मुख्य समाचार
किसी दुर्घटना के इंतजार में चार दिन से पड़ा आंधी में गिरा यह पेड़ पहले निर्माण, अब चारे के नाम पर गोशालाओं में प्रधान कर रहे फर्जीवाड़ा इसरो की तैयारियां पूरी, सोमवार को होगा चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण  कम नहीं हो रहीं आज़म खान की मुसीबतें, 3 और एफआईआर दर्ज छोटी सी गलती एक्टर को पड़ी भारी, 14 दिन की न्यायिक हिरासत में सोनभद्र: सीएम के दौरे को लेकर पुलिस ने कसा शिकंजा, पूर्व विधायक समेत कई कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी  सोशल मीडिया पर कहर ढा रहीं हॉट एक्ट्रेस ईशा गुप्ता, देखें सिजलिंग तस्वीरें लखनऊ: मुठभेड़ में टिंकू नेपाली गैंग के सरगना समेत तीन गिरफ्तार, दो सिपाही जख्मी मलाइका की सिजलिंग फोटो देख खुद पर काबू नहीं रख पाए आर्जुन कपूर, कर दिया ऐसा कमेंट... यूपी में बदमाशों के हौसले बुलंद, भाजपा नेता को गोलियों से भूना दो पुलिस कर्मियों की हत्या कर भागे कैदियों में एक को मुठभेड़ में पुलिस ने किया ढेर बाढ़ और बारिश से बेस्वाद हुई दाल, टमाटर हुआ लाल, इन सब्जियों के बढ़े 50 फीसदी दाम मॉब लिंचिंग पर सपा सांसद का बड़ा बयान, कहा- पाकिस्तान न जाने की सजा भुगत रहे हैं मुसलमान अब इस दिग्गज ने की प्रियंका के नाम की वकालत बाढ़ से बेहाल असम-बिहार, ताजा तस्वीरों में देखें तबाही का मंजर पीड़ितों ने कौन सा अपराध किया जो उन्हें मुझसे मिलने से रोका जा रहा : प्रियंका AKTU : यूपीएसईई – 2019 की काउंसलिंग का तीसरा चरण आज से शुरु ICC के फैसले से सदमे में जिम्बाब्वे की टीम प्लेसमेंट ड्राइव में 5 से 7 लाख के पैकेज के साथ आई कंपनी, 120 छात्र-छात्राओं ने किया प्रतिभाग मंचीय कविता के आखिरी स्तम्भ थे नीरज : लक्ष्मी नारायण चौधरी एजाज खान के अरेस्ट होने के बाद ट्वीटर पर छाए मीम्स- यूजर्स बोले... ग्रामीण क्षेत्रों में भी किया जाना चाहिए मैंगो फूड फेस्टिवल का आयोजन : डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा तेजबहादुर की याचिका पर पीएम मोदी को नोटिस
 

पीएम मोदी बोले, एक परिवार के लिए देश के सपूतों के योगदान को भुलाया गया


ABHIMANYU VERMA 21/10/2018 10:36:56
335 Views

New Delhi. 'आजाद हिंद सरकार' की 75वीं जयंती के मौके पर रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लाल किले पर आयोजित कार्यक्रम में पहुंचे, यहां पर पीएम मोदी ने लाल किला में इससे संबंधित शिलापट लगाया और झण्डारोहण किया। साथ ही प्रधानमंत्री ने आज़ाद हिन्द फौज की टोपी भी पहनी। इस दौरान संबोधित करते हुए कहा कि हमें नेताजी सुभाष चंद्र बोस के आज़ादी में दिये योगदान को नहीं भूलना चाहिए। 

PM modi boley ek parivar ke liye desh ke sapooton ke yogdan ko bhulaya gaya

नेहरू-गांधी परिवार पर निशाना साधते हुए उनहोंने कहा कि एक परिवार को बड़ा बताने के लिए, देश के अनेक सपूतों, वो चाहें सरदार पटेल हों, बाबा साहेब आंबेडकर हों, उन्हीं की तरह ही, नेताजी के योगदान को भी भुलाने का प्रयास किया गया। इस महत्वपूर्ण ऐतिहासिक समारोह में केंद्रीय संस्कृति राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ. महेश शर्मा, नेताजी सुभाष चंद्र बोस के भतीजे चंद्र कुमार बोस, आइएनए (इंडियन नेशनल आर्मी) के वयोवृद्ध ब्रिगेडियर लल्ती राम समेत कई शामिल हुए। इस मौके पर पीएम मोदी ने पुलिस अधिकारिरियों को संबोधित किया। 

बता दें कि ऐसा पहली बार हुआ है कि देश के किसी प्रधानमंत्री ने आजाद हिंद फौज की स्थापना की 75वीं वर्षगांठ पर लाल किले के कार्यक्रम में झण्डारोहण किया हो। 

यह भी पढ़ें:- ........ बीजेपी ने 77 सीटों पर घोषित किए उम्मीदवार, इन 14 विधायकों के कटे टिकट
 

  'आजाद हिंद सरकार' की 75वीं जयंती पर पीएम मोदी के संबोधन की पाँच बड़ी बातें

आजाद हिंद सरकार' की 75वीं जयंती पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि वह उन माता पिता को नमन करते हैं, जिन्होंने नेता जी सुभाष चंद्र बोस जैसा सपूत देश को दिया। वह नतमस्तक हैं उन सैनिकों और उन परिवारों के आगे जिन्होंने स्वतंत्रता की लड़ाई में खुद को न्योछावर कर दिया। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि नेताजी का एक ही उद्देश्य और मिशन था भारत की आजादी। यही उनकी विचारधारा और कर्मक्षेत्र था कि भारत अनेक कदम आगे बढ़ा है, लेकिन अभी नई ऊंचाइयों पर पहुंचना बाकी है। इसी लक्ष्य को पाने के लिए आज भारत के 130 करोड़ लोग नए भारत के संकल्प के साथ आगे बढ़ रहे हैं। 

पीएम मोदी ने कहा कि कैम्ब्रिज के अपने दिनों को याद करते हुए सुभाष चंद्र बोस ने लिखा था कि - "हम भारतीयों को ये सिखाया जाता है कि यूरोप, ग्रेट ब्रिटेन का ही बड़ा स्वरूप है। इसलिए हमारी आदत यूरोप को इंग्लैंड के चश्मे से देखने की हो गई है। उन्होने कहा कि स्वतंत्र भारत के बाद के दशकों में अगर देश को सुभाष बाबू, सरदार पटेल जैसे व्यक्तित्वों का मार्गदर्शन मिला होता, तो स्थितियां बहुत भिन्न होती।

इस दौरान पीएम मोदी ने बिना नाम लिए नेहरू परिवार पर निशाना साधते हुए कहा कि एक परिवार को बड़ा बताने के लिए, देश के अनेक सपूतों, वो चाहें सरदार पटेल हों, बाबा साहेब आंबेडकर हों, उन्हीं की तरह ही, नेताजी के योगदान को भी भुलाने की कोशिश की गयी। उन्होंने कहा कि देश का संतुलित विकास, प्रत्येक व्यक्ति को राष्ट्र निर्माण का अवसर, राष्ट्र की प्रगति में उसकी भूमिका, नेताजी के वृहद विजन का हिस्सा थी। प्रधानमंत्री ने कहा कि आज़ादी के लिए जो समर्पित हुए वो उनका सौभाग्य था, हम जैसे लोग जिन्हें ये अवसर नहीं मिला, हमारे पास देश के लिए जीने का, विकास के लिए समर्पित होने का मौका है।

Web Title: PM modi boley ek parivar ke liye desh ke sapooton ke yogdan ko bhulaya gaya ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया