रामनगरी की दीवारें सजाने जुटेंगे देशभर के कलाकार


SUJEET KUMAR 11/10/2018 19:05:12
661 Views

Lucknow. हमेशा सुर्खियों में छाई रहने वाली अयोध्या नगरी अब चित्रकला के विष्व फलक पर छाने जा रही है। यहां 12 अक्टूबर,2018 से प्रारम्भ हो रहे पहले तीन दिवसीय अयोध्या कला महोत्सव में रामनगरी की दीवारें सजाने देश भर से सौ से ज्यादा चित्रकार जुटेंगे। साथ ही सैकड़ों विद्यार्थी स्कूलों में चित्र बनाएंगे।

ayodhya art festival 2018

प्रेस कांफ्रेन्स में आयोजनकर्ताओं ने बताया कि ‘भगवान राम और उनका जीवन’ विषय को लेते हुए रामायण से प्रेरित आठ खण्डों बालकांड, अयोध्याकांड, अरण्यकांड, सुंदरकांड, लंकाकांड, उत्तरकांड, लवकुषकांड व रामदरबार पर यहां इकट्ठा हुए कलाकार सौ से अधिक दीवारों पर विभिन्न प्रसंग उकेरेंगे। 

ayodhya art festival 2018

12, 13 व 14 अक्टूबर को होने वाली इस ऐतिहासिक चित्रकारी के अंतिम दिन अपराह्न तीन बजे से मानस भवन में होने वाले समापन समारोह में परमार्थ निकेतन के स्वामी चिदानन्द मुनि, महापौर ऋषिकेष उपाध्याय, इतिहासकार श्रीमती मीनाक्षी जैन, पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम के सहयोगी रहे कर्नल अषोक किनी, योगीगाथा के लेखक व टीवी पैनलिस्ट षांतनु गुप्ता, हनुमान-2 जैसी कृतियों के चर्चित चित्रकार करण आचार्य व अन्य प्रमुख हस्तियां षामिल होंगी। 

ayodhya art festival 2018

इस अवसर पर अयोध्या के महापौर ऋषिकेष उपाध्याय ने योगी सरकार का अयोध्या को नगरनिगम बनाने व मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम को अयोध्या का पहले महापौर के रूप में सम्मानित करने के लिए आभार व्यक्त करने के साथ बताया कि वे अयोध्या के नागरिकों व आने वाले समस्त श्रद्धालुओं की नज़र में नगर को एक स्मरणीय षहर के रूप में विकसित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। 

ayodhya art festival 2018

इसी क्रम में उन्होंने महोत्सव में सभी को शामिल होने और प्रतिभागी कलाकारों को प्रोत्साहित करने के लिए आह्वान किया। उन्होंने बताया कि चित्रकारी के लिए गठित कमेटी द्वारा चयनितषीर्ष तीन कलाकारों को क्रमषः 25 हजार, 15 हजार और 10 हजार रुपये की प्रोत्साहन राषि प्रदान की जाएगी। 

ayodhya art festival 2018

आयोजन के क्यूरेटर (संयोजक) लेखक षांतनु गुप्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री की जीवनी लिखने और गोरखपुर जाने के दौरान पहली बार अयोध्या का भ्रमण किया और इसी दौरान मन में इस पौराणिक नगरी के कुछ करने की भावना जन्मी। अगल वर्ष दूसरे महोत्सव को अंतर्राष्ट्रीय कलाकारों और संगठनों की भागीदारी से वह महोत्सव को और विस्तार दिलवाएंगे। 

ayodhya art festival 2018

उम्मीद है ये आयोजन षहर की एक खूबसूरत छवि बनाने के साथ ही यादगार होगा। उन्होंने बताया कि महोत्सव के बारे में गतिविधियों की जानकारी (myayodhya.com) और अयोध्या आर्ट फेस्टिवल फेसबुक पेज से भी पाई जा सकती है। सहसंयोजक पुष्कर शर्मा ने पवित्र नगरी में विभिन्न नगरों से आने वाले कलाकारों की मेजबानी को अपना सौभाग्य बताया। 

ताजा खबरों को मोबाईल पर पाने के लिए यहां क्लिक करें।

पुष्कर शर्मा ने कहा कि भविष्य में ऐसे कला महोत्सव हम अन्य पौराणिक व विषिष्ट संस्कृति वाले शहरों में भी करना चाहेंगे। उन्होंने महोत्सव में अहम सहयोग के लिए आरोह फाउंडेशन के शुभराम, अभिषेक व उनकी पूरी टीम, आईआईपी फाउंडेशन के राजेश गोयल और विशेष रूप से आयोजन को साकार करने के लिए महापौर का आभार व्यक्त किया। कर्नल अशोक किनी ने कहा भले व्यक्तियों की सामूहिक सोच के हमेशा बेहतर परिणाम मिलते हैं और ये महोत्सव भी ऐसा ही आनन्द भरा अविस्मरणीय प्रयास है। उन्होंने बतायी कि नई पीढ़ी में अपनी विरासत के प्रति जिज्ञासा जगाने व उसे समझने के लिए 13 अक्टूबर को अयोध्या के विभिन्न स्कूलों में सैकड़ों विद्यार्थी रामायण की थीम पर चित्र बनाएंगे और सर्वश्रेष्ठ विद्यार्थियों को 14 के समापन समारोह में पुरस्कृत किया जाएगा।

 

Web Title: ayodhya art festival 2018 ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया