मुख्य समाचार
 

चीन अपनी हरकत से नहीं आया बाज,एक साल बाद फिर गाड़े डोकलाम में तंबू


RAGHVENDRA CHAURASIA 14/08/2018 17:04 PM
177 Views

New Delhi. डोकलाम कब्जे को लेकर चीन एक बार फिर आगे बढ़ आया है। चीन ने डोकलाम में तंबू गाड़ लिए हैं। बताया जा रहा है कि चीनी सेना ने पिछले माह लद्दाख में भारतीय जमीन पर पांच तंबू लगाए हैं। इस खबर से देश मे एक बार मामला गरमा गया है। 

China did not come from its act, but after one year, the tents in Daulam

यह भी पढ़ें..ताजा खबरों को मोबाईल पर पाने के लिए यहां क्लिक करें।

चीनी सेना ने तंबू डेमचोक सेंटर पर लगाया

डोकलाम में पिछले वर्ष चीन की ओर से की गई घैसपैठ के बाद मामला गरमा गया था। दोनों देशोें के बीच इस विवाद को लेकर बातचीत हुई थी। माना जा रहा था कि चीन भारत की जमीन पर कभी घुसपैठ जैसी हरकत नहीं करेगा। मगर चीनी सेना ने पिछले माह लद्दाख के डेमचोक सेक्टर में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) से 400 मीटर अंदर आकर पांच तंबू गाड़ लिए हैं। 

बिग्रेडियर के वार्ता के बाद चीन ने तीन तंबू हटाए

सेना से जुड़े सूत्रों के अनुसार सोमवार को जानकारी दी कि चीन ने चेरडोंग व नरलोंग नालान क्षेत्र के पांच में से तीन तंबुओं को वहां से हटा दिया है। चीन ने तीन तंबू दोनों देशों की सेनाओं के बिग्रेडियर की वार्ता के बाद हटाया है। मगर अभी डोकलाम में चीन के दो तंबू मौजूद है उसके अंदर चीनी सैना के जवान कई जवान हैं। खबरों के मुताबिक अधिकारियों ने जब चीनी सेना के जवानों से बात करने की कोशिश की तो उन्होंने बोलने से मना कर दिया। 

भेष बदलकर अंदर आए ​थे सैनिक

सेना के सूत्रो के हवाले से खबर है ​कि चीनी सेना यानी पीएलए के सैनिक जुलाई के प्रथम सप्ताह में कुछ जानवरों के बहाने भेष बदलकर भारत की धरती में एंट्री किये थे। चीनी सैनिकों को चीन खदड़ने के लिए भारतीय सैनिकों ने कई बार बैनर​ ड्रिल चलाया इसके बाद भी वे वहां से नहीं गए। 

यह भी पढ़ें..बड़ी ख़बर: तीन राज्यों में कांग्रेस की सुनामी में बह जाएगी भाजपा, बड़े सर्वे में चौकाने वाला खुलासा

 

Web Title: China did not come from its act, but after one year, the tents in Daulam ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया