मायावती के इस बयान से खुली बीजेपी की पोल, चुनाव के लिए कर रही राजनीति


SHUBHENDU SHUKLA 04/08/2018 00:24:54
1848 Views

Lucknow. केन्द्र सरकार के चार साल बाद संसद में पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा देने का विधेयक लाने को लेकर बसपा सुप्रीमो ने जमकर हमला बोला। मायावती ने कहा कि यह सब बीजेपी सरकार चुनावी स्वार्थ साधने के लिए कर रही हे। बीजेपी का चऱित्र हमेशा से पिछड़ों का विरोधी ही रहा है। यह काम तो सरकार बनने के एक साल बाद ही किया जा सकता था। पिछड़े वर्गों का विरोधी होने के कारण ही बीजेपी ने मण्डल आयोग की रिपोर्ट जब लागू हो रही थी तो इसका पुरजोर विरोध किया था। जो काम सरकार को पहले ही कर लेने थे, उसे वोट बैंक बनाने के लिए जनता के सामने दिखावा कर रही है। हालांकि, उन्होंने इस विधेयक का स्वागत भी किया है। 

Mayawati speaks Attack on BJP in case of backward class Bill

 यह भी पढ़ें...लोकसभा चुनाव: BJP ने BSP को कमजोर करने के लिए खेला बड़ा दांव, इस प्रस्ताव को मंजूरी...

  दिखाएं ईमानदारी 

मायावती ने कहा कि दलितों व आदिवासियों के संवैधानिक व कानूनी अधिकारों को नकारने और जुल्म ढहाने की बजाए भाजपा सरकारों को थोड़ी  ईमानदारी अवश्य दिखानी चाहिये। न केवल राजनीति बल्कि शिक्षा व सरकारी नौकरियों में भी आरक्षण का कोटा खली कराकर हक छीनना चाहिए।  हर स्तर पर पिछड़ों के लिए आरक्षण की व्यवस्था होनी चाहिए। उन्होंने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि आदिवासियों की तरह अन्य पिछड़े वर्गों (ओबीसी) को भी चुनाव के दौरान छलने की कोशिश की जा रही हे। 

  यह भी पढ़ें...मायावती का नया चक्रव्यूह, कांग्रेस से मिलकर इस पार्टी का साथ! विराधियों में हड़कंप

  ओबीसी रहें सावधान

मायावती ने यह भी कहा कि ओबीसी वर्गों को भाजपा से सावधान रहने की जरूरत है। सरकार के इनको छलने का प्रयास कर रही है।यदि भाजपा सरकार की नियत साफ होती तो केन्द्र की मोदी सरकार सत्ता के एक साल बाद ही यह काम कर सकती थी। 

Mayawati speaks Attack on BJP in case of backward class Bill

Web Title: Mayawati speaks Attack on BJP in case of backward class Bill ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया