महागठबंधन में जा रहा मोदी सरकार का बड़ा सहयोगी दल, भाजपा में मचा हड़कंप


UMENDRA SINGH 27/08/2018 10:32:30
3638 Views

New Delhi. चुनाव करीब आते-आते ही सियासत ने नये रंग और नये कलेवर दिखाने शुरू कर दिये हैं। जो सहयोगी दल कल तक साथ थे, चुनाव सिर पर आते ही राह बदलने को खड़े हैं। हर दल अपना नफा-नुकसान तौल कर एक-दूसरे का साथ छोड़ रहा है। अब भाजपा का एक बड़ा सहयोगी दल एनडीए का साथ छोड़कर महागठबंधन में जा सकता है। आइए आपको बताते हैं इस बात का इशारा कहां से मिला है।

mahagathbandhan modi news

  कौन सी है वो पार्टी जो थाम सकती है महागठबंधन का हाथ

हम जिस बड़े सहयोगी दल की बात कर रहे हैं जो भाजपा नीत एनडीए को बड़ा झटका देने जा रहा है वो कोई और नहीं बल्कि राष्ट्रीय लोक समता पार्टी है। जी हां यह पार्टी एनडीए की बड़ी सहयोगी पार्टी रही है और मोदी सरकार में भी इसके नेता मंत्री बने। इस पार्टी के अब महागठबंधन से हाथ मिलाने की संभावना है।

mahagathbandhan modi news

  इस वजह से लग रहे एनडीए से नाता तोड़ने के कयास

राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा हैं। उनके एक बयान ने इतना बड़ा इशारा कर दिया है जिससे तस्वीर साफ हो गयी है। उन्होंने पटना में शनिवार को बयान दिया कि अगर यादवों का दूध और कुशवाहा का चावल मिल जाये तो खीर बहुत अच्छी बनेगी।

mahagathbandhan modi news

  इस पार्टी के साथ जाने की ओर कर दिया इशारा

उपेन्द्र कुशवाहा ने जिस पार्टी की ओर इशारा किया है वो कोई और नहीं बल्कि लालू यादव की पार्टी राजद है जो महागठबंधन का हिस्सा है। राजद को यदुवंशियों की पार्टी माना जाता है, वहीं कुशवाहा समाज से उनका इशारा खुद का है। कुशवाहा लोग खेती ज्यादा करते हैं इसलिए चावल की बात उन्होंने कही है।

  इस वजह से एनडीए से दूर जाना चाह रहे हैं कुशवाहा

उपेन्द्र कुशवाहा असल में जदयू से दुश्मनी रखते हैं और नीतिश कुमार के विरोधी हैं। जबसे जदयू की महागठबंधन में वापसी हुई है तबसे उनका एनडीए में कद घट गया है। इसी वजह से वो एनडीए से अलग होकर बिहार में राजद के साथ मिलकर बिहार में अपना कद बढ़ाना चाहते हैं।

Web Title: mahagathbandhan modi news ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया