जेडीयू में प्रशांत किशोर का कद बढ़ना भाजपा के लिए बन सकता है बड़ी मुसीबत


RAGHVENDRA CHAURASIA 16/10/2018 16:45:56
264 Views

Patna. 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले सभी राजनैतिक दल तैयारियों में जुटे हुए हैं। इसी कड़ी में बिहार की सत्ता पर काबिज जनता दल यूनाईटेड (जेडीयू) चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर को खुश करने में लगी हुई है। सीएम नीतीश कुमार ने मंगलवार को प्रशांत किशोर को अपनी पार्टी का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बना दिया। जेडीयू में प्रशांत का कद बढ़ना भाजपा के लिए 2019 के आम चुनाव में मुसीबत न बन जाए।

Jdu me Prshant Kishore Ka Kad Badna Bjp Ke Lye Ban Sakti Hai Badi Musibat

यह भी पढ़ें...बड़ी खबर: पाखंडी रामपाल समेत 15 आरोपियों को हुई उम्रकैद की सज़ा

  2014 में मोदी के थे प्रशांत खास

2014 के लोकसभा चुनाव में प्रशांत किशोर नरेन्द्र मोदी के खास माने जाते थे। किशोर ने पिछले लोकसभा चुनाव में बीजेपी के लिए काम किया और केंद्र में मोदी को सत्ता दिलाने में उनका अहम रोल रहा है। किशोर ने सोशल मीडिया के जरिए बड़ी संख्या में लोगों तक पहुंचने मोदी को डिवेलपमेंट का मसीहा बनाकर पेश करना,चाय पर चर्चा और 3डी होलोग्राम जैसे प्रोग्राम के जरिए पीएम मोदी की तारीफ जनता के बीच की थी। किशोर के इस प्रयास मोदी की लोकप्रियता तो बढ़ी जनता के दिल में जगह बना ली थी। ​इसी लिए मोदी को 2014 के चुनाव में एतिहासिक वोटों से जीत हासिल की और मोदी पीएम बन गए। वहीं बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह समेत कुछ नेताओं ने कहा था कि 2014 का चुनाव कार्यकर्ताओं के बदौलत जीता गया था न कि प्रशांत किशोर की रणनीति की वजह से नहीं।

  किशोर का अमित शाह से नहीं थे अच्छे संबंध

प्रशांत किशोर का अमित शाह से अच्छे संबंध नहीं थे। अमित शाह के करीबी ने बताया कि किशोर व शाह की मुलाकात लोकसभा चुनाव के आखिरी समय में हुई थी। अमित शाह ने प्रशांत किशोर से कहा था कि आपने और आपकी टीम ने जो काम किया है उसका भुगतान कर दिया जाएगा। किशोर की टीम के कुछ लोगों ने कहा कि जब उनका सीधा संबंध मोदी से है तो वह फिर किसी चीज के लिए शाह से मुलाकात क्यों करेंगे। प्रशांत किशोर व अमित शाह के अच्छे रिश्ते न होने के कारण बीजेपी छोड़ दिया था। 

  प्रशांत किशोर अब जेडीयू के साथ

2019 के चुनाव से पहले प्रशांत किशोर ने राजनीति में एंट्री ली है। प्रशांत किशोर ने जेडीयू से राजनीति करियर की शुरुआत की। जेडीयू अध्यक्ष व सीएम नीतीश कुमार ने प्रशांत किशोर को पार्टी का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष घोषित कर बड़ा दांव चला है। जेडीयू में प्रशांत के कद बढ़ने से बीजेपी की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। प्रशांत 2019 के चुनाव में बीजेपी व जेडीयू की दोस्ती तुड़वा सकते हैं और वह खुद नीतीश की पार्टी के लिए बड़ी रणनीति पर काम कर सकते हैं। नीतीश ने प्रशांत किशोर को पार्टी में नंबर दो की पोजीशन का पद देकर सबको चौंका दिया है।

यह भी पढ़ें...ताजा खबरों को मोबाईल पर पाने के लिए यहां क्लिक करें।

 

Web Title: Jdu me Prshant Kishore Ka Kad Badna Bjp Ke Lye Ban Sakti Hai Badi Musibat ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया