रमा एकादशी करने से होती है मोक्ष की प्राप्ति


ANAMIKA PANDEY 03/11/2018 10:20:05
768 Views

Lucknow. रमा एकादशी कार्तिक माह के कृष्णपक्ष में मनाई जाती है। इस दिन भगवान श्रीकृष्ण की पूजा की जाती है। इस बार ये व्रत 3 नवम्बर दिन शनिवार को है।

Rama Ekadashi se hace alcanzando la liberacion

माना जाता है कि इस व्रत के प्रभाव से सभी पाप नष्ट हो जाते हैं, यहां तक कि ब्रह्म-हत्या जैसे महापाप भी दूर हो जाते हैं। सौभाग्यवती स्त्रियों के लिए यह व्रत सुख और सौभाग्यप्रद माना जाता है।

यह भी पढ़ें.... नवम्बर महीने में त्योहारों का उपहार

व्रत विधि- रमा एकादशी के दिन सुबह स्नान आदि करने के बाद व्रत करने का संकल्प लें। जिस प्रकार आप व्रत कर सकते हैं, यदि आप पूरा दिन निराहार रहना चाहते हैं या फिर एक समय फलाहार करना चाहते हैं। तो उसी अनुसार संकल्प लें।

इस दिन आप भगवान श्रीकृष्ण की विधि–विधान से पूजा–अर्चना करें। यदि आप स्वयं पूजा नहीं कर सकते तो किसी योग्य ब्राह्मण को बुलाकर पूजा करा सकते हैं। पूजा करने के बाद में भगवान को भोग लगाएं व प्रसाद भक्तों को बांट दें। इस दिन श्रीमद्भागवत का पाठ करें।

Rama Ekadashi se hace alcanzando la liberacion

एकादशी के अगले दिन ब्राह्मणों को दान–दक्षिणा के बाद भोजन ग्रहण किया जाता है ।

यह भी पढ़ें.... #Ahoi Ashtami:जानिए संतान के लिए मां क्यों करती हैं ये व्रत

महत्व- पुराणों के अनुसार रमा एकादशी कामधेनु और चिन्तामणि के समान फल देती है। इस व्रत से सभी पापों का नाश हो जाता है। मृत्यु के बाद उसे मोक्ष की प्राप्ति होती है।

Web Title: Rama Ekadashi se hace alcanzando la liberacion ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया