मुख्य समाचार
शाकिब ने रचा इतिहास, वर्ल्‍ड कप में कपिल-युवराज के रिकॉर्ड की बराबरी की क्षेत्र-जिला पंचायत सदस्यों के रिक्त पदों पर उप निर्वाचन के लिए समय सारणी जारी  Tik Tok वीडियो से सुर्खियों में आई पीली साड़ी वाली महिला जेनेलिया डिसूजा के पैर दबाते रितेश देशमुख का वीडियो वायरल, यूजर्स ने कहा... जल्द ही 100 करोड़ का आंकड़ा छू सकती फिल्म कबीर सिंह सपा संरक्षक की होगी सर्जरी, इस गंभीर समस्या से जूझ रहे हैं मुलायम कोल्ड ड्रिंक पीने से एक ही परिवार के 5 लोग पहुंचे अस्पताल, फिलहाल खतरे से बाहर इटौंजा प्रकरण : एसएसपी ने कॉस्टेबल को किया लाइन हाजिर, चौकी प्रभारी व थानाध्यक्ष पर भी कार्रवाई प्रचलित  राजस्थान: बीजेपी प्रमुख मदन लाल सैनी का लंबी बीमारी के बाद निधन दो पक्षों में विवाद के बाद जमकर चले लाठी डंडे, वीडियो वायरल
 

पूर्व सीएम ने व्यापारियों से की मुलाकात, कहा - हम आपके आप हमारे हैं


GAURAV SHUKLA 01/08/2018 09:22:14
386 Views

Lucknow. समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मंगलवार पश्चिमी उत्तर प्रदेश के व्यापारियों के एक दल से वार्ता में कहा कि हम आपके हैं और आप हमारे हैं। भाजपा की सरकार में नोटबंदी जीएसटी के साथ छापेमारी, नोटिस देने जैसी तमाम यातनाएं व्यापारियों को मिल रही है। व्यापारियों को जेल भी भेजा जा रहा है। सत्ता में बने रहने के लिए भाजपा कुछ भी कर सकती हैं इसलिए इससे सावधान रहना होगा। वह कोई भी झगड़ा लगा सकती है। 

Akhilesh Yadav ne vyapariyo se ki mulakat
अखिलेश यादव ने कहा कि व्यापार और व्यापारी पर संकट की स्थिति में सरकार को मदद करनी चाहिए। लेकिन भाजपा को इसकी चिंता नहीं है। 40 हजार व्यापारी भारत को छोड़कर विदेश चले गए हैं। व्यापारियों में लूट, अपहरण और हत्या के कारण भारी असुरक्षा है। उनकी समस्याएं सुनी नहीं जा रही है। प्रधानमंत्री जी सिर्फ अपने मन की बातें करते हैं। मुख्यमंत्री जी ने अपराध नियंत्रण के लिए बनी यूपी डायल 100 व्यवस्था को शिथिल कर दिया क्योंकि उसे समाजवादी सरकार ने शुरू किया था। 

यह भी पढ़ें... खतना पर सुप्रीम कोर्ट : महिलाओं का जीवन सिर्फ शादी और पति को खुश करने के लिए नहीं
संसद में भाजपा के 73 सांसद है और उत्तर प्रदेश विधानसभा में उसका 324 विधायकों का बहुमत है। केन्द्र सरकार 5 और राज्य सरकार 2 बजट ला चुकी है लेकिन इससे विकास का कोई काम नहीं हुआ है। जीएसटी की जटिलता को सरल करने की दिशा में कोई कदम नहीं उठाया गया है। भ्रष्टाचार में वृद्धि हुई है। भाजपा की कुनीतियों ने भारत की अर्थव्यवस्था को पीछे कर दिया है। 
पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वदेशी आंदोलन को जीएसटी से धक्का लगा हैं। हम इसे घोषणा पत्र में शामिल करेंगे। व्यापारियों के लिए सुरक्षा सेल बननी चाहिए। समाजवादी सरकार में मंडियों की व्यवस्था की गई थी जिससे व्यापारी और किसान दोनों को सुविधा होती। व्यापार की प्रगति में सड़क और बिजली की जरूरत को देखते हुए समाजवादी सरकार ने कई कदम उठाए थे। उन्होंने कहा व्यापार के लिए नीति, नीयत और सुरक्षा के साथ सुविधा होना आवश्यक है। भाजपा राज में यह सब होना उनके तमाम दावों की तरह असम्भव है। इसलिए आक्रोशित बस 2019 में होने वाले चुनावों के इंतजार में है। 
विधायक संजय गर्ग की उपस्थिति में अखिलेश यादव से भेंट करने आए व्यापारियों ने कहा कि उनका भरोसा अखिलेश जी के नेतृत्व पर है। विश्वास है कि राज्य का भला श्री यादव ही कर सकते हैं। समाजवादी पार्टी उनके हितों की संरक्षा करती है। समाजवादी सरकार में ही चुंगी समाप्त हुई थी और धारा 3/7 हटाई गई थी। व्यापारियों का मानना है कि अखिलेश यादव जी की सोच भी विकासशील और सकारात्मक है। व्यापारी नेताओं ने कहा कि उनका समर्थन समाजवादी पार्टी के साथ रहेगा। वर्ष 2019 और 2022 के चुनावों में समाजवादी पार्टी को व्यापारी जिताएंगे।

 Akhilesh Yadav ne vyapariyo se ki mulakat
व्यापारी नेताओं ने कहा कि आज व्यापारी सड़क पर है। व्यापार ठप्प है और व्यापारी अपने को ठगा हुआ महसूस कर रहा है। भाजपा सरकार में भ्रष्टाचार और अपराधों का बोलबाला है। व्यापारी लूट, हत्या, अपहरण और फिरौती की घटनाओं से बुरी तरह त्रस्त हैं। भाजपा ने व्यापार की रीढ़ तोड़ दी है। नोटबंदी और जीएसटी से व्यापारियों में घोर निराशा है। वे उद्वेलित और उलझन में हैं। इस बजट से सैकड़ों व्यापारी अवसाद के शिकार हुए है। गुड-खांडसारी व्यापारी भी परेशान है। भाजपा ने उन्हें बर्बाद कर दिया है। 

यह भी पढ़ें... खतना पर सुप्रीम कोर्ट : महिलाओं का जीवन सिर्फ शादी और पति को खुश करने के लिए नहीं
पश्चिमी उत्तर प्रदेश के व्यापारी नेताओं ने भूतपूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से कहा कि आप गौपालक हैं तो हम गौपूजक हैं। मगर भाजपा तो रागद्वेष से काम करती है और हिन्दू-मुसलमान का मुद्दा उठाकर जनता में भ्रम पैदा करती है। उन्होंने कहा कि किसानों और व्यापारी वर्ग के हित परस्पर जुड़े हैं। श्रमिकों में बेकारी फैली हुई है। श्रमिकों का हित भी व्यापार से जुड़ा हुआ है। भाजपा सरकार में जहां व्यापारी त्रस्त है वहीं किसान तबाह है और श्रमिकों को बेकारी का शिकार होना पड़ा है। इस दौरान श्याम सुन्दर अग्रवाल (गाजियाबाद), अभिमन्यु गुप्ता (बागपत), संजय मित्तल (मुजफ्फरनगर), मोहलडमल गर्ग (सहारनपुर), प्रो0 योगेश कुमार गुप्ता (सहारनपुर), जीतेन्द्र गोयल (हापुड़), विनोद अग्रवाल (आगरा), राजेन्द्र सिंघल (मुजफ्फरनगर), श्याम मोहन अग्रवाल (मुरादाबाद), प्रमोद जैन (बड़ौत) समेत तमाम लोग मौजूद थे। 

Web Title: Akhilesh Yadav ne vyapariyo se ki mulakat ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया