सबरीमाला में महिलाओं को प्रवेश मिलने के बाद मुस्लिम महिलाओं ने मस्जिद जाने की लगाई गुहार


NAZO ALI SHEIKH 11/10/2018 10:03 AM
330 Views

New Delhi. सबरीमाला मंदिर में सर्वोच्च न्यायालय द्वारा महिलाओं को प्रवेश देने के फैसले से महिलाओं में खुशी की लहर है। वहीं अब सुन्नी मुस्लिम महिलाएं भी मस्जिद में रहने को लेकर सर्वोच्च न्यायलय का दरवाजा खटखटाने की तैयारी में हैं। मुस्लिम महिलाओं के संगठन निसा के मुताबिक मुस्लिम महिलाओं को सुन्नी मस्जिदों में जाने की इजाजत नहीं है। उन्होंने यह अपील की है कि महिलाओं को भी सुन्नी मस्जिदों में जाने का हक मिलना जरूरी है। 

sabarimaala mein mahilaon ko pravesh milne ke baad muslim mahilaon ne masjid jaane ki lagai guhaar

यह भी पढ़ें... एमपी चुनाव : 12 अक्टूबर को कांग्रेस प्रत्याशियों की पहली सूची कर सकती है जारी

मामला सर्वोच्च न्यायालय जाएगा

निसा की अध्यक्ष वीपी जुहरा का कहना है कि इस मामले में वह अगले सप्ताह सर्वोच्च न्यायालय के पास जाएंगी। उन्होंने कहा कि सुन्नी मस्जिदों में महिलाओं को नमाज पढ़ने जाने की इजाजत नहीं दी जाती है। उन्होंने सबरीमाला का उदाहरण देते हुए कहा कि अब जब सबरीमाला मंदिर में महिलाओं को जाने की इजाजत मिल गई है तो मुस्लिम महिलाओं को मस्जिदों में जाने से क्यों रोका जा  रहा है। उन्होंने कहा हमने वकीलों से बात कर ली है, हम इस मामले को लेकर सर्वोच्च न्यायालय तक जाएंगे। 

SABRIMALA- MANDIR- PHOTO

जुहरा ने कहा, मैने पढ़ा है कि मोहम्मद के समय में महिलाओं को मस्जिद जाने की इजाजत थी। उन्होंने कहा उस समय उन महिलाओं को भी मस्जिद जाकर नमाज पढ़ने की इजाजत थी जो मासिक धर्म से गुजर रही होती थीं। जब मोहम्मद खुद इसके खिलाफ नहीं थे, तो भारत में महिलाओं पर ऐसे प्रतिबंध क्यों हैं। बता दें कि 28 सितंबर को संविधान सभा ने ये फैसला सुनाया था कि मासिक धर्म के दौरान महिलाओं पर किसी तरह का प्रतिबंध लगाना उनके मौलिक अधिकारों का हनन है। 

यह भी पढ़ें... ताजा खबरों को मोबाईल पर पाने के लिए यहां क्लिक करें

जुहरा ने कहा, 'मैंने पढ़ा है कि मोहम्मद के समय में भी उन महिलाओं को भी मस्जिद में नमाज पढ़ने का अधिकार था जो मासिक धर्म से गुजर रही होती थीं। जब मोहम्मद खुद इसके समर्थन में थे, तो भारत में महिलाओं पर ऐसे प्रतिबंध क्यों हैं?' बता दें कि 28 सितंबर को संविधान सभा ने निर्णय दिया था कि मासिक धर्म के दौरान महिलाओं पर प्रतिबंध उनके मौलिक अधिकारों का हनन है।

Web Title: sabarimaala mein mahilaon ko pravesh milne ke baad muslim mahilaon ne masjid jaane ki lagai guhaar ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया