मुख्य समाचार
कांग्रेस ने यूपी की गोरखपुर व वाराणसी सीट के उम्मीदवारों के नाम का किया एलान PM मोदी ने कहा- पड़ोस में आतंकवाद की फैक्ट्री चल रही है और विरोधी बोलते हैं यह मुद्दा ही नहीं है सीएम ममता की बायोपिक पर रोक, दिया ये करारा जवाब कांग्रेस को यूपी में बड़ा झटका, इस प्रत्याशी का पर्चा हुआ खारिज, जानिए क्या रही वजह B.Ed डिस्टेंस अभ्यर्थियों का CET परीक्षा परिणाम जारी, यहां देखें रिजल्ट शिक्षक बनने का सुनहरा मौका, जल्द करें आवेदन दिव्यांका त्रिपाठी ने किया इस शो को छोडने का फैसला, जानें वजह पोलिंग बूथ पर पीठासीन अधिकारी से मारपीट करने वाला गिरफ्तार जन्मदिन पर सचिन को मिला नोटिस वाला तोहफा कैसरगंज के प्रेक्षकों ने चुनाव तैयारियों का लिया जायजा, कार्यवाही की चेतावनी मनचले ने तेल छिड़क कर युवती को जलाया, बेटी के साथ मां भी झुलसी हेलीकॉप्टर से गरमाया एमपी का सियासी माहौल  मोदी चौकीदार हैं या कोई शहंशाह : प्रियंका
 

हॉकी टीम को PCB ने ऋण देने से किया साफ इनकार


SUJEET KUMAR 08/11/2018 14:13:16
136 Views

New Delhi. पाकिस्तान की हॉकी टीम को एक बड़ा झटका लगा है क्योंकि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) ने भारत में 28 नवंबर से शुरू होने वाली वर्ल्ड कप हॉकी की प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए अपने देश की राष्ट्रीय हॉकी टीम को वित्तीय मदद से देने से इनकार कर दिया है।

Hockey Cash-strapped Pakistan

बता दें कि पाकिस्तान हॉकी महासंघ (पीएचएफ) ने टीम को भुवनेश्वर भेजने और खिलाड़ियों के बकाए का भुगतान करने के लिए पीसीबी से ऋण देने की अपील की थी। इस पर पीसीबी ने उन्हें  ऋण देने से साफ इनकार कर दिया है।  इस बात की जानकारी पाकिस्तान के नए मुख्य कोच ताकिर दार और मैनेजर हसन सरदार ने दी है। उन्होंने पीसीबी प्रमुख एहसान मनि से बात करके उनसे वर्ल्ड कप के खर्चों के लिए ऋण मुहैया कराने का आग्रह किया था। 

Hockey Cash-strapped Pakistan

मुख्य कोच ताकिर दार ने बताया  कि ‘‘हमें उनसे गुरुवार को बैठक करनी थी लेकिन कुछ जरूरी मसलों के कारण उन्होंने हमसे फोन पर बात की। उन्होंने स्पष्ट किया कि पीसीबी पीएचएफ को किसी तरह का अग्रिम ऋण नहीं दे सकता है क्योंकि बोर्ड ने लेफ्टिनेंट जनरल (सेवानिवृत) तौकिर जिया के कार्यकाल के दौरान महासंघ को जो ऋण दिया था उसे लौटाया नहीं।’’ ताकिर दार ने कहा कि मनि ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि पुराने ऋण के कारण बोर्ड के लिए नया ऋण देना संभव नहीं है, क्योंकि उन्हें अपने वित्तीय सलाहकारों और लेखा परीक्षकों को जवाब देना है।

Hockey Cash-strapped Pakistan

ताकिर दार ने कहा कि उन्होंने मनि से कहा कि वह प्रधानमंत्री से कहें कि सरकार चाहे तो पीएचएफ को पैसा देने के बजाय वह होटल बिल और खिलाड़ियों के बकाये का सीधा भुगतान कर सकती है। खिलाड़ियों को अभी एशियाई चैंपियन्स ट्रॉफी और इस टूर्नामेंट से लगाए गए शिविर के दैनिक भत्ते भी नहीं मिले हैं। 

ताजा खबरों को मोबाईल पर पाने के लिए यहां क्लिक करें।

भारतीय उच्चायोग से वीजा सुनिश्चित करने के लिए पीएचएफ ने पहले ही आवेदन कर दिया है क्योंकि दो साल पहले वीजा नहीं मिलने के कारण जूनियर वर्ल्ड कप के लिए पाकिस्तान की जूनियर टीम भारत दौरे पर नहीं आ सकी थी। वर्ल्ड कप के लिए शिविर हालांकि बुधवार से लाहौर में शुरू हो गया।

Web Title: Hockey Cash-strapped Pakistan's World Cup participation in doubt ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया