मुख्य समाचार
बाढ़ और बारिश से बेस्वाद हुई दाल, टमाटर हुआ लाल, इन सब्जियों के बढ़े 50 फीसदी दाम मॉब लिंचिंग पर सपा सांसद का बड़ा बयान, कहा- पाकिस्तान न जाने की सजा भुगत रहे हैं मुसलमान अब इस दिग्गज ने की प्रियंका के नाम की वकालत बाढ़ से बेहाल असम-बिहार, ताजा तस्वीरों में देखें तबाही का मंजर पीड़ितों ने कौन सा अपराध किया जो उन्हें मुझसे मिलने से रोका जा रहा : प्रियंका AKTU : यूपीएसईई – 2019 की काउंसलिंग का तीसरा चरण आज से शुरु ICC के फैसले से सदमे में जिम्बाब्वे की टीम प्लेसमेंट ड्राइव में 5 से 7 लाख के पैकेज के साथ आई कंपनी, 120 छात्र-छात्राओं ने किया प्रतिभाग मंचीय कविता के आखिरी स्तम्भ थे नीरज : लक्ष्मी नारायण चौधरी एजाज खान के अरेस्ट होने के बाद ट्वीटर पर छाए मीम्स- यूजर्स बोले... ग्रामीण क्षेत्रों में भी किया जाना चाहिए मैंगो फूड फेस्टिवल का आयोजन : डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा तेजबहादुर की याचिका पर पीएम मोदी को नोटिस हंगामे की भेंट चढ़ा विधानसभा के मानसून सत्र का पहला दिन  प्रियंका को लेकर चुनार पहुंची पुलिस; सैकड़ों की संख्या में कांग्रेस समर्थक मौजूद नारेबाजी जारी लखनऊ में शिवसेना का सदस्यता अभियान शुरू  जिला पंचायत सदस्य पर प्लाट कब्जाने का आरोप, एंटी भूमाफिया पोर्टल पर शिकायत  टैंपो चालकों ने किया हंगामा, भाजपा सांसद के पुत्र के करीबियों और पुलिस पर लगा वसूली का आरोप  फोरम के आदेश की नाफरमानी लखनऊ डीएम को पड़ी भारी, वेतन रोकने के आदेश अजय कुमार लल्लू बोले - जमीनी विवाद नहीं, सामूहिक नरसंहार है घोरावल कांड जमीनी विवाद नहीं, सामूहिक नरसंहार है घोरावल कांड : अजय कुमार लल्लू सुरक्षा प्रबंध सराहनीय हैं, लेकिन मेरी सुरक्षा का दायरा कम से कम रखें : प्रियंका वाड्रा
 

#Governor_of_UP : राज्यपाल को आज भी यूपी में बेहतर कानून- व्यवस्था का है इंतजार


SUJEET KUMAR 21/07/2018 10:21:08
282 Views

Lucknow. उत्तरप्रदेश के राज्यपाल रामनाईक का 22 जुलाई को चार साल का कार्यकाल पूरा हो रहा है। इस मौके पर राजधानी के राजभवन के गांधी सभागार में एक कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया है। रामनाईक ने 22 जुलाई 2014 को यूपी के राज्यपाल का पद ग्रहण किया था। 84 साल की उम्र पार कर चुके राज्यपाल का काम करने का जोश व जज्बा देखते ही बनता है। 

Governor of UP Ram Naik

  कानून-व्यवस्था में सुधार की बात कही

राज्यपाल ने साल में मिलने वाली 20 छुट्टियों का भी कम इस्तेमाल किया है। उन्होंने पहले साल 10 और दूसरे साल नौ दिन की छुट्टी ली है। इसके बाद तीसरे व चौथे साल उन्होंने कोई छुट्टी नहीं ली है। रामनाईक का कहना है कि  उन्होंने अखिलेश सरकार में कानून-व्यवस्था में सुधार की बात कही थी, और आज भी वह योगी सरकार में इसी बात को दोहरा रहे हैं, क्योंकि यूपी में उन्हें अबतक कानून-व्यवस्था में सुधार नजर नहीं आया है।  

Governor of UP Ram Naik

   संसद में प्रारंभ करवाया ‘वंदे मातरम’ और 'जन गण मन'

राम नाईक ने संसद में ‘वंदे मातरम’ और 'जन गण मन' का गान प्रारंभ करवाया। उनके प्रयासों के फलस्वरूप ही अंग्रेज़ी में ‘बॉम्बे’ और हिन्दी में ‘बंबई’ को उसके असली मराठी नाम ‘मुंबई’ में परिवर्तित करने में सफलता मिली। संसद के दोनों सदनों के सत्र की शुरुआत में जन गण मन और समापन पर वंदेमातरम की परंपरा का शत-प्रतिशत श्रेय रामनाईक को है।

Governor of UP Ram Naik 

   राम नाईक का परिचय 
राम नाईक का जन्म 16 अप्रैल 1934 को महाराष्ट्र के सांगली में हुआ था। उन्होंने सांगली ज़िले के आटपाडी गांव से विद्यालयीन शिक्षा ग्रहण की । इसके बाद पुणे में बृहन् महाराष्ट्र वाणिज्य महाविद्यालय से 1954 में बी. कॉम और मुंबई में किशनचंद चेलाराम महाविद्यालय से 1958 में एल. एल. बी. की स्नातकोत्तर शिक्षा प्राप्त की।

Web Title: Governor of UP Ram Naik ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया