें...बंग्लादेश की पूर्व पीएम की हालत नाजुक, चल पाने में भी असमर्थ

शिकायतकर्ता की पहचान गुप्त रखी जाएगी

चुनाव में जीत के लिए नेता सभी प्रकार का दांव चलते हैं। नेता अपने -अपने भाषणों में दूसरे दल के खिलाफ बोलते हैं मगर ऐसा भाषण देते हैं जिससे समाज में जहर घुल जाता है। इसके साथ ही नेता अवैध रुप से बड़े पैमाने पर धन खर्च करते हैं। देश के मुख्य निर्वाचन आयुक्त ओपी रावत ने मंगलवार को एंड्रायड एप लांच किया है। इस एप के जरिए कोई भी व्यक्ति नेता की शिकायत आयोग से कर सकता है। आयोग ने कहा ​कि शिकायतकर्ता की पहचान गुप्त रखी जाएगी। 

निर्वाचन आयोग ने कहा 100 मिनट में होगी कार्रवाई

देश के मुख्य निर्वाचन आयुक्त ओपी रावत ने कहा यदि कोई भी आम नागरिक नेता की शिकायत करता है तो शिकायतकर्ता की पहचान को आयोग गुप्त रखेगा। जिससे वह उसकी सभी हरकतों का पर्दाफाश कर सके। आयोग ने कहा ​कि शिकायतकर्ता के शिकायत करने के 100 मिनट बाद कार्रवाई होनी तय है। 

इस साल के चुनाव में इसका होगा इस्तेमाल

आयोग ने कहा कि इस साल के आखिरी में इस एप का इस्तेमाल किया जाएगा। आयोग इसका इस्तेमाल मध्य प्रदेश,राजस्थान व छत्तीसगढ़ चुनाव में करेगा। बताया जा रहा है कि इस एप को गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध कराया जाएगा यह एप चुनाव आचार संहिता के दौरान ही काम करेगा। 

यह भी पढ़ें...इस आरोप में बसपा प्रदेश अध्यक्ष समेत तीन के खिलाफ एफआईआर दर्ज

 

Web Title: After this decision of the Election Commission, the reins will be seen on the hate speech of the people ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया