राष्ट्रव्यापी आंदोलन को सफल बनाने का आह्वाहन, राकांपा


SHUBHENDU SHUKLA 09/09/2018 21:16:57
416 Views

Lucknow. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) ने संयुक्त विपक्ष द्वारा 10 सितम्बर के राष्ट्रव्यापी हड़ताल एवं विरोध प्रदर्शन को सफल बनाने का आवाहन किया है। प्रदेश अध्यक्ष डॉ. रमेश दीक्षित ने कहा कि बढ़ती महंगाई, डूबती अर्थव्यवस्था, पेट्रोलियम मूल्यों में बेहिसाब दाम और गिरते रुपये और बेरोजगारी की मार खिलाफ जनता दस सितम्बर के राष्ट्रव्यापी हड़ताल को सफल बनाएगी।

Nationwide movement on 10th September

यह भी पढ़ें...अभ्यर्थियों को निदेशालय से पुलिस ने जबरन हटाया, आत्महत्या का प्रयास किया

  तैयारी में जुटे

उन्होंने कहा कि राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी, एनसीपी सहित संयुक्त विपक्ष द्वारा दस सितम्बर को राष्ट्रव्यापी हड़ताल एवं विरोध प्रदर्शन को सफल बनाने के लिए प्रदेश में जोर शोर के साथ तैयारी में जुटी है। दस सितम्बर को संयुक्त विपक्ष द्वारा प्रस्तावित आम हड़ताल को सफल बनाने के लिए राकापा ने प्रदेश के सभी जिलो को आवश्यक दिशा निर्देश भी जारी कर दिए हैं। राकापा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. रमेश दीक्षित ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार, आम जनता पर अभूतपूर्व आर्थिक बोझ लादती जा रही है. पेट्रोलियम उत्पादों की तेजी से बढ़ती कीमतों ने करोड़ों भारतीयों की आजीविका को गंभीर रूप से प्रभावित किया है. किसान, जो पहले से ही गहराते कृषि संकट से कराह रहे थे, अपनी लागत कीमतों में अतिरिक्त वृद्धि का सामना करने जा रहे हैं. इस मूल्य वृद्धि का व्यापक रूप से मुद्रास्फीति की बढ़त पर असर पड़ने वाला है. यह स्थिति, नए रोजगार पैदा करने की बात तो छोड़ ही दीजिये, अर्थव्यवस्था में सुस्ती पैदा करने वाली है, जिससे रोजगार के अवसरों में कमी आ रही है। उधर, रुपये की कीमत में लगातार हो रही अभूतपूर्व गिरावट, मोदी सरकार द्वारा पैदा किये गए आर्थिक संकट को ही इंगित करती है।  आम जनता के सभी वर्गों में इन आर्थिक बोझ के चलते ज़बरदस्त आक्रोश है। जनता का ध्यान इन मुद्दों से हटाने के बजाये मोदी सरकार लगातार सांप्रदायिक ध्रुवीकरण में लगी है।

  फसलों का लाभकारी मूल्य

उन्होंने कहा कि पीएम नरेन्द्र मोदी सरकार ने किसानों की फसलों के लाभकारी मूल्य, तथा पूर्ण कर्जा माफी का वादा किया था। लेकिन कृषक समाज आज खड़ी फासले जलाने और ख़ुदकुशी करने पर मजबूर है। किसानो की कर्जा माफ़ी तो नहीं हुई, लेकिन पिछले चार वर्षों के दौरान, कोर्पोरेट जगत के लगभग चार लाख करोड़ रुपयों के कर्जों को माफ करने का काम मोदी सरकार ने ज़रूर किया। बड़े घराने द्वारा बैंको से लिए गए भारी भरकम कर्जे को एनपीए में तब्दील कर पूरी अर्थव्यवस्था सहित बैंकों को दिवालिया बनाने का काम किया गया है। भ्रस्टाचार हटाने और पारदर्शिता का लोक लुभावन नारा देने वाली मोदी सरकार राफेल लड़ाकू विमान खरीद घोटालों पर मौन है।  

यह भी पढ़ें...राहुल गांधी ने कैलाश यात्रा पर नॉनवेज खाया या नहीं, सामने आया सबसे बड़ा सच

  अग्रिम दिशा निर्देश

दीक्षित ने कहा कि इस राष्ट्रव्यापी हड़ताल और विरोध प्रदर्शन को सफल बनाने के लिए प्रत्येक जिला कमेटियो को अग्रिम दिशा निर्देश जारी कर दिए गए हैं। प्रत्येक जिला कमेटी दस सितम्बर को जिले में पार्टी के झंडे ,पर्चे बैनर और नुक्कड़ सभा के माध्यम से सफल बनाने की अपील करेगी। जिला मुख्यालयों में जुलूस निकालकर जनविरोधी सरकार को उखाड़ फेंकेगी। 

 

रोचक जानकारी- मायावती की उम्र

बसपा सुप्रीमो मायावती की उम्र 62 साल है।

Web Title: Nationwide movement on 10th September ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया