मुख्य समाचार
अमेठी: कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने धूम-धाम से मनाया राहुल गांधी का जन्मदिन एरिया कमांडर समेत 4 नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण हाईवे किनारे जड़ी बूटियां उगाकर यूपी सरकार सुधारेगी लोगों का स्वास्थ्य  लखनऊ: सीएम योगी ने लेखपालों को बांटे लैपटॉप लखनऊ में गर्मी का कहर, राज्य में 23 जून तक नहीं चलेंगे स्कूल अर्जुन पटियाला का पोस्टर्स हुआ रिलीज,फिल्म मे दिलजीत-कृति मुख्य भूमिका में पहली बार सांसद बने सनी देओल से हुई बड़ी चूक, जा सकती है लोकसभा की सदस्यता  सीवर सफाई करने चैंबर में उतरे दो कर्मचारी गैस से अचेत होकर डूबें, मौत नेहा धूपिया के चैट शो में पहुंची परिणीति चोपड़ा और सानिया मिर्जा गरीब मजदूर की मजदूरी नहीं दिला पा रही मलिहाबाद पुलिस इयोन मोर्गन ने तोड़ डाला छक्कों का सबसे बड़ा रिकॉर्ड, एक पारी में लगा दिए इतने छक्के संभल में भीषण सड़क हादसा, दो बच्चों समेत आठ की मौत सपा सांसद ने नहीं लगाया वंदे मातरम का नारा तो अखिलेश ने कह दी चौंकाने वाली बात मोदी सरकार ने किये ड्राइविंग लाइसेंस के नियमों में संशोधन, जानिए क्या है नियम? परिवहन मंत्री ने बांटे हेल्मेट, लोगों को किया जागरूक धर्मांतरण के विरोध में विहिप ने डीएम को सौंपा ज्ञापन महिला अपनी ताकत को पहचाने और समाज को यह संदेश दें कि नारी अबला नहीं अब सबला है : अनुपमा जायसवाल याचिका दायर कर पाकिस्तान की क्रिकेट टीम को बैन करने की मांग दलित हत्या मामले बहन जी के करीबी नेता को अखिलेश ने सौंपी अहम जिम्मेदारी प्रत्येक विकास खण्ड की दो पंचायतों को आदर्श पंचायत के रूप में विकसित किया जाय महिलाओं से जुड़ी समस्याओं के समाधान के लिए शिक्षा जरूरी : अनुपमा जायसवाल अवैध खनन मामले में दोषी पाए गए अधिकारी का तत्काल प्रभाव से स्थानान्तरण सड़क सुरक्षा सप्ताह के दूसरे दिन परिवहन मंत्री ने बांटे हेल्मेट, लोगों को किया जागरूक डीएम की बड़ी कार्रवाई, कानूनगो व लेखपाल सहित दो सस्पेन्ड यूपी में कमजोरों और बच्चियों की हत्याओं की आ गई है बाढ़ : अखिलेश क्रिकेट के बाद अब राजनीति की पिच पर भी पाकिस्तान को लग सकता है ये तगड़ा झटका अवैध रूप से संग्रह किये मिट्टी के तेल के साथ एक युवक गिरफ्तार निर्धनों को शिक्षा प्रदान करने के लिए होना चाहिए ह्यूमन टच : राज्यपाल पिता मुलायम को व्हील चेयर पर लेकर लोकसभा पहुंचे अखिलेश यादव
 

बलरामपुर अस्पताल में इंजेक्शन लगने के बाद 7 मरीजों की हालत बिगड़ी


NP1484 19/07/2018 16:41:11
210 Views

Lucknow.  राजधानी के बलरामपुर अस्पताल में गुरूवार को वार्ड में भर्ती सात मरीजों को गलत इंजेक्शन लगने से तबीयत बिगड़ गयी। इतना ही नहीं एक मरीज की हालत ज्यादा बिगडऩे पर डॉक्टरों को तत्काल उसको आईसीयू में भर्ती करना पड़ा। फिलहाल 6 मरीजों की हालत स्थिर बतायी जा रही है।

 7 patients get sick after injection in Balrampur hospital

यह भी पढ़ें...अविश्वास प्रस्ताव पर मोदी के फेर में फंसा विपक्ष, इस तरह करेगी बीजेपी सबको ढेर

बलरामपुर अस्पताल के वार्ड नंबर -2 में भर्ती मायआलम (35) पंकज सिंह (15) सुरेश,विकास (20) के परिजनों ने इंजेक्शन लगने के बाद हालत बिगडऩे व इलाज में लापरवाही का आरोप लगाया । वहीं कुछ मरीजों के परिजन हंगामा करने लगे। जिसके बाद हरकत में आये अस्पताल प्रशासन ने एक मरीज को आईसीयू में भर्ती कराया। साथ ही वार्ड का दरवाजा बंद कर पांच गार्ड तैनात करा दिये। जिससे कोई परिजन अंदर न जा सके।

  पहला मामला

लखनऊ के मउजिया निवासी मायआलम को बुखार की समस्या होने पर परिजनों ने बीते दो दिन पहले अस्पताल में भर्ती कराया था। परिजनों के मुताबिक हालत में सुधार भी हो रहा था। लेकिन गुरूवार सुबह वार्ड ब्वाय द्वारा मरीज को इंजेक्शन लगाते ही हालत बिगडऩे लगी। जिसके बाद परिजनों ने जमकर हंगामा किया। हंगामे के बाद अस्पताल प्रशासन ने मायआलम को आईसीयू में भर्ती कर इलाज शुरू कराया। मायआलम के भाई शादाब की माने तो इंजेक्शन लगने के बाद उनके भाई समेत 6 और लोगों की हालत बिगड़ी थी। 

  दूसरा मामला

 7 patients get sick after injection in Balrampur hospital

राजधानी के गोसाईगंज निवासी पंकज को बुखार आ रहा रहा था। मरीज की बुआ सावित्री देवी ने बताया कि गुरूवार सुबह वार्ड ब्वाय ने जैसे ही इंजेक्शन लगाया। बच्चे की हालत बिगड़ गयी ,उल्टीयां शुरू हो गयी। उसके बाद चिकित्सकों ने इलाज शुरू किया । अब हालत ठीक है।

यह भी पढ़ें...मलिष्का ने फिर BMC को निशाने पर लेते हुए बताया मुंबई का झिंगाट हाल

  तीसरा मामला

 7 patients get sick after injection in Balrampur hospital

लखीमपुर निवासी सुरेश के पेट में दर्द की शिकायत पर परिजनों ने बुधवार को बलरामपुर अस्पताल में भर्ती कराया था। परिजनों की माने तो गुरूवार को इंजेक्शन लगने के बाद ही मरीज को जाड़ा लगने लगा साथ ही उल्टीयां होने लगी। बाद में चिकित्सकों ने दोबारा इलाज शुरू किया तब जाकर हालत सुधरी।

  चौथा मामला

 7 patients get sick after injection in Balrampur hospital

बाराबंकी निवासी विकास के परिजनों की माने तो इंजेक्शन लगने के बाद मरीज की हालत बिगड़ गयी। लेकिन इलाज के बाद अब सुधार है।

  वार्ड में तैनात किये गार्ड

मरीजों को गलत इंजेक्शन लगने की सूचना जैसे ही अस्पताल प्रशासन को लगी । उसके बाद ही तत्काल वार्ड का दरवाजा बंद करा दिया गया। साथ ही वहां पर पांच गार्ड तैनात कर दिये गये। गार्डो ने पूरा वार्ड खाली करा दिया। मरीजों के बुजुर्ग तीमारदारों को भी बाहर  धूप में बैठा दिया। किसी को भी मरीजों से मिलने की इजाजत नहीं दी।

वर्जन

एक मरीज को बुखार ज्यादा आ रहा था। जिसकी वजह से उसे झटके आ रहे थे। उसे उचित इलाज दिया गया,वह ठीक है। बाकी मरीजों को कोई समस्या नहीं है। गलत इंजेक्शन लगने की बात कोरी अफवाह है। इस बात में कोई दम नहीं है।

डा.राजीव लोचन,निदेशक,बलरामपुर अस्पताल

Web Title: 7 patients get sick after injection in Balrampur hospital ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया