मुख्य समाचार
UPTET : हाईकोर्ट के आदेश को सुप्रीम कोर्ट ने किया निरस्त, 1 लाख से ज्यादा शिक्षकों को मिली राहत अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर बोला करारा हमला, कहा- नौजवानों की जिन्दगी में ... फतेहपुर में प्रतिबंधित मांस मिलने पर बवाल, मदरसे पर पथराव साक्षी मामले पर मालिनी अवस्थी का बड़ा बयान, लड़कियां जीवन साथी चुनें लेकिन... यूपी पुलिस को मिली बड़ी सफलता, दो इनामी बदमाश किए ढेर वरिष्ठ पत्रकार बरखा दत्त ने कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल पर लगाए गम्भीर आरोप, मचा घमासान अंतिम संस्कार की चल रही थी तैयारी, अचानक युवक की खुली आंखे और फिर जो हुआ... सरकारी आवास के मोह पॉश में जकड़े दो पूर्व मंत्रियों को गहलोत सरकार ने दिया जुर्माने का झटका सलमान संग फिल्मों में डेब्यू कर सुपरस्टार बनीं कटरीना का नहीं है कोई क्राइम रिकॉर्ड 149 साल बाद बन रहा गुरू पूर्णिमा पर चंद्र दुर्लभ योग सपा नेता अखिलेश यादव की गोली मारकर हत्या, सियासत में भूचाल
 

सेक्युलर मोर्चा बनाने के बाद पहली बार खुले मंच से शिवपाल ने बयां किया दर्द 


GAURAV SHUKLA 07/09/2018 10:08:37
303 Views

Lucknow. समाजवादी सेक्युलर मोर्चा के गठन के बाद पहली बार विधायक शिवपाल यादव ने अपना दर्द खुले मंच से बयां किया। इस दौरान उन्होंने बिना किसी का नाम लिये कहा कि परिवार में उपजे विवाद के चलते ही महाभारत का युद्ध हुआ था। पांडवों ने कौरवों से सिर्फ पांच गांव मांगे थे लेकिन अहंकारी कौरवों ने उन्हें देने से इंकार कर दिया। जिसके बाद अंत में कौरवों को परास्त होना पड़ा था। 

Samajwadi Secular Morcha Banane ke baad chalka Shivpal Yadav Ka dard
गौरतलब है कि गुरुवार को शिवपाल यादव एक व्यापारिक प्रतिष्ठान के उद्धाटन समारोह में पहुंचे हुए थे। बतौर मुख्य अतिथि शिवपाल ने फीता काटने के बाद कार्यकर्ताओं को आगाह करते हुए कहा कि बुजुर्गों का सम्मान बहुत ही जरूरी है। इसलिए सभी कार्यकर्ताओं को बुजुर्गों का सम्मान करना चाहिए। इस दौरान उन्होंने एक और उदाहरण देते हुए कहा कि रावण बहुत ज्ञानी था लेकिन अहंकार के चलते ही उसका पतन हुआ था। इसी तरह कंस ने भी अपने पिता, बहन और बहनोई को जेल में डाल दिया था जिस कारण श्री कृष्ण ने उसका पतन कर धर्म की स्थापना की थी। शिवपाल ने बताया कि समाजवादी पार्टी में लगातार उनकी उपेक्षा हो रही थी। यहां तक कि कई बार वह जब किसी जिले के दौरे पर जाते थे तो वहां के पार्टी पदाधिकारियों से मुझसे दूरी बनाने के लिए निर्देशित किया जाता था। मुझे पार्टी के किसी भी कार्यक्रम में बुलाया नहीं जाता था। बावजूद इसके अपमान सहकर परिवार और पार्टी को बचाए रखने के लिए भर्सक प्रयास किया गया। 

Samajwadi Secular Morcha Banane ke baad chalka Shivpal Yadav Ka dard
शिवपाल ने कहा कि जल्द ही समाजवादी सेक्युलर मोर्चा की राष्ट्रीय और प्रदेश कार्यकारिणी का गठन कर जनता के बीच जाया जाएगा। जिसके बाद सभी जिलो में मोर्चा के जिलाध्यक्ष मनोनीत किये जाएंगे जो जनता की आवाज बनकर उनके हक की लड़ाई लड़ेंगे। इसी के साथ उन्होंने जनता से कहा कि अब आपका उत्पीड़न बहुत हो चुका है इसलिए अब यह बन्द होना चाहिए। इसके बाद भी उत्पीड़न होता है तो सरकार के खिलाफ उतरकर सड़को पर जेल भरो आन्दोलन किया जाएगा। समाजवादी पार्टी को संघर्षों के नाम से जाना जाता था लेकिन जब जनता का पुलिस के नाम पर उत्पीड़न हो रहा है तो पार्टी चुप क्यो हैं। अखिलेश ने पूर्व नगर अध्यक्ष राहुल गुप्ता को नगर अध्यक्ष बनाने की घोषणा कर सपा के जिन लोगों का अपमान किया है उनको साथ लाकर सम्मान दिया जाएगा। इस मोर्चे का गठन नेताजी से पूछ कर किया गया है। 2019 के चुनाव में सेक्युलर मोर्चा के सहयोग के बिना कोई सरकार नहीं बनेगी इशी के साथ 2022 में प्रदेश में सेक्युलर मोर्चा की ही सरकार बनेगी। इस दौरान शिवपाल ने साफ शब्दों में कहा कि जिले के सभी 75 जनपदों में जिलाध्यक्ष नियुक्त किये जाएंगे। हमारा यह ही लक्ष्य रहेगा कि 2019 में हमारे सहयोग के बिना कोई भी सरकार न बने। 

यह भी पढ़ें.... ​​​​बीजेपी को बड़ा झटका, महिला प्रकोष्ठ की यह नेत्री अखिलेश की मौजूदगी में सपा में शामिल

रोचक जानकारी : समाजवादी पार्टी में चल रहे विवाद के बाद पूर्व विधायक शिवपाल यादव ने अलग होकर समाजवादी सेक्युलर मोर्चा का गठन किया। इसी के साथ 31 अगस्त को उन्होंने ऐलान किया कि उनका मोर्चा सभी सीटों पर चुनाव लड़ेगा। 

Web Title: Samajwadi Secular Morcha Banane ke baad chalka Shivpal Yadav Ka dard ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया