DM की अध्यक्षता में विकास कार्यक्रमों की बैठक सम्पन्न, कई पर​ गिरी गाज...


SHUBHENDU SHUKLA 05/07/2018 18:33:19
356 Views

Lucknow. जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा की अध्यक्षता में मुख्यमंत्री द्वारा चिन्हित विकास प्राथमिकता कार्यक्रम के संबंध में समीक्षा बैठक कलेक्ट्रट स्थित एपीजे अब्दुल कलाम सभागार में आहूत की गई। जिसमें मुख्य विकास अधिकारी मनीष बंसल, डीईएसटीओ, डीपीआरओ, समाज कल्याण अधिकारी, नगर निगम, विद्युत विभाग, जल निगम,सभी खण्ड विकास अधिकारियों तथा अन्य सभी विभागीय अधिकारियों ने भाग लिया। शासन द्वारा विभागों की प्रगति की रिपोर्ट से ज्ञात होता है कि किसी भी विभाग ने पूर्ण जिम्मेदारी के साथ काम नहीं किया। जिसके संबंध में मुख्यता सभी विभागों को डी ग्रेड दिया गया। जिलाधिकारी ने नाराजगी जताई कार्य के प्रति शिथिलता रखने वाले अधिकारियों के विरुद्ध कार्यवाही के निर्देश दिए।

 Meeting of development programs under the chairmanship of DM Kaushal Raj Sharma

यह भी पढ़ें...बॉलीवुड की फेसम अदाकारा सोनाली बेंद्रे को हुआ कैंसर, न्‍यूयॉर्क में करा रही इलाज

  पाई गई ये खामियां 

बैठक में चिकित्सा विभाग की समीक्षा के दौरान पाया कि जेई टीकाकरण तथा गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण के संबंध में विभाग को डी ग्रेड प्राप्त हुआ। 181 महिला हेल्पलाइन के संबंध में प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार कुल 1100 कॉल के सापेक्ष केवल 10 काल का ही उत्तर दिया गया। जिसके संबंध में इसके जिम्मेदार अधिकारी की संविदा समाप्त करने के तथा कारण बताओं नोटिस जारी करने के और डीपीओ को नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। चिकित्सकों की उपलब्धता के संबंध में जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि जो भी चिकित्सक अपनी ड्यूटी पर उपलब्ध नहीं होगा उसके विरुद्ध तुरंत कार्यवाही की जाएगी। 
अपर मुख्य चिकित्सा अधिकरियों को निर्देशित किया के वह सभी सीएचसी पीएचसी में सुबह जाकर चिकित्सकों की उपस्थिति का निरीक्षण करेंगे। डीएम को ज्ञात हुआ कि 102 और 108 एम्बुलेंस समय पर नहीं पहुंचती है। जिसके संबंध में व्यवस्था को सुधारने के निर्देश दिए। 2 दिन के अंदर सभी एम्बुलेंस का पिछले एक माह के औसत रेस्पॉन्स टाइम की रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए।

  जन निगम को ग्रेड

समीक्षा बैठक में राष्ट्रीय पेयजल योजना की समीक्षा करते हुए पाया इस योजना में जल निगम को भी डी ग्रेड प्राप्त हुआ। जिसके लिए प्रमुख सचिव को शिकायत पत्र देने तथा अगले माह भी अगर विभाग की यही प्रगति रही तो जिम्मेदार अधिकारी को सस्पेंड करने के निर्देश दिए। गढ्ढा मुक्त सड़कों के संबंध में भी विभाग को डी ग्रेड प्राप्त हुआ जिसके लिए संबंधित अधिकारी को सस्पेंड करने के निर्देश दिए। बैठक में सेतु निगम के अधिकारी उपस्थित नहीं रहे और विभाग की प्रगति अत्यंत खराब होने के कारण सेतु निगम के अधि. अभि. को सस्पेंड करने करने के निर्देश दिए। इस विभाग को भी डी ग्रेड प्राप्त हुआ। अमृत स्मार्ट सिटी योजना में भी विभाग को डी ग्रेड प्राप्त हुआ, साथ ही चीफ इंजीनियर भी बैठक में अनुपस्थित रहे जिसके लिए उनका वेतन रोकने के निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें...चुनाव से पहले BSP को बड़ा झटका, इस बड़े नेता पर केस दर्ज, आरोप जान उड़ जाएंगे...

  विधुत विभाग

नये विद्युत कंनेक्शन देने के सम्बंध में भी विभाग को डी ग्रेड प्राप्त हुआ। 5000 के लक्ष्य के सापेक्ष केवल 2518 कंनेक्शन ही वितरित किये गए जिसके लिए संबंधित अधिकारी को शो कास्ट नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। डीएपी और यूरिया के वितरण में भी विभाग को डी ग्रेड मिला। ए.आर. कोऑपरेट के अनुसार यूरिया वितरण केवल 5ः और बीज वितरण केवल 9ः ही रहा। जिसके संबंध में जिलाधिकारी ने निर्देश दिया के जिस भी सोसायटी का अगले माह का टारगेट 20ः से कम मिला तो सेक्रेटरी के विरुद्ध कठोर कार्यवाही की जाएगी।

 प्रधानमंत्री आवास योजना

जिलाधिकारी ने प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा करते हुए कहा कि आवास योजना का प्रतिशत केवल .27 प्रतिशत रहा। इसमें भी विभाग को डी ग्रेड मिला। पिछले माह कुल स्वीकृति 15 आवासों का कार्य ही पूरा हो सका। जिसके लिए पीओ डूडा को कड़े निर्देश दिए कि यदि अगले माह प्रगति में सुधार नहीं हुआ तो संबंधित अधिकारी को सस्पेंड किया जाएगा।  सीएनडीएस और निर्माण विभाग को भी डी ग्रेड प्राप्त हुआ। जिसके लिए संबंधित अधिकारियों के विरुद्ध कार्यवाही के निर्देश दिए। नहरों से खेतों तक पानी पहुचने के सम्बंध में सिचाई विभाग ने कोई कार्य नही किया जिसके लिए विभाग को डी ग्रेड मिला। अधिअभि सिंचाई विभाग के विरुद्ध कार्यवाही के निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें...COA ने BCCI के वरिष्ठ अधिकारियों पर लगाए गंभीर आरोप

  58 गांव  नहीं हुए ओडीएफ

बैठक में  स्वच्छ भारत मिशन अभियान के अंतर्गतगत बीडीओ सरोजनी नगर ने बताया कि अभी 58 गांव ओडीएफ नहीं हुए हैं। जिसमें 52 गांवो में निर्माण सामग्री पहुंच चुकी है। बीडीओ मोहनलाल गंज द्वारा बताया गया के इस माह 100 शौचालयों का निर्माण हो चुका है और 31 जुलाई तक 90 प्रतिशत लक्ष्य की प्राप्ति हो जाएगी। बीडीओ काकोरी को गांवो की संख्या के सम्बंध में कोई जानकारी न होने के कारण उनको नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। सरोजनी नगर को छोड़ कर किसी भी ब्लॉक में शौचालयो के लिए गढ्ढे खोदने का कार्य नहीं किया जा रहा है। जिसके संबंध में रविवार तक गढ्ढे खोदने के कार्य को समाप्त करने के निर्देश दिए। बीडीओ गोसाईं गंज ने बताया के 79 गांवो में से 28 गांवो में सामग्री आ गई है।

  16 गांव ओडीएफ

मलिहाबाद में कुल 67 गांवो में से 16 गांवो को ओडीएफ किया गया और 15 जुलाई तक 12 और गांवो को ओडीएफ कर दिया जाएगा। और 31 जुलाई तक सभी गांवों को ओडीएफ कर दिया जाएगा। बीडीओ चिनहट ने बताया के ब्लाक चिनहट को इस माह ओडीएफ घोषित कर दिया जाएगा। बीकेटी के सभी गांवों में निर्माण सामग्री पहुच गई है। 22 गांव खुले में शौच मुक्त हो गए है। 10 गांव इस माह में हो जाएंगे। अवशेष 80 गांवो में सभी के गढ्ढे खुद गए है और करीब 30 गांवो में निर्माण कार्य 90ः से ऊपर पूर्ण हो चुका है।

यह भी पढ़ें...सरकार के आदेश पर WhatsApp उठाने जा रहा सख्त कदम, अगर ग्रुप पर अफवाएं फैलाई तो ...

  41 गांवो में वृक्षारोपण

समीक्षा बैठक में जिलाधिकारी ने मनरेगा को 12 जुलाई को गोमती नदी के किनारे के 41 गांवो में वृक्षारोपण के लिए गढ्ढे खोदने के कार्य को सुनिश्चित करने के और पौधों को वृक्षारोपण के लिए चिन्हित स्थान पर पहुंचाने के निर्देश दिए। कुल 111000 पौधों का रोपण होना है। बाकी 41 गांवों के अलावा जो वृक्षारोपण का लक्ष्य है उसकी पूर्ति 31 जुलाई तक करनी है। साथ ही बीकेटी एपीओ का वेतन रोकने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि  प्रधानमंत्री आवास की सेटिंग नहीं हो पा रही है जिसमें माल और मलियाबाद सबसे पीछे हैं कल तक सभी जियो टैगिंग को पूरा करने के निर्देश दिए और जननी सुरक्षा योजना- 3470 लक्ष्य के सापेक्ष 2900 आशाओ का भुगतान किया गया। 100 प्रतिशत आशाओं का भुगतान सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

  संचारी रोग पखवाड़ा

जिलाधिकारी ने जुलाई से 31 जुलाई तक जिला संचारी रोग पखवाड़ा चलाया जाएगा। जिसमे कुपोषित बच्चों को चिन्हित करना, झाड़ियो की कटाई, दिव्यांगजनो को चिन्हित कर उनको उपकरण उपलब्द करना, ऐसे पम्पो जिसको रेड मार्क किया गया है जल निगम के द्वारा उसकी रेबोरिंग का कार्य किया जाएगा। समाज कल्याण विभाग की  पेंशन योजनाओं में भी विभाग को डी ग्रेड मिला है। रिपोर्ट के अनुसार वृद्धा पेंशन में 78000 के सापेक्ष केवल 39000 का ही सत्यापन हो सका। परसो तक सभी योजनाओं के लाभार्थियों के सत्यापन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। पीएमजेएसवाई योजना के अन्तर्गत 8 करोड़ 82 लाख के सापेक्ष 6 करोड़ 88 लाख का व्यय कर लिया गया है। बाकी अवशेष का उपयोग इसी माह के अन्त तक कर लिया जाएगा। 

यह भी पढ़ें...लाइब्रेरी और होटल के लिए दो विभागों से मिली एनओसी

  3 योजनाओं का बजट

अधि.अभि. जल निगम ने अवगत कराया के कुल 17 योजनाओं में से केवल 3 योजनाओं का बजट प्राप्त हुआ, जिसमें से केवल 2 योजनाएं ही पूर्ण हुई। 2 दिन में दोनो योजनाए हैंडओवर करने के निर्देश दिए। सेवा अभियंता को निर्देशित किया गया के  बचे हुए 482 हैंडपंपों का कार्य 15 अगस्त तक कर लिया जाए। कक्षा 1,2,3 की किताबें आ गई हैं। जिसका वितरण अभी तक नहीं किया गया। जिसके संबंध में हेड मास्टरों को शो कास्ट नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। 

यह भी पढ़ें...काकोरी : टोल कर्मियों से मारपीट, पिस्टल दिखा फरार हुए दबंग

  आधार कार्ड का कार्य

आईसीडीएस बच्चों के आधार कार्ड बनाने के कार्य में अभी तक 2800 शेष हैं। पिछले माह केवल 1105 बच्चों का आधार बनाया गया। 31 जुलाई तक कम से कम 15000 का लक्ष्य पूरा करने के निर्देश दिए। सरकारी कार्यालयों में दिव्यांगजनो के लिए एन्ट्री गेट पर रैंप लगाने के निर्देश दिए तथा जिन कार्यालयों में रैंप क्षतिग्रस्त उनकी तत्काल प्रभाव से मरम्मत करने के निर्देश दिए। जिससे के दिव्यांगजनो के आगमन में सुविधा हो। 

Web Title: Meeting of development programs under the chairmanship of DM Kaushal Raj Sharma ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया