मुख्य समाचार
10वीं पास के लिए दो हजार से अधिक पदों पर भर्तियां, ऐसे कर सकते हैं आवेदन दिव्यांग किशोरी से रेप करते धरा गया वृद्ध और फिर जो हुआ... भारत की गोल्डन गर्ल हिमा दास, जानिये खास बातें सरकार का सख्त आदेश, एयर इंडिया नहीं करे नियुक्ति और पदोन्नति फिर विवादों में घिरीं सोनाक्षी, धोखाधड़ी मामले के बाद सेक्सोलॉजिस्ट ने भेजा नोटिस अटल के आचरण से प्रेरित होकर एक आदर्श कार्यकर्ता का होता है निर्माण : स्वतंत्र देव अनिवार्य होगा टेस्ट, नशे में मिलने पर होगा निलंबन  लाइव शो में कॉमेडियन की मौत, लोग समझते रहे परफॉर्मेंस बजाते रहे तालियां... मेयर, पार्षद और नगर पंचायत अध्यक्ष भी लगाएंगे पौधे  यूपी में औद्योगिक विकास को बढ़ावा देने के हर सम्भव किये जाये प्रयास : उपमुख्यमंत्री मायावती ने चला ये बड़ा दांव, नहीं गिरेगी कर्नाटक की सरकार! किसी दुर्घटना के इंतजार में चार दिन से पड़ा आंधी में गिरा यह पेड़ पहले निर्माण, अब चारे के नाम पर गोशालाओं में प्रधान कर रहे फर्जीवाड़ा इसरो की तैयारियां पूरी, सोमवार को होगा चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण  कम नहीं हो रहीं आज़म खान की मुसीबतें, 3 और एफआईआर दर्ज छोटी सी गलती एक्टर को पड़ी भारी, 14 दिन की न्यायिक हिरासत में सोनभद्र: सीएम के दौरे को लेकर पुलिस ने कसा शिकंजा, पूर्व विधायक समेत कई कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी  सोशल मीडिया पर कहर ढा रहीं हॉट एक्ट्रेस ईशा गुप्ता, देखें सिजलिंग तस्वीरें लखनऊ: मुठभेड़ में टिंकू नेपाली गैंग के सरगना समेत तीन गिरफ्तार, दो सिपाही जख्मी मलाइका की सिजलिंग फोटो देख खुद पर काबू नहीं रख पाए आर्जुन कपूर, कर दिया ऐसा कमेंट... यूपी में बदमाशों के हौसले बुलंद, भाजपा नेता को गोलियों से भूना दो पुलिस कर्मियों की हत्या कर भागे कैदियों में एक को मुठभेड़ में पुलिस ने किया ढेर
 

40 साल 40 हत्याएं, जानिए प्रेम प्रकाश सिंह का मुन्ना बजरंगी बनने तक का सफर 


GAURAV SHUKLA 09/07/2018 09:09:06
513 Views

Lucknow. माफिया डॉन प्रेम प्रकाश सिंह उर्फ मुन्ना बजरंगी की सोमवार को बागपत जेल में गोली मारकर हत्या कर दी गयी। दरअसल पूर्व बसपा विधायक लोकेश दीक्षित से रंगदारी मांगने के आरोप में बागपत कोर्ट में मुन्ना बजरंगी की पेशी होनी थी, जिसके चलते रविवार रात उन्हें झांसी जेल से बागपत लाया गया था। मुन्ना बजरंगी को कुख्यात सुनील राठी और विक्की सुनहेड़ा के साथ तन्हाई बैरक में रखा गया था। जिसके बाद सोमवार सुबह उनकी गोली मारकर हत्या कर दी गयी।

Apradhnama Munna Bajrangi ki Kahani

प्रमुख सचिव गृह अरविंद कुमार ने मुन्ना बजरंगी की हत्या किये जाने की पुष्टि की है। वहीं इस मामले में बागपत जेल के जेलर, डिप्टी जेलर समेत चार अन्य जेलकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया है। सुबह तकरीबन 6 बजे हुई घटना के बारे में बताया जा रहा है कि मुन्ना को 9 गोली मारी गयी हैं। वह चाय पीने के बाद नहाने गया था जिस दौरान उसे गोली मारी गयी। 

बजरंगी की पत्नी सीमा सिंह ने लखनऊ में 10 दिन पहले ही प्रेस कॉन्फ्रेंस कर उसकी हत्या की आशंका जताई थी। सीमा ने कहा था कि झांसी जेल में बंद माफिया मुन्ना बजरंगी का एनकाउंटर करने की साजिश हो रही है। सीमा के मुताबिक, यह सब एक एसटीएफ अधिकारी के इशारे पर हो रहा है। जिसके कहने पर ही जेल में बजरंगी को खाने में जहर देने की कोशिश तक की गई।


1967 में यूपी के जौनपुर जिले के पूरेदयाल गांव में जन्मे मुन्ना बजरंगी का नाम अपराध जगत में काफी चर्चाओं में शुमार था। यहीं नहीं उसने सियासत में भी हाथ आजमाया लेकिन उसे नाकामी ही हाथ लगी। दरसल मुन्ना बजरंगी का असली नाम प्रेम प्रकाश सिंह था। जिसके पिता पारसनाथ सिंह ने उसे पढ़ा लिखाकर बड़ा आदमी बनाने का सपना संजोया था। लेकिन उसने पांचवी के बाद पढ़ाई छोड़ दी और किशोर अवस्था में आते आते उसे कई ऐसे शौक ने अपनी गिरफ्त में लिया जो उसे जुर्म की दुनिया में आगे ले जाते गये। 

Apradhnama Munna Bajrangi ki Kahani
मुन्ना बजरंगी को हथियार रखने का बहुत शौक था। जिसके चलते वह फिल्मों की तरह बड़ा गैंगस्टर बनकर उभरना चाहता था। इसी शौक के कारण 17 साल की उम्र में उसके खिलाफ पहला मुकदमा दर्ज हुआ। जौनपुर के सुरेही थाने में दर्ज यह मुकदमा मारपीट और अवैध असलहा रखने से संबंधित था। इस मुकदमें के बाद मुन्ना ने अपराध जगत में अपनी पहचान बनाने की कोशिश की और उसे जौनपुर के स्थानीय दबंग माफिया गजराज सिंह का संरक्षण हासिल हुआ। मुन्ना गजराज के काम करने लगा और 1984 में लूट के दौरान उसने व्यापारी की हत्या कर दी। जिसके बाद गजराज के ही इशारे पर जौनपुर के बीजेपी नेता रामचंद्र सिंह की हत्या कर मुन्ना ने पूर्वांचल में अपना दमखम दिखाया। इसके बाद यह हत्याओं का सिलसिला आगे ही बढ़ता गया। 

साख बढ़ाने के लिए मुख्तार गैंग में हुआ शामिल 

पूर्वांचल में साख बढ़ाने और बड़े गैंगस्टर की तरह उभरने के लिए मुन्ना 90 के दशक में बाहुबली माफिया और राजनेता मुख्तार अंसारी के गैंग में शामिल हुआ। भले ही यह गैंग मऊ से संचालित होता था, लेकिन इसका असर पूरे पूर्वांचल में व्याप्त था। फिर मुख्तार के 1996 में सपा के टिकट पर मऊ से विधायक चुने जाने पर मुन्ना समेत पूरी गैंग की ताकत बढ़ गयी। मुन्ना सीधे तौर पर सरकारी ठेकों को प्रभावित करता गया और वह उसके निर्देशन पर काम करने लगे। 

Apradhnama Munna Bajrangi ki Kahani
 

भाजपा विधायक की हत्या के बाद सरगर्मी से हुई मुन्ना की तलाश 

बीजेपी विधायक कृष्णानंद राय की हत्या के बाद यूपी पुलिस की एसटीएफ और सीबीआई ने सरगर्मी से मुन्ना की तलाश शुरू की। उस पर सात लाख का इनाम रखा गया। मुन्ना लगातार अपनी लोकेशन बदलता रहता था जिसके चलते उसकी गिरफ्तारी को लेकर पुलिस टीमें खासा परेशान थी। पुलिस की इसी परेशानी ने मुन्ना की टेंशन बढ़ाई जिसके बाद यूपी में बिहार में रह पाना मुन्ना के लिए काफी मुश्किल हो गया। मुन्ना इसके बाद मुंबई चला गया और इस लंबा समय उसने वहां गुजारा। भले ही मुन्ना पुलिस की सख्ती के चलते मुंबई में था लेकिन उसने वहां भी अपना काम जारी रखा। विदेश जाने आने के साथ अंडरवर्ल्ड से मुन्ना के रिश्ते मजबूत होते चले गये। वह मुंबई से लोगों को निर्देशित कर यूपी में गैंग का संचालन करता रहा। जिसके बाद मुन्ना ने राजनीति में किस्मत भी आजमाई। मुन्ना लोकसभा चुनाव में गाजीपुर लोकसभा सीट पर अपना डमी उम्मीदवार खड़ा करने की कोशिश की। 

  जब खराब हुए मुन्ना और मुख्तार के संबंध 

दरसल मुन्ना गाजीपुर से एक महिला उम्मीदवार को टिकट दिलवाने की कोशिश कर रहा था। जिसके चलते मुन्ना के संबंध मुख्तार अंसारी से खराब होते चले गये। इसके बाद मुन्ना ने कांग्रेस का दामन थामा और कांग्रेस के कद्दावर नेता की शरण में चला गया। 

Apradhnama Munna Bajrangi ki Kahani
 

जब हुई मुन्ना बजरंगी की गिरफ्तारी 

मुन्ना के बढ़ते मुकदमें पुलिस के लिए परेशानी का सबब बन चुके थे। जिसके बाद 29 अक्टूबर 2009 को दिल्ली पुलिस ने नाटकीय ढ़ंग से मुन्ना को मुंबई के मलाड इलाके से गिरफ्तार किया। वहीं कहा यह भी जाता है कि मुन्ना को एनकाउंटर का डर सता रहा था जिसके चलते उसने खुद ही अपनी गिरफ्तारी करवाई थी। 
मुन्ना के जेल जाने के बाद भी जेल से ही धमकाने के कई मामले अक्सर चर्चाओं में शामिल होते रहे। मुन्ना ने स्वयं ही एक बार इस बात को स्वीकारा था कि उसने अपने 20 साल के अपराधिक जीवन में 40 हत्याएं की हैं। 

Web Title: Apradhnama Munna Bajrangi ki Kahani ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया