मुख्य समाचार
 

इस राज्य में साथ आ रहे मायावती और राहुल, भाजपा की हवाइयां उड़ी, मचा हाहाकार


UMENDRA SINGH 08/09/2018 13:12:12
2545 Views

New Delhi. भारतीय जनता पार्टी से लोहा लेने के लिए दो बड़ी पार्टियां अगर मिल जायें तो कमल को मुरझा सकती हैं। हम बात कर रहे हैं मायावती की बहुजन समाज पार्टी और राहुल गांधी की कांग्रेस पार्टी की जो एक राज्य में गठबंधन के करीब हैं। इस बड़े राज्य में अगर दोनों के बीच सीटों का समझौता हो जाये तो इनकी जीत को कोई रोक नहीं सकेगा। आइए जानते हैं वो कौन सा राज्य है और आखिर दोनों के बीच कौन से समीकरण बन सकते हैं।

  यह भी पढ़ें: शिकागो में मोहन भागवत ने किया हिन्दुओं को साथ आने का आह्वान

mayawati and rahul gandhi news

  ये है वो राज्य जहां एक हो सकते हैं कांग्रेस-बसपा

हम जिस राज्य की बात कर रहे हैं वहां इस समय भाजपा की सरकार है। वो राज्य मध्य प्रदेश है जहां शिवराज सिंह चौहान सीएम हैं। इस राज्य में कांग्रेस और बसपा के गठबंधन की बात चल रही है। बस सीटों का तालमेल बैठने में थोड़ी परेशानी हो रही है। उम्मीद की जा रही है कि दोनों के बीच सीटों का मसला भी सुलझ जायेगा।

rahul gandhi ki picture

  दोनों का मिलन कैसे ला सकता है जीत

पिछले विधानसभा चुनाव की बात करें तो कई सीटें ऐसी रहीं जहां भाजपा और कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर थी। बस कुछ हजार वोटों से ही हार जीत हो सकी। जैसे बहोरीबाद सीट पर कांग्रेस और भाजपा की हार-जीत का अंतर 20 हजार के आसपास था। यहां से बसपा को करीब 32 हजार वोट मिले थे। अगर दोनों का गठजोड़ होता तो ये सीट कांग्रेस की होती।

  ये है कांग्रेस और बसपा के बीच सीट का समीकरण

कांग्रेस और बसपा की बात करें तो दोनों के बीच सीटों का समीकरण बड़ा दिलचस्प है। कांग्रेस मध्य प्रदेश में 205 सीटें चाहती है जबकि बसपा को 25 सीटें देना चाहती है। पेंच फंस रहा है वहां दो अन्य दलों सपा और गोंगपा को सीट देने पर, दोनों को तीन-तीन सीटें कांग्रेस या बसपा को अपने हिस्से से देनी है, जिसके लिए दोनों पार्टियां तैयार नहीं हैं।

  रोचक जानकारी: मायावती चार बार यूपी की सीएम रह चुकी हैं।

Web Title: mayawati and rahul gandhi news ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया