मुख्य समाचार
स्कूल बस ने युवक को मारी टक्कर हुई मौत, चालक फरार  बच्चा चोर गिरोह के शक में चार साधु वेशधारियों को ग्रामीणों ने पकड़ा कुंभ के प्रचार-प्रसार के नाम पर कारोबारी से हुई ठगी  गाड़ी से रौंदकर 2 की हत्या मामले में चौकी प्रभारी हुए लाईन हाजिर, इन जगहों पर बरती गयी लापरवाही  अलर्ट: तमिलनाडु में घुसे लश्कर के 6 आतंकी  पत्नी की हत्या के मामले में फंसा BJP के पूर्व विधायक का बेटा, हो सकती है गिरफ्तारी गो उत्पादों के साथ पंचगव्य का प्रचार प्रसार करेगा उत्तर प्रदेश गो सेवा आयोग परिवार के साथ ईडी दफ्तर पहुंचे राज ठाकरे, मुंबई के कई इलाकों में धारा 144 लागू मौरंग मंडी के पास हुआ विवाद, घायलों को भेजा गया अस्पताल  वृंदावन में बांके बिहारी मेरे बांके बिहारी पोस्टर का हुआ विमोचन दुनिया का सबसे बड़ा ऑफिस अमेजन के नाम, 15 हजार कर्मचारी करेंगे काम लखनऊ नगर निगम पर सफाई कर्मचारियों का धरना आज महिलाओं के साथ उत्पीड़न करने वालो के विरूद्ध सख्त कार्यवाही सुनिश्चित करें : भारती घूस लेते रंगे हाथों पकड़ा गया लेखपाल, लखनऊ ले गई एंटी करप्शन टीम
 

पुलिस के लिए चुनौती बना चोरों का गिरोह, दस दिन मे तीन घटनाओं को दिया अंजाम


LEKHRAM MAURYA 26/09/2018 14:50:53
407 Views

MALL, LUCKNOW. दस दिन मे चोरी की तीन घटनाएं होने पर पुलिस की कार्यशैली पर सवालिया निशान उठ रहे हैं। पुलिस अभी तक किसी भी मामले का खुलासा नही कर सकी है। चोरी की वारदातों से जनता में दहशत का माहौल है। 

Challenge for the police gang, carried out by three events in one day

माल थाना क्षेत्र के गदिया खेड़ा मजरा बीरपुर मे बीती रात चोर नकब लगाकर लाखों के सामान पर हाथ साफ कर फरार हो गए और पुलिस गस्त करती ही रह गयी। निजामुद्दीन ने बताया कि उनके 5 लड़के हैं, जिनमे से एक विदेश में रहता है और चार लड़के रात में मलिहाबाद मजदूरी पर लकड़ी काटने गए थे। जब वह लोग सुबह तड़के 5 बजे लौटे तो घर की महिलाओं से खाने के लिए कुछ मांगा, तो महिलाओं ने जैसे ही कमरे का दरवाजा खोलना चाहा तो वह नहीं खुला। क्योंकि चोरों ने अन्दर से दरवाजे में डण्डा लगा दिया था और दरवाजा बाहर से बन्द भी कर दिया था। ऐसा देखकर वह लोग पीछे गए तो वहां सेंध लगी देखी। और आस पास सामान बिखरा देखकर वह लोग दंग रह गए।

  चार लाख की चोरी कर अंधेरे मे फरार हुए बदमाश

घरवालों ने पहले 100 नम्बर पुलिस को सूचना दी तो उन्होंने थाने वालों को फोन पर घटना की जानकारी दी, जिसके बाद माल थाने के दो सिपाही मौके पर पहुंचे और सामान अन्दर रखवा दिया। निजामुद्दीन के लड़के छोटू ने बताया कि अलमारी में रखे 60 हजार रुपए नकद और चार महिलाओं का सारा जेवर, जिसकी कीमत करीब तीन लाख रुपए है। चोरे एक एन्ड्राॅयड मोबाइल 3 तांबे की डेग उठा ले गये। चोरों ने सारा सामान इधर -उधर बिखेर दिया। 
पुलिस को चकमा देकर फरार हो जाते हैं चोर
छोटू ने बताया कि एक साल पहले इसी प्रकार नकब लगाकर निसार के घर मे भी चोरी हो गयी थी, जिसका आज तक खुलासा नहीं हुआ है। ग्रामीणों ने बताया कि गत 16 सितम्बर को जगदीशपुर में रामऔतार और रामस्वरूप के घर मे नकब लगाकर चोरी की गयी थी। जिसमें करीब ढाई लाख के जेवर चोरी हुए थे। गत 18 सितम्बर को सैदापुर चैराहे के पास जहां पुलिस पिकेट है उससे 100 मीटर की दूरी पर सड़के के किनारे स्थित बैंक आफ इंडिया मे नकब लगाकर चोरों ने चोरी का प्रयास किया था परन्तु नगदी ले जाने मे असफल रहे थे। जिसमें मकान मालिक और बैंक प्रबन्धक की लापरवाही सामने आयी थी। बैंक मे चोरों के आने पर अलार्म नहीं बजा था। और नही सीसीटीवी कैमरे मे चोरों की तस्वीरें साफ दिखाई पड़ रही थी। इस घटना मे डाग स्क्वायड फिंगर प्रिंट विशेषज्ञों की टीम भी आयी थी। परन्तु एक मजदूर के घर मे चोरी होने पर कहीं भी सक्रियता से जाॅच नहीं की जाती है। 

Web Title: Challenge for the police gang, carried out by three events in one day ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया