मुख्य समाचार
शाकिब ने रचा इतिहास, वर्ल्‍ड कप में कपिल-युवराज के रिकॉर्ड की बराबरी की क्षेत्र-जिला पंचायत सदस्यों के रिक्त पदों पर उप निर्वाचन के लिए समय सारणी जारी  Tik Tok वीडियो से सुर्खियों में आई पीली साड़ी वाली महिला जेनेलिया डिसूजा के पैर दबाते रितेश देशमुख का वीडियो वायरल, यूजर्स ने कहा... जल्द ही 100 करोड़ का आंकड़ा छू सकती फिल्म कबीर सिंह सपा संरक्षक की होगी सर्जरी, इस गंभीर समस्या से जूझ रहे हैं मुलायम कोल्ड ड्रिंक पीने से एक ही परिवार के 5 लोग पहुंचे अस्पताल, फिलहाल खतरे से बाहर इटौंजा प्रकरण : एसएसपी ने कॉस्टेबल को किया लाइन हाजिर, चौकी प्रभारी व थानाध्यक्ष पर भी कार्रवाई प्रचलित  राजस्थान: बीजेपी प्रमुख मदन लाल सैनी का लंबी बीमारी के बाद निधन दो पक्षों में विवाद के बाद जमकर चले लाठी डंडे, वीडियो वायरल मायावती ने फिर उठाया ये पुराना मुद्दा, कहा- भाजपा की साजिश में शामिल थे मुलायम आम उत्पादन के क्षेत्र को विस्तारित करने पर शोध करें : राज्यपाल RBI को फिर लगा बड़ा झटका, डिप्टी गवर्नर विरल आचार्य ने अचानक दिया इस्तीफा सबके विकास से ही देश का विकास होगा : राज्यपाल पूर्व सैनिकों के लिए मेरे घर के दरवाजे 24 घंटे खुले : महापौर संयुक्ता भाटिया करणी सेना को डायरेक्टर ने दिया जवाब, दोनों पक्षों में घमासान
 

मातहतों के ठेंगे पर DM के आदेश, वितरण तिथि निर्धारित होने के बाद भी नहीं मिला राशन


SHUBHENDU SHUKLA 12/09/2018 21:21:44
237 Views

Lucknow. आपूर्ति विभाग में जिम्मेदार अधिकारियों की लापरवाही के चलते विशेष वितरण की तिथि निर्धारित होने के बाद भी कार्ड धारकों को राशन नहीं मिल पा रहा है। वितरण के लिए नामित पर्यवेक्षणीय अधिकारी कोटेदारों की दुकानों पर नहीं पहुंच रहे हैं। अधिकारियों के न पहुंचने के कारण उचित दर विक्रेता भी पात्र लोगों को राशन देने से मना कर रहे हैं।

Ration of the poor did not get even after the special delivery date was fixed

यह भी पढ़ें...विश्व रोबोट ओलम्पियाड प्रतियोगिता में भाग लेंगे सेन्ट जोजफ के छात्र

  वितरण की तिथि निर्धारित

मालूम हो कि जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने इस बार पर्यवेक्षणीय अधिकारियों की निगरानी में विशेष वितरण की तिथि निर्धारित की थी। लेकिन अधिकारी कोटेदारों के यहां मौजूद अनाज का न सत्यापन करने पहुंचे और न ही निरीक्षण पर गये। बिना निरीक्षण के राशन वितरण न करने की बात से लोगों ने हंगामा किया। कोटेदारों की हड़ताल के कारण सितम्बर माह का वितरण रुक गया था। कार्डधारकों को परेशानी न हो इसलिए प्रशासन विशेष वितरण की तिथि 11 से 13 तक निर्धारित की गई थी।

Ration of the poor did not get even after the special delivery date was fixed

यह भी पढ़ें...बसपा के लिए खुशखबरी, राजधानी आ रहीं मायावती, इस तारीख को कर सकती हैं गृह प्रवेश

  दिए थे निर्देश

डीएम ने पर्यवेक्षणीय अधिकारियों की निगरानी में वितरण करने के निर्देश दिये थे। इस विशेष वितरण में शहरी और ग्रामीण को मिलाकर करीब 12 सौ से अधिक दुकानों से विशेष वितरण कराना था। बीते मंगलवार को सुबह से ही दुकानों पर राशन लेने वालों की भीड़ दिखने लगी थी। पहले दिन तो दुकानों पर लगी ई-पाश मशीनों ने धोखा दिया। मशीनों से नेटवर्क ही गायब था। जिसके चलते शहर के आठों क्षेत्रीय खाद्य अधिकारियों के क्षेत्र में राशन दुकानदारों को कार्ड धारकों का आक्रोश झेलना पड़ा।

  कुछ दुकानों पर पहुंच रहा है राशन

कोटेदारों की हड़ताल के चलते माह की 5 तारीख को होने वाला वितरण नहीं हो सका था। हड़ताल के चलते कोटेदार न राशन उठाने को तैयार थे और न ही वितरण करने के पक्ष में थे। लेकिन आयुक्त से मुलाकात के बाद जब विशेष वितरण की तिथि निर्धारित की तब कोटेदारों ने अनाज गोदाम से उठान की। एक साथ उठान के कारण अभी काफी दुकानदारों के यहां राशन पहुंच रहा है।

रोचक जानकारी- उत्तर प्रदेश सरकार ने 1 मार्च, 2016 से संपूर्ण प्रदेश में खाद्य सुरक्षा कानून लागू कर दिया था।

Web Title: Ration of the poor did not get even after the special delivery date was fixed ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया