हत्याओं के खिलाफ युवा रालोद का कैंडल मार्च, BJP व आरएसएस पर संरक्षण का आरोप


SHUBHENDU SHUKLA 26/07/2018 00:12:21
427 Views

Lucknow. देशभर में बढ़ रही भीड़तंत्र द्वारा हत्याओं के खिलाफ युवा राष्ट्रीय लोकदल पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने कैंडल मार्च निकालकर विरोध दर्ज कराया। साथ ही भाजपा-आरएसएस पर घटनाओं को संरक्षण देने का आरोप लगाया है। युवा रालोद ने अलवर में हुई माब लीचिंग घटना के सीबीआई जांच की मांग की है। कैंडल मार्च निकाल रहे लोगों ने मोदी सरकार के खिलाफ हाथों में स्लोगन लिए विरोध दर्ज कराया और जमकर नारेबाजी भी की। 

Young Ralod candle march against killings

यह भी पढ़ें...यूपी SRTC में फर्जी एफिडेविट पर नौकरी का खेल, भ्रष्टाचार में मस्त अधिकारी

  सख्त कानून की मांग

रालोद के प्रदेश मुख्यालय से जीपीओ तक कार्यकर्ताओं ने कैंडल मार्च निकाला और नफरत की राजनीति करने वालो पर सख्त कानून बनाने की मांग रखी। भाजपा शासित राज्यों राजस्थान, झारखण्ड, हरियाणा, महाराष्ट्र सहित उत्तर प्रदेश में भीड़तंत्र द्वारा एक ही समुदाय के लोगों को कथित रूप से गौरक्षा के नाम पर हत्या करने को सरकार के संरक्षण में हुई हत्या करार दिया। रालोद ने संविधान में नफरत की राजनीति करने वालो के खिलाफ भी सख्त कानून बनाने की मांग की है।

  घटनाएं षड्यंत्र 

युवा रालोद के प्रदेश अध्यक्ष अम्बुज पटेल ने कहा कि मोदी सरकार मुद्दों से ध्यान हटाने के लिए षड्यंत्र के तहत ऐसी घटनाओं को अंजाम दिलवा रही है ताकि लोगों को गुमराह किया जा सके। उन्होंने कहा भारत के इतिहास का यह सबसे खराब दौर है। जिसमें नफरत की राजनीति को बढ़ावा दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि राजस्थान की भाजपा की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को ऐसी घटनाओं की नैतिक जिम्म्मेदारी लेकर इस्तीफा दे देना चाहिए। युवा रालोद के राष्ट्रीय महासचिव ऐश्वर्य राज सिंह ने कहा कि भाजपा राज में निर्दोष लोगों को मौत के घाट उतारा जा रहा है, यह शर्मनाक है। उन्होंने कहा कि मोदी जी को इन घटनाओं पर भी देश को जवाब देना चाहिए।

यह भी पढ़ें...पोल खोल धावा बोल अभियान से सरकार में खलबली: जयंत चौधरी

  अराजकता पूर्ण माहौल

युवा रालोद के प्रदेश उपाध्यक्ष अश्विनी प्रताप सिंह ने कहा कि निरन्तर देश व प्रदेश में कभी गौरक्षा के नाम पर तो कभी लवजिहाद के नाम पर अराजकता फैलाई जा रही है। समाज में इस वजह से भय व्याप्त है। युवा राष्ट्रीय लोकदल अपने पार्टी के आदर्शों पर चलकर नैतिकता के आधार पर सरकार के खिलाफ युवाओं के एकत्रित कर एक नये आन्दोलन की रूपरेखा तय करेगा। जियाउर्रहमान ने कहा कि मोदी सरकार और भाजपा के संरक्षण में गौरक्षा के नाम पर आतंक फैलाकर लोगों को गुमराह किया जा रहा है। भाजपा के मंत्री ऐसे लोगों का स्वागत कर उन्हें बढावा दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा की नफरत की राजनीति लोग समझ चुके हैं 2019 में भाजपा का सफाया तय है।

  ये रहे मौजूद

इस दौरान छात्र प्रकोष्ठ के प्रदेष अध्यक्ष अभिषेक सिंह चौहान, शशांक श्रीवास्तव, भगवती प्रसाद सूर्यवंशी, रत्ना पाण्डेय, महबूब आलम, रिंकू पाण्डेय, नवीन पाठक, दानिश, शहरयार, मनोज सिंह चौहान, बीएल प्रेमी, रमावती तिवारी, प्रीति श्रीवास्तव, चन्द्रकांत अवस्थी, अभिषेक बाजपेई, विनीत सिंह, अनिल वर्मा, रविन्द्र पटेल, सुमित सिंह, मुन्ना डीजल, ओमप्रकाष वर्मा, विनय कुमार, मनोहर मौर्या, जकी हसन, अजय मिश्रा, लाल बाजपेई सहित कई नेता मौजूद रहे।

Young Ralod candle march against killings

Web Title: Young Ralod candle march against killings ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया