महिलाओं को अब समय और भूगोल में बांधा नहीं जा सकता 


SUJEET KUMAR 14/09/2018 10:39:23
310 Views

Lucknow. रेड ब्रिगेड लखनऊ के ‘सुरक्षित महिलाएं-सुरक्षित लखनऊ’ मिशन के तहत 936 के खिलाफ संघर्ष (#fightagaints936) कार्यक्रम का पांचवा सत्र (पन्द्रह घंटा) का आयोजन गुरुवार को राजधानी के  के.के.सी. डिग्री कालेज में किया गया। आत्मरक्षा के गुर के प्रशिक्षण के दौरान रेड ब्रिगेड लखनऊ की संस्थापिका उषा विश्वकर्मा, आफरीन, कविता भारती और रेड ब्रिगेड की टीम ने 200 से अधिक छात्राओं को आत्मरक्षा के गुणों का प्रशिक्षण दिया। इस अभियान में 936 घंटे सेल्फ डिफेन्स का प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसमें 312 सत्र होगा।

red bride lucknow fightag aints 936

प्रशिक्षण लेने वाली सभी छात्राएं कालेज के जूडो, कराटे इत्यादि मार्शल आर्ट से प्रशिक्षित थीं। लेकिन रेड ब्रिगेड की ईजाद की हुई ‘निःशस्त्र’ कला के प्रशिक्षण को मुक्त कंठ से सराहा। उनका कहना था कि पहली बार खेल के लिए तैयार मार्शल आर्ट और महिलाओं की सुरक्षा की कारगर तकनीक का अंतर समझ में आया।

red bride lucknow

रेड ब्रिगेड लखनऊ की संस्थापिका उषा विश्वकर्मा ने प्रशिक्षण के दौरान कहा कि महिलाओं को अब भूगोल और समय में बांधा नहीं जा सकता है। उन्होंने छात्राओं से कहा कोई काम छोटा-बड़ा नहीं होता है, बल्कि महत्त्वपूर्ण बात यह है कि यह कितनी शिद्दत के साथ किया जाता है। आगे बोलते हुए कहा कि आज की महिलाएं बेचारी–लाचारी की ओढ़नी को फेंक कर मजबूत कदमों को जमाकर अपना जगह बना रही हैं।

रेडियो मिर्ची कि तृप्ति पाठक ने छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि महिलाओं को अब कमज़ोर समझने के दिन गए। सब तरफ महिलाएं ताकत के साथ अपनी उपस्थिति दर्ज करा रहीं है। इन सबके बावजूद अभी बहुत कुछ किया जाना बाक़ी है। महिला सुरक्षा के लिए सरकार और समाज दोनों को एक साथ आना होगा।

usha vishwakarma

अंत में के.के.सी. डिग्री कालेज की प्रोफ़ेसर चितवन वर्मा ने इस प्रशिक्षण कार्यक्रम को आयोजित कराने के लिए सभी को धन्यवाद दिया। आत्मरक्षा के गुण के प्रशिक्षण के कार्यक्रम की अगली कड़ी 14 सितम्बर को आर्य कन्या पाठशाला इंटर कॉलेज लखनऊ में आयोजन होगा।

ताजा खबरों को मोबाईल पर पाने के लिए यहां क्लिक करें।  

Web Title: red bride lucknow fightag aints 936 ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया