मुख्य समाचार
शादी के सिर्फ 6 महीने में ही मां बन गईं नेहा धूपिया, जानें क्या है मामला प्रियंका चोपड़ा के मंगेतर निक जोनस को ये खतरनाक बीमारी राबड़ी ने ऐश्वर्या की मां को बताया, क्या है तेजप्रताप का अंतिम फैसला मुंबई पहुंची दीपवीर की जोड़ी,एक झलक के लिए उमड़ी सैकड़ों की भीड़ बिग बॉस से जलील करके निकाले जाने पर फूटा शिवाशीष का गुस्सा, खोल दी सब पोल पट्टी कांग्रेस के उम्मीदवारों की फ़ाइनल लिस्ट जारी, देखें पूरी सूची... राजस्थान चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, 36 अध्यक्षों ने दिया इस्तीफा शाहरुख खान के बेटे अबराम को बिग बी से है ये शिकायत, जानकर हैरान रह गए महानायक RSS कार्यकर्ताओं ने जन जागरण के लिए निकाली बाइक रैली बीजेपी को घेरने के​ लिए कांग्रेस चलेगी ये ख़तरनाक चाल, संविधान दिवस पर दलितों के... सड़क हादसा: जानवर को बचाने के चक्कर में गयी भाजपा नेता की जान BCCI ने किया ऐलान, रणजी में शमी मात्र 15 ओवर ही खेलेंगे फिर सपना के डांस शो में बवाल, भीड़ हटाने के लिए भाई ने की फायरिंग चुनाव से पहले कांग्रेस के समर्थन में आए चार बड़े दल, भाजपा में मचा हड़कम्प IND vs AUS : कप्तान हरमनप्रीत कौर ने कहा, मुझे लड़कियों पर गर्व है बॉक्सिंग चैंपियनशिप : अनुश ग्रिगोरयान को 4-1 से मात देकर प्री-क्वार्टर फाइनल पहुंची पिंकी रानी शिवपाल यादव ने बनाया ये प्लान तो नेताजी खुशी से हो गए गदगद विश्व धरोहर सप्ताह : भारत की ऐतिहासिक स्मारकों से रू-ब-रू होंगे लखनऊवासी एमपी चुनाव से पहले ही भाजपा ने मानी हार, केंद्रीय मंत्री भी नहीं दे रहे शिवराज का साथ  लोकसभा चुनाव में शिवपाल उठाएंगे ये बड़ा कदम, अब होगी अखिलेश से आमने-सामने की लड़ाई अखिलेश के राजनीतिक गुरु का बड़ा बयान, सपा को बताया गुंडों की पार्टी राजस्थान में कांग्रेस का बड़ा दांव, भाजपा के खिलाफ इस दिग्गज नेता को उतारा मैदान में घायल होने के बाद भी शेर की तरह लड़े सलमान फिर पहुंच गए अस्पताल ब्लैकहेडस् दूर करने के लिए वरदान है चारकोल खुफिया एजेंसी को जैश-ए-मोहम्मद के व्हाट्सएप पर मिली धमकी, हाई अलर्ट जारी मनोज तिवारी ने कहा, आम आदमी पार्टी पूरी तरह से गुंडों की पार्टी फेसबुक ने 1.5 अरब फेसबुक अकाउंट किए डिलीट चुनाव परिणाम के पहले मायावती का बड़ा ऐलान, BJP और कांग्रेस को बताया नागनाथ-सांपनाथ
 

लूट और हत्या के साथ बेहतर कानून व्यवस्था के खोखले दावों को आईना दिखाने आए थे लुटेरे 


GAURAV SHUKLA 30/10/2018 11:59:50
171 Views

Lucknow. बैंकों के आसपास हो रही लूट को लेकर राजधानी में पुलिस के जिम्मेदार अधिकारी किस तरह से कोई सबक लेने के बजाए सुस्त रवैया अपनाए हुए हैं, सोमवार को हुई लूट और हत्या की घटना में लुटेरों ने इसी को लेकर आईना दिखाने का काम किया है। राजभवन के बाहर कैश वैन से लूट और सिक्योरिटी गार्ड की हत्या के बाद जिस तरह लखनऊ पुलिस की ओर से बैंकों की सुरक्षा बढ़ाने और रोजाना चेकिंग अभियान की तस्वीरें सोशल मीडिया पर डाली जा रही थी उसके बाद जनमानस की ओर से पुलिस की जमकर सराहना की गयी। लेकिन समय-समय पर यह अभियान और दावे मुंगेरी लाल के हसीन सपनों की तरह ही साबित हुए। आलम यह हुआ कि कोई भी बड़ी घटना के सामने आने के बाद दर्जनों की संख्या में जांच की टीमों का गठन कर अपनी नाकामी को छुपाने का प्रयास किया गया। इसी के साथ कुछ दिन बाद नई सुर्खियां हासिल करने के लिए नई हेल्पलाइन का गठन कर दिया गया, लेकिन सवाल यह उठता है कि जब पहले से ही मौजूद व्यवस्थाएं दुरुस्त नहीं है और पुलिसकर्मी अपना रवैया बदल बेहतर कानून व्यवस्था के सपनों को लेकर सक्रिया नहीं है तो इन नए दावों का क्या?

Apradhnama Lucknow me hui loot or hatya ki vaardaat
सोमवार को गोमतीनगर के पिकप भवन के पास हुई लूट और हत्या की घटना के बाद एएसपी उत्तरी के नेतृत्व में कुल 12 टीमों को लगाया गया है। इनमें से 4 टीमें टोल प्लाजा और घटना स्थल पर लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाल रही हैं। जबकि 5 टीमें जेल से छूटे अपराधियों के बारे में पता लगा रही है। वहीं 3 अन्य टीमें संदिग्धों से पूछताछ का काम कर रही हैं। वहीं एसएसपी की स्वाट और सर्विलांस टीम भी इस मसले पर सक्रिय कर दी गयी है। जिसके बाद एक बार फिर बैंकों के अंदर और बाहर सुरक्षा के कड़े निर्देश जारी किये गये हैं। गौरतलब है कि पूर्व की हुई घटनाओं के बाद भी एसएसपी ने ग्राहकों और बैंकों की सुरक्षा को लेकर संजीदगी दिखाते हुए थाना प्रभारियों को चेकिंग के लिए कहा था। इसके बाद सुरक्षा पर संजीदगी दिखाते हुए पुलिसकर्मियों ने जमकर फोटो खिंचवाई और साझा किया। लेकिन लगातार हो रही घटनाओं से इन दावों की हकीकत से पर्दा उठता रहा और हर बार वही सवाल उठता रहा कि बैंकों सहित आम आदमी की सुरक्षा किसके हवाले।

Apradhnama Lucknow me hui loot or hatya ki vaardaat  
अभियान के बावजूद सुरक्षित नहीं बैंक
8 जुलाई को राजधानी की कमान संभालने के बाद 30 जुलाई को राजधानी में राजभवन के बाहर कानून मंत्री के आवास के ठीक सामने कैश वैन में हुई लूट और गार्ड की हत्या के मामले के बाद दावों की कड़ी में बैंकों की सुरक्षा को लेकर अहम कदम उठाए जाने का दावा किया गया। लेकिन 31 अगस्त को चौक में बैंक से पैसे निकाल वापस आ रही नगर निगमकर्मी कृष्णा से हुई लूट, 11 सितंबर को अलगींज में कैश जमा करने गये व्यापारी से 10.20 लाख की लूट, 14 सितंबर को पीजीआई बरौना गांव के पास कैशियर राहुल से लूट के बाद हत्या के प्रयास और 15 सितंबर को गोसाईगंज में बैंक ऑफ इंडिया से पैसे निकाल कर जा रहे बीजेपी ब्लॉक प्रमुख के बेटे के साथ लूट के मामले ने इस दावों की पोल खोल दी। 

एक बार फिर फुटेज पर माथापच्ची शुरु 
राजभवन के बाहर कैशवैन लूट की तरह ही सोमवार को विभूतिखंड में पिकप भवन के बाहर हुई घटना के बाद देर शाम हत्यारों का वीडियो और फोटो जारी कर 50,000 इनाम की घोषणा कर दी गयी। जारी की गयी फुटेज बैंक ऑफ इंडिया के बाहर की बताई जा रही है। जिसमें एक युवक बाइक चला रहा है जो नीले रंग जींस और सफेद शर्ट पहने हुए है। जबकि पीछे बैठ युवक ने लोअर और टीशर्ट पहन रखी है। फुटेज जारी करने से पहले तकरीबन 22 सीसी कैमरों की फुटेज निकलवाई गयी। 

Web Title: Apradhnama Lucknow me hui loot or hatya ki vaardaat ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया