भाजपा-जदयू के बीच 50-50 के फार्मूले से बिहार एनडीए में संकट के बादल


ABHIMANYU VERMA 27/10/2018 09:44 AM
365 Views

Patna. बिहार एनडीए में सीटों के बंटवारे को लेकर भाजपा-जदयू के 50-50 के फार्मूले पर उपेंद्र कुशवाहा नाखुश नजर आ रहे हैं। वहीं, शुक्रवार को इस फार्मूले की बात सामने आने के बात राजद नेता तेजस्वी यादव ने कुशवाहा के साथ बातचीत करते समय की फोटो ट्विटर पर शेयर करके इस सरगर्मी को और भी ज्यादा बढ़ा दिया है। साथ ही कुशवाहा ने तेजस्वी यादव से अरवल स्थित गेस्ट हाउस में मुलाकात कर ये संकेत दिया है कि सीट शेयरिंग में दो से ज्यादी सीटें नहीं मिलने पर वो कोई भी फैसला कर सकते हैं। 

BJP JDU Seat sharing in Bihar NDA

बता दें कि इससे पहले दिल्ली में शुक्रवार को बिहार के सीएम और जदयू अध्यक्ष नीतीश कुमार ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात की। इसके बाद दोनों ने सीटों के बंटवारे को लेकर ऐलान कर दिया।

तेजस्वी से मुलाक़ात के बाद कुशवाहा का बयान 

राजद नेता तेजस्वी यादव से मुलाक़ात के बाद कुशवाहा ने सीटों के बंटवारे पर कहा कि एनडीए में सीटों के बंटवारे को लेकर अभी अंतिम फैसला नहीं हुआ है। वहीं, भाजपा-जदयू के बीच सीट बंटवारे के फार्मूले पर उन्होंने कहा कि 50-50 के फार्मूले पर कुछ साफ नहीं है। यह 5-5 सीट या 15-15 सीट या 25-25 सीट भी हो सकता है। 

कुशवाहा ने कहा कि जब तक कुछ तय नहीं होता है। तब तक कुछ बोलना कैसे संभव है। कुशवाहा ने कहा कि वह एनडीए में हैं। यह संयोग है कि तेजस्वी भी अरवल में ही थे। सूत्रों की माने तो सीटों को लेकर कुशवाहा दिल्ली में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से मुलाक़ात कर सकते हैं। 

क्या हो सकता है सीट शेयरिंग फ़ॉर्मूला ?

सूत्रों की माने तो लोकसभा चुनावों के लिए बिहार एनडीए में सीट शेयरिंग के संभावित फार्मूले के तहत जदयू और भाजपा 17-17 पर जबकि एलजेपी को 4 और कुशवाहा की पार्टी को दो सीट मिल सकती हैं।

बता दें कि बिहार में सीट बंटवारे को लेकर एनडीए में खींचतान है। राम विलास पासवान की एलजेपी भी 7 सीटों से कम पर मानने को तैयार नहीं है। इन सबके बीच उपेन्द्र कुशवाहा की आरएलएसपी भी झुकने के मूड में नहीं है। 

Web Title: BJP JDU Seat sharing in Bihar NDA ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया