शिक्षकों ने सिर मुंडवाकर और भीख मांगकर जताया विरोध


SHUBHENDU SHUKLA 05/09/2018 14:01:13
722 Views

Lucknow. शिक्षक दिवस के मौके पर राजधानी में माध्यमिक वित्तविहीन शिक्षकों ने हजरतगंज स्थित गांधी प्रतिमा पर सर मुंडवाकर व हाथ में कटोरा लेकर भीख मांगकर सरकार के खिलाफ अनदेखी का आरोप लगाते हुए जमकर विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान भारी संख्या में पुलिस बल तैनात रही। जिसके बाद पुलिस ने सबको को हिरासत में लेकर धरना स्थल इको गार्डन भेज दिया। वित्तविहीन शिक्षक महासभा के शिक्षको का कहना है कि सरकार ने जो सामान्य कार्य का समान वेतन बंद कर दिया है, उसके विरोध में निरंतर हम लोग प्रदर्शन करते चले आए हैं। लेकिन अभी तक हमारी मांगे नहीं मानी गई। जिसको लेकर शिक्षक दिवस को भिक्षक दिवस के रूप में मनाने का काम किया है।

Secondary Finance Teachers protested on teacher day

यह भी पढ़ें...JEE Mains के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू, ऐसे करें आवेदन

  ये है मामला

शिक्षकों का कहना है कि लंबे समय से अपनी मांग को लेकर लगातार वित्त विहीन शिक्षक सरकार को अवगत कराते चले आ रहे हैं। बावजूद इसके सरकार वित्तविहीन शिक्षकों का ध्यान नहीं दे रही है। जिसको लेकर शिक्षक दिवस पर वित्तविहीन शिक्षकों ने सैकड़ों की संख्या में इकट्ठा होकर हजरतगंज स्थित गांधी प्रतिमा पर विरोध प्रदर्शन किया और सिर मुंडवाकर  कटोरा लेकर भीख भी मांगी। उनका कहना कि हमारी मांग है कि समान कार्य का समान मानदेय दिया जाए।

  भुखमरी की स्थिति

शिक्षक उपेंद्र ने कहा की शिक्षक जो समाज को आइना दिखाता है और ईमानदारी का पाठ पढ़ाता है, उसका आज मानदेय यह कह कर योगी सरकार ने बंद कर दिया कि यह शिक्षकों को एक प्रकार से दिया जाने वाला भीख था। मानदेय बंद होने से लाखो शिक्षकों और उनके परिवार के सामने भुखमरी की स्थिति उत्पन्न हो गयी है। उनके लिए  योगी सरकार क्या कर रही है। साथ ही आज सैकड़ों की तादाद में शिक्षकों और कटोरा लेकर सरकार से भीख मांगने की बात कही।

यह भी पढ़ें... राम स्वरूप मेमोरियल पब्लिक स्कूल में छात्रा से अश्लीलता, लीपापोती में जुटी पुलिस

  ये हैं मांगे

उन्होंने बताया कि महासभा अपनी नौ सूत्री मांग वित्तविहीन शिक्षकों और कर्मचारियों को समान कार्य समान वेतन, सहायता प्राप्त विद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों को विनियमित किया जाए। शिक्षकों एवं कर्मचारियों की पुरानी पेंशन योजना बहाल हो, 135 विद्यालयों को अनुदान पर लिया जाए, वित्तविहीन विद्यालय में कार्यरत प्रत्येक कर्मचारी को बीमा एवं ईपीएफ देने के साथ दुर्घटना में शिक्षकों की मृत्यु होने पर 20 लाख रूपये दिया जाये को लेकर धरना दे रही है ।

Secondary Finance Teachers protested on teacher day

Web Title: Secondary Finance Teachers protested on teacher day ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया