मुख्य समाचार
नाम बदलने पर भड़के सपा नेता: कहा, योगी के बाप ने नहीं बसाया आजमगढ़ नाबालिग मासूम से दरिंदगी के बाद हत्या सलमान पर भड़कीं करणवीर की पत्नी टीजे सिंधु, लिखा ओपन लेटर धर्म निरपेक्ष है सबरीमाला मंदिर, सभी धर्मों के लिए खुला है : केरल सरकार छठ पर्व : एसएसपी ने घाटों पर पहुंचकर लिया जायजा, लगाई गईं तमाम टीमें कैबिनेट बैठक के बाद सीएम के निकलने से पहले महिला ने किया आत्मदाह का प्रयास  नेताजी से रिश्ते पर कुछ बोल न सके शिवपाल, भतीजे के बाद भाई ने भी तोड़ा नाता! दो माह में निचले स्तर पर पहुंचे डीजल के भाव, 26 दिन में 5 रुपये घटे पेट्रोल के दाम #Chhath puja: छठ का त्योहार क्यों मनाया जाता है , जानिए इस व्रत का क्या है महत्व सांसद जी के गाने पर चलती रहीं गोलियां भारत में oneplus 6T का थंडर पर्पल वेरिएंट लॉन्च, जानें क्या है कीमत व आॅफर्स जानिए, क्यों मनाया जाता है छठ महापर्व जन्मदिन विशेष: अश्लील गाने की शूटिंग के बाद फूट-फूट कर रोई थीं जूही चावला बदलते मौसम में खाएं ये चीजें, खिली-खिली रहेगी त्वचा शह और मात के खेल में बीजेपी की करारी शिकस्त, एक ही दिन में सैकड़ों नेता सपा में शामिल  रेसलर का गुस्सा राखी ने तनुश्री पर निकाला, कही ये होश उड़ाने वाली बात विशेष : फेक न्यूज़ डिटेक्शन पर हुई वर्कशॉप, सामने आईं कई महत्वपूर्ण बातें
 

राज्य सरकारें तय कर सकती हैं दीपावली पर पटाखे जलाने का समय : सुप्रीम कोर्ट


ABHIMANYU VERMA 30/10/2018 14:18:55
86 Views

New Delhi. सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को दीपावली पर पटाखे जलाने को लेकर अपना रुख साफ करते हुए कहा कि ग्रीन पटाखे की शर्त केवल दिल्ली-एनसीआर के लिए है। इन दोनों जगहों को छोड़कर देश में अन्य जगहों पर सामान्य रूप से लोग पटाखे जला सकेंगे। हालांकि कोर्ट ने पटाखे फोड़ने को लेकर दिये समय में बदलाव को लेकर साफ इंकार कर दिया है।

बता दें कि कुछ पहले ही कोर्ट ने देश में पटाखे जलाने और उनको बेचने को लेकर अहम फैसला सुनाया था। कोर्ट की तरफ से पटाखे फोड़ने का समय रात 8 बजे से 10 बजे तक तय किया था।

Supreme Court says state governments can decide on timing of crackers on Deepawali

पटाखे फोड़ने का समय तय कर सकती है राज्य सरकार

सुप्रीम कोर्ट ने पटाखे फोड़ने के समय को लेकर एक नया निर्देश जारी किया है कोर्ट ने कहा कि दीपावली पर पटाखे फोड़ने का समय राज्य सरकारें निर्धारित कर सकती हैं। हालांकि सिर्फ दो घंटे पटाखे लोग जला सकेंगे। कोर्ट का ये फैसला तमिलनाडु सरकार की उस अपील के एवज में आया है, जिसमें धार्मिक परंपरा का हवाला देते हुए सुबह के समय पटाखा फोड़ने की अनुमति मांगी गयी थी। 

पटाखों को फोड़ने को लेकर मंगलवार को कोर्ट ने कहा कि ग्रीन पटाखे केवल दिल्ली-एनसीआर में ही जलाए जाएंगे। यह निर्देश देश के अन्य हिस्सों पर लागू नहीं होगा। तमिलनाडु सरकार ने याचिका दायर कर कोर्ट के पटाखे जलाने के समय को लेकर आदेश में संशोधन करने का अनुरोध करते हुए कहा था कि राज्य में सुबह साढ़े चार बजे से लेकर सुबह साढ़े छह बजे तक भी पटाखे फोड़ने की अनुमति दी जाए। 

Web Title: Supreme Court says state governments can decide on timing of crackers on Deepawali ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया


loading...