सीएम ने सामाजिक प्रतिनिधि बैठक में उपस्थित जाटों को संबोधित किया


SHUBHENDU SHUKLA 18/09/2018 21:05:43
344 Views

Lucknow. प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सामाजिक प्रतिनिधि बैठक में उपस्थित जाट समाज के प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश में किसी की हिम्मत नहीं है कि कैराना और कांधला जैसी घटनाओं को दोहरा सके। उन्होंने पूर्ववर्ती सपा सरकार के कार्यकाल में हर सप्ताह कहीं न कहीं दंगे होने का आरोप लगाते हुए कहा कि हमारी सरकार सबको सुरक्षा की गांरटी देने के साथ ही किसी का भी तुष्टिकरण न हो इसके लिए प्रतिबद्ध है। राज्य में सुरक्षा का वातावरण कायम हुआ है। मुख्यमंत्री जी आज स्थानीय विश्वसैरया सभागार में भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा द्वारा आयोजित सामाजिक प्रतिनिधि बैठक को संबोधित कर रहे थे।

CM addresses Jats present in the Social Representative meeting

यह भी पढ़ें...3 साल से इस एक्टर को डेट कर रहीं नायरा की सास, जल्द लेगी 7 फेरे

  जाट आरक्षण के पक्षधर

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने जाटों की गौरवशाली परम्परा का जिक्र करते हुए कहा कि मुगल आक्रमणकारियों और अंग्रेजी शासकों के जुल्म और आंतक के आगे भी जाट समाज के लोग कभी नहीं झुके। जाट समाज ने कभी भी अपनी सांस्कृतिक परम्परा को  नहीं छोड़ा। जाट आरक्षण के मुद्दे पर मुख्यमंत्री ने कहा कि हम जाट आरक्षण के पक्षधर हैं और हमने इसके लिए सामाजिक न्याय समिति का गठन किया है। आरक्षण को लेकर पूर्ववर्ती सपा सरकारे दोषी है। फिलहाल मामला न्यायलय में लंबित है लेकिन राज्य सरकार इसके लिए लगातार प्रभावी ढंग से पैरवी कर रही है। 

  किसानों के लिए कर्जमाफी

उन्होंने कहा कि किसानों के लिए कर्जमाफी प्रदेश में सफलतापूर्वक लागू किया गया। आजादी के बाद से ही किसान अनवरत न्यूनतम समर्थन मूल्य की मांग करते रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में किसान के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य की घोषणा पहली बार की गई है जिसमें अधिक से अधिक किसान लांभवित हो रहे है। किसानों की खुशहाली व समृद्धि में ही देश की खुशहाली व समृद्धि है, इस खुशहाली व समृद्धि के रास्ते को निकालने के लिए हमने कर्जमाफी, न्यूनतम समर्थन मूल्य, गन्ना भुगतान जैसी किसानों की हित की रणनीति बनाई।

  16 हजार करोड़ का भुगतान

उन्होंने कहा कि 2016-17 में प्रदेश में गन्ना किसानों का 16 हजार करोड़ रूपये का भुगतान हुआ था जबकि इस वर्ष गन्ना किसानों को 36 हजार करोड़ रूपये का भुगतान किया जा चुका है और बाकी भुगतान अक्टूबर के अंत में हर हाल में करवाने का प्रयास किया जायेगा। 2012 से 2016 तक बकाया 25 हजार करोड़ का गन्ना भुगतान तथा इस वर्ष भुगतान को मिला कर 36 हजार करोड़ का भुगतान दिया जा चुका है। उन्होंने कहा कि पिछली सरकार में बिजली वितरण में भेदभाव होता था जबकि आज किसानों, गरीबों, गांव, शहरों में सभी जगह बिजली देने का काम हमने किया।

CM addresses Jats present in the Social Representative meeting

यह भी पढ़ें...यूपी बोर्ड ने 10th-12th की एग्जाम डेट जारी की , शुरु कर दें तैयारी

  अस्थिरता का वातावरण 

सीएम ने कहा कि आज कुछ लोग भारत में अस्थिरता का वातावरण बना रहे है। उन्होंने सपा, बसपा, कांग्रेस पर आरोप लगाया कि ये दल चाहते हैं कि भारत कमजोर हो। गठबंधन-महागठबंधन के नाम पर अपरिपक्व राजनीति को जन्म देना चाहते हैं। जो देश के हित में सोचता है, जनकल्याणकारी योजनाओं के पक्षधर हैं, उन्हें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत को मजबूत करना चाहिए तथा उन्हें मजबूती के साथ खड़ा होना पड़ेगा।

 

 

Web Title: CM addresses Jats present in the Social Representative meeting ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया