मुख्य समाचार
 

जानिए, अगहन माह को क्यों कहते हैं मार्गशीर्ष


ANAMIKA PANDEY 23/11/2018 12:39:39
1014 Views

Lucknow. हिन्दू वर्ष का नवा महीना अगहन के नाम से जाना जाता है। इसे मार्गशीर्ष भी कहते हैं। इस बार 24 नवम्बर, दिन शनिवार से मार्गशीर्ष (अगहन) महीने की शुरुआत हो रही है। यह महीना 22 दिसंबर शनिवार तक रहेगा।

Know Why Agah Month Is On The Way

शास्त्रों के अनुसार, यह महीना भगवान कृष्ण का स्वरूप माना जाता है। इस महीने में शंख पूजा का विशेष महत्व है। इस महीने में शंख की पूजा करने से सभी मनोवांछित फल प्राप्त हो जाते हैं। अगहन महीने में शंख की पूजा करने के विशेष मंत्र है।

Know Why Agah Month Is On The Way

  अगहन को मार्गशीर्ष कहने का महत्व

अगहन को मार्गशीर्ष कहने का विशेष संबंध है। शास्त्रों में कहा गया है कि इस महीने का संबंध मृगशिरा नक्षत्र से है। इस महीने की पूर्णिमा मृगशिरा नक्षत्र से युक्त होती है। इसी वजह से इस महीने को मार्गशीर्ष महीना भी कहा जाता है।

 

 

 

  पूजा मंत्र

त्वं पुरा सागरोत्पन्न विष्णुना विधृत: करे।
निर्मित: सर्वदेवैश्च पाञ्चजन्य नमोऽस्तु ते।
तव नादेन जीमूता वित्रसन्ति सुरासुरा:।
शशांकायुतदीप्ताभ पाञ्चजन्य नमोऽस्तु ते॥

यह भी पढ़ें... जानिए कार्तिक पूर्णिमा का क्या है महत्व

इन मंत्रों के उच्चारण से शंख की पूजा इस महीने में करने से सभी कामनाओं की पूर्ति होती है जीवन में सुख का अनुभव होता है ।

Know Why Agah Month Is On The Way

 शंख पूजन का महत्व

शंख को मां लक्ष्मी का प्रतीक भी माना जाता है, इसकी पूजा महालक्ष्मी को प्रसन्न करने वाली होती है। इसी कारण जो व्यक्ति नियमित रूप से शंख की पूजा करता है उसे धन-धान्य की कभी कमी नहीं होती है।

सभी वैदिक कार्य में शंख का विशेष स्थान है। शंख का जल सभी को पवित्र करने वाला माना गया है, इसलिए पूजन के बाद जब आरती हो जाती है तो शंख के जल का छिड़काव सभी पर किया जाता है।

Web Title: Know Why Agah Month Is On The Way ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया