#Dhanteras2018: इस दिन खरीदें ये चीजें, समृद्धि आएंगी आपके द्वार


ANAMIKA PANDEY 03/11/2018 18:37:49
1540 Views

Lucknow. दीपावली का त्योहार हिन्दुओं का प्रमुख त्योहार है। दीपावली के पहले धनतेरस का त्योहार मनाया जाता है। कार्तिक माह के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि के दिन भगवान धन्वन्तरि का जन्म हुआ था। इसलिए इस त्योहार को धनतेरस के नाम से मनाया जाता है। इस बार धनतेरस का त्योहार 5 नवम्बर को मनाया जाएगा।

dhantairas2018 is din khareede ye cheejen samrddhi aaengee aapake dvaar

धनवन्तरी जब प्रकट हुए थे तो उनके हाथों में अमृत से भरा कलश था, क्योंकि भगवान धन्वन्तरी कलश लेकर ही प्रकट हुए थे। इसलिए इस दिन बर्तन खरीदने की परम्परा है। धनतेरस के दिन धन के देवता की पूजा कुबेर की पूजा- अर्चना का विशेष महत्व दिया जाता है। इस दिन को धनवंतरि जयंती के नाम से भी जाना जाता है।

यह भी पढ़ें... रमा एकादशी करने से होती है मोक्ष की प्राप्ति

  धनतेरस पूजा की विधि

इस दिन बर्तन खरीदने की जो परंपरा है उसे जरूर पूरा करना चाहिए। अर्थात् धनतेरस के दिन बर्तन अवश्य खरीदना चाहिए। विशेष तौर पर चांदी और पीतल के बर्तन अवश्य खरीदें, क्योंकि ये महर्षि धन्वन्तरी की अहम धातु है। इससे घर में आरोग्य, सौभाग्य और स्वास्थ्य लाभ की प्राप्ति होती है। व्यापारी इस दिन नये बहीखाते खरीदते हैं, जिनका दीपावली के दिन पूजन करते हैं।

dhantairas2018 is din khareede ye cheejen samrddhi aaengee aapake dvaar

धनतेरस के दिन चांदी का बर्तन खरीदने की जो परंपरा है, क्योंकि चन्द्रमा का प्रतीक चांदी है, जो मनुष्य को जीवन में शीतलता प्रदान करता है। चांदी कुबेर की धातु है, इसलिए इस दिन चांदी के बर्तन खरीदने से घर में यश, कीर्ति, ऐश्वर्य और संपदा की वृद्धि होती है। धनतेरस की शाम में यमदेव को दीपदान किया जाता है। इस दिन दीपदान करने से परिवार को मृत्युदेव यमराज के कोप से सुरक्षा मिलती है, और परिवार आरोग्य रहता है।  

यह भी पढ़ें...  नवम्बर महीने में त्योहारों का उपहार

 

 

Web Title: dhantairas2018 is din khareede ye cheejen samrddhi aaengee aapake dvaar ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया