मुख्य समाचार
बिहार के पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा का निधन मायावती का आरक्षण पर बड़ा बयान, सरकार घूम-घूमकर करे ये काम.... लालू का चलना फिरना हुआ मुश्किल, डॉक्टर्स ने कहा- अब नहीं... यूजीसी ने प्लास्टिक बैन पर लिया बड़ा फैसला, विश्वविद्यालयों को लिखा पत्र शराब के नशे में फुटपाथ पर चढ़ाई कार, कई लोगों को किया घायल ताबड़तोड़ हत्याओं से दहला प्रयागराज, एक ही दिन में 6 मर्डर मिट्टी डालकर गड्ढामुक्त की जा रही डामर रोड शुद्ध जीवन जीने के लिए पेड़ लगाना जरूरी जानिए, कैसे बढ़ाएंं पलकों और होठों की खूबसूरती बिना सर्जरी ? कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व सीएम की महारैली, कर सकते हैं ये बड़ा फैसला तेजस्वी के समर्थन में राबड़ी उठाया ये बड़ा कदम, परास्त हो गए सारे बागी प्लास्टिक के खिलाफ पीएम ने छेड़ी जंग, 10 लाख लोगों को करेंगे... मुख्यमंत्री से नहीं मिल सका दुनिया का सबसे लम्बा आदमी कांग्रेस पूरे प्रदेश में मनायेगी स्व0 राजीव गांधी की 75वीं जयन्ती अखिलेश ने दिया ऐसा बयान, किसान और जवान कर रहे सलाम!
 

सीवीसी को सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा के खिलाफ जांच में नहीं मिला कोई ठोस सबूत


RAGHVENDRA CHAURASIA 11/11/2018 12:10 PM
235 Views

New Delhi.सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच केंद्रीय सर्तकता आयोग (सीवीसी) कर रही है। सूत्रों के हवाले से खबर है कि सीवीसी को आलोक वर्मा के खिलाफ कोई सबूत नहीं मिले हैं। हालांकि अभी इसका अधिकारिक एलान नहीं किया गया है। 

Cbi Nidishek Alok Verma Ke Khilaph Jaach Me Nahi Mila Thaus Sabaut

यह भी पढ़ें...बड़ी खबर: अब इस नेता ने अखिलेश यादव से कहा ​अगर बीजेपी का सफाया करना है तो मायावती के साथ ​आएं

  सीवीसी यह जांच पूर्व न्यायाधीश की अध्यक्षता में कर रही है

देश के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की पीठ ने सेवानिवृत्त न्यायाधीश पटनायक को सरकार द्वारा कराई जा रही सीवीसी जांच की अध्यक्षता करने के लिए चुना था। सीबीआई के दोनों बड़े अधिकारियों ने एक -दूसरे पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है। सीबीआई ने 15 अक्टूबर को अस्थाना के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई थी। वहीं अधिकारी ने 24 अगस्त को आलोक वर्मा के खिलाफ कैबिनेट सचिव को पत्र लिखा था। 

Cbi Nidishek Alok Verma Ke Khilaph Jaach Me Nahi Mila Thaus Sabaut

  अस्थाना ने वर्मा पर लगाए थे आरोप

राकेश अस्थाना द्वारा दिए गए विभिन्न सूबतों की जांच सीवीसी ने की है। सीवीसी को आलोक वर्मा के खिलाफ कोई ठोस सबूत नहीं मिले हैं। सीवीसी की जांच में केवी चौधरी और विजिलेंस कमिश्नर,शरद कुमार और टीएम बसीन शामिल थे।

यह भी पढ़ें...अजीत जोगी व मायावती ने जारी किया घोषणा पत्र,किये ये बड़े वादे,बीजेपी व कांग्रेस में बैचेनी

Web Title: Cbi Nidishek Alok Verma Ke Khilaph Jaach Me Nahi Mila Thaus Sabaut ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया