मॉब लिंचिंग पर पीएम संसद में कुछ नहीं बोले, इन पर छोड़ दिया मुद्दा


RAGHVENDRA CHAURASIA 21/07/2018 12:47:11
342 Views

New Delhi. संसद में अविश्वास प्रस्ताव से पहले सत्त्ता पक्ष व विपक्ष में जमकर बहस बाजी हुई।  विपक्ष के सवालों के जवाब में पीएम मोदी ने लंबा चौड़ा भाषण दिया था। वहीं पीएम मोदी ने मॉब लिंचिंग मामले पर संसद में कुछ नहीं बोला। 

The PM did not say anything in Parliament on Mob Leaching, left on the states,

यह भी पढ़ें...गो-तस्करी के शक में एक व्यक्ति की पीट-पीट कर हत्या

राहुल ने कहा था कि खुलेेेे आम मारा-पीटा जा रहा

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने संसद में पीएम मोदी पर जमकर निशाना साधा। राहुल ने देश के गंभीर मुद्दे सदन में उठाया और सरकार को कोसा। राहुल ने मॉब लिंचिंग मामले पर सदन में कहा ​कि कहा देश में खुलेआम लोगों को मार दिया जा रहा है।

पीएम मोदी ने देर रात में विपक्ष के सवालों का बारीकी से जवाब दिया। मगर पीएम ने मॉब लिंचिंग मामले पर उतना नहीं बोले जितना उन्हें बोलना चाहिए। देश में मॉब लिंचिंग मामला जैसा अपराध होना छोटी घटना नहीं है मगर पीएम ने इस मामले पर ज्यादा रुचि नहीं दिखार्ई। पीएम ने राज्यों को निर्देश दिया कि जो भी इस मामले में शामिल हो उन पर कार्रवाई की जानी चाहिए। वहीं देश के गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि सबसे ज्यादा मॉब लिंचिंग 1984 के दंगो में हुई। 

सुप्रीम कोर्ट ने इस पर सख्त कानून बनाने का दिया था निर्देश

मॉब लिंचिंग मामले पर दो दिन पूर्व सुप्रीमकोर्ट ने संसद को सख्त कानून बनाने का आदेश दिया था। कोर्ट ने कहा था कि यह अपराध बड़ा है इसको ढिलाई नहीं बरती जा सकती। कोर्ट ने कहा था कि जो भीड़ तंत्र का शिकार पीड़ित को मुआवजे का इंतजाम किया जाए। मगर संसद में पीएम ने सख्त कानून बनाने व मुआवजे पर पीएम ने कुछ न बोलकर इस मामले को राज्यों पर छोड़ दिया। 

आपको बता दें कि शुक्रवार रात में राजस्थान के अलवर जिले में मॉब लिंचिंग का मामला सामने आया है। गोहत्या की शक में एक व्यक्ति को मार दिया गया है।

यह भी पढ़ें...लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी को करारा झटका,आडवाणी के करीबी ने दिया इस्तीफा..

 

Web Title: The PM did not say anything in Parliament on Mob Leaching, left on the states, ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया