मुख्य समाचार
अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर बोला करारा हमला, कहा- नौजवानों की जिन्दगी में ... फतेहपुर में प्रतिबंधित मांस मिलने पर बवाल, मदरसे पर पथराव साक्षी मामले पर मालिनी अवस्थी का बड़ा बयान, लड़कियां जीवन सथी चुनें लेकिन... यूपी पुलिस को मिली बड़ी सफलता, दो इनामी बदमाश किए ढेर वरिष्ठ पत्रकार बरखा दत्त ने कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल पर लगाए गम्भीर आरोप, मचा घमासान अंतिम संस्कार की चल रही थी तैयारी, अचानक युवक की खुली आंखे और फिर जो हुआ... सरकारी आवास के मोह पॉश में जकड़े दो पूर्व मंत्रियों को गहलोत सरकार ने दिया जुर्माने का झटका सलमान संग फिल्मों में डेब्यू कर सुपरस्टार बनीं कटरीना का नहीं है कोई क्राइम रिकॉर्ड 149 साल बाद बन रहा गुरू पूर्णिमा पर चंद्र दुर्लभ योग सपा नेता अखिलेश यादव की गोली मारकर हत्या, सियासत में भूचाल बच्चों में गुणवत्तापरक शिक्षा के साथ अच्छे संस्कार भी जरूरी : ब्रजेश पाठक  रवि किशन ने राहुल को दी नसीहत, सीरियस नहीं हुए तो राजनीति से करियर खत्म योगी सरकार शिक्षा के क्षेत्र में सरकारी नहीं असरदार कार्य कर रही है : उप मुख्यमंत्री जय श्रीराम न बोलने पर बागपत में मौलाना की पिटाई सावन की पूर्णिमा व अमावस्या पर होगी भव्य गंगा आरती पहले दूसरे जाति की लड़की से की शादी, फिर बेइज्जती के डर से पत्‍नी की करवा दी हत्या
 

पढ़ें पूरी रिपोर्ट, भारत आने में अब लगता है डर!


ABHIMANYU VERMA 27/10/2018 14:40:42
241 Views

Lucknow. भारत को विविधताओं का देश माना जाता है। दुनिया में यह एक मात्र ऐसा देश है, जहां पर धार्मिक विविधता के साथ-साथ कई अन्य विविधताएं मौजूद हैं। दुनिया में शायद ही कोई ऐसा देश होगा, जहां पर इतनी सारी भाषाएं बोली जाती हों, जहां इतने सारे कल्चर मौजूद हों और अलग-अलग तरह के त्यौहार लोग मनाते हों। इसी वजह से भारत एक देश के साथ-साथ उपमहाद्वीप के तौर पर भी जाना जाता है। यही नहीं, हमारे यहां अतिथि देवो भव: की परम्परा है। यही वजह है कि विदेशी पर्यटक हमारे देश में घूमने के लिए आते हैं, लेकिन कुछ घटनाओं ने देश की छवि को अंतर्राष्ट्रीय जगत में धूमिल करने का काम किया है।  

It is now afraid to come to India

  विदेशी महिलाओं को भारत में लगता है डर 

जी हां, अब भारत जैसे सभी प्रकृति व संस्कृतियों से समृद्ध देश में विदेशी पर्यटकों को आने में डर लगने लगा है, जो भारत के लिए चिंताजनक है। विदेशी महिलाएं अब भारत में पर्यटन के लिए आने में झिझक रही हैं, इसकी मुख्य वजह, देश में बीते दिनों विदेशी महिलाओं के साथ हुई छेड़छाड़ और यौन उत्पीड़न की घटनाएं हैं। देश के कई बड़े शहरों में विदेशी महिला पर्यटकों के साथ छेड़छाड़ और रेप की घटनाओं से पर्यटन पर काफी असर पड़ा है। ये घटनाएं ज़्यादातर देश के बड़े शहरों जैसे दिल्ली, इलाहाबाद, ऋषिकेश, शिमला, गोवा, मुंबई, आगरा, वृन्दावन अन्य जगहों पर हुई हैं। इन शहरों में विदेशी पर्यटक भ्रमण के लिए ज्यादा आते हैं। 

It is now afraid to come to India

 

  रेप और छेड़छाड़ की घटनाओं से खराब हुई भारत की छवि 

भारत में बीते कुछ सालों में रेप और छेड़छाड़ की घटनाओं के आंकड़ों में तेजी आयी है। इसमें दिल्ली का निर्भयाकांड एक ऐसी घटना थी, जिसने भारत ही नहीं पूरी दुनिया को झकझोर कर रख दिया था, लेकिन इसके बाद भी देश में महिलाओं के साथ बर्बरता की घटनाएं कम होने की बजाय बढ़ी हैं। वहीं, देश में विदेशी मूल की महिलाओं के साथ भी रेप और छेड़छाड़ मामले सामने आए हैं। 

It is now afraid to come to India

बता दें कि हाल ही में हिमाचल के मनाली में एक रूसी महिला के साथ रेप का मामला सामने आया है। इससे पहले इसी साल जुलाई में कनाडा की रहने वाली महिला पर्यटक के साथ दिल्ली में रेप की घटना सामने आयी थी। अगर रेप और छेड़छाड़ की बात की जाए तो महिलाएं खुद को देश की राजधानी दिल्ली में सबसे ज्यादा असुरक्षित महसूस करती हैं। वहीं, इसी साल जून में थॉमसन रॉयटर्स फाउंडेशन के वैश्विक विशेषज्ञों द्वारा किए गए सर्वे में भारत को महिलाओं के लिए सबसे असुरक्षित देश बताया था।

  भारतीय पर्यटन पर बुरा असर

भारत की ओर देश में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए 'अतिथि देवो भवाः' कार्यक्रम की शुरुआत की गई थी, लेकिन इन घटनाओं से भारत के पर्यटन पर काफी असर पड़ा है। हर साल भारत में विदेशी पर्यटकों के आने से केंद्र व विभिन्न प्रदेशों की सरकारों को करोड़ों का फायदा होता है। वहीं, सीधे पर्यटन से तमाम लोग जुड़े हैं, जिससे उन्हें रोजगार मिलता है। लेकिन हाल ही में हुई घटनाओं से विदेशी पर्यटकों की रुचि काफी कम होती जा रही हैं, जो भारत के लिए चिंताजनक है।

It is now afraid to come to India

Web Title: It is now afraid to come to India ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया