इंग्लैंड के खिलाफ मैच से बाहर रखने पर मिताली ने तोड़ी चुप्पी, कोच पर लगाए गंभीर आरोप


SUJEET KUMAR 28/11/2018 09:59:05
180 Views

New Delhi. भारतीय महिला क्रिकेट टीम की दिग्गज बल्लेबाज मिताली राज ने प्रशासकों की समिति (सीईओ) की सदस्य डायना एडुलजी और कोच रमेश पोवार पर गंभीर आरोप लगाए हैं। मिताली ने दोनों पर गरजते हुए कहा कि दोनों का रवैया उनके खिलाफ पक्षपातपूर्ण है और वह उन्हें बर्बाद करने की कोशिश कर रहे हैं। हालांकि पोवार ने मिताली द्वारा लगाए गए आरोपों को गलत ठहराया है। जबकि एडुलजी ने अभी इसपर कोई बयान नहीं दिया है। 

mithali raj has lashed out at the womens team coach ramesh powar says he humiliated

इसी के साथ ही मिताली ने आईसीसी महिला टी-20 वर्ल्ड कप में इंग्लैंड के खिलाफ सेमीफाइनल मुकाबले में मैच बाहर रखने पर भी अपनी चुप्पी तोड़ी है। बीसीसीआई को लिखे ई मेल में मिताली ने कहा कि अपने दो दशक से अधिक के करियर में उसने इतना अपमानित कभी महसूस नहीं किया और वह अपने आंसू नहीं रोक सकीं। उन्होंने आरोप लगाया कि उन्हें बाहर करने का समर्थन करने वाली एडुलजी ने उनके खिलाफ अपने पद का फायदा उठाया। बता दें कि इस सेमीफाइनल मैच में भारत इंग्लैंड से आठ विकेट से हराया था। साथ ही वह वर्ल्ड कप से भी बाहर हो गया था। 

मिताली ने बीसीसीआई सीईओ राहुल जौहरी और क्रिकेट संचालन महाप्रबंधक सबा करीम को लिखे पत्र में कहा, ‘ मेरे 20 बरस के लंबे करियर में पहली बार मैंने अपमानित महसूस किया। मुझे यह सोचने पर मजबूर होना पड़ा कि देश के लिए मेरी सेवाओं की अहमियत सत्ता में मौजूद कुछ लोगों के लिए है भी या नहीं या वे मेरा आत्मविश्वास खत्म करना चाहते हैं।’

 

मिताली ने कहा, ‘ मैं टी-20 कप्तान हरमनप्रीत के खिलाफ कुछ नहीं कहना चाहती, लेकिन मुझे बाहर रखने के कोच के फैसले पर उसके समर्थन से मुझे दुख हुआ। मैं देश के लिए विश्व कप जीतना चाहती थी। मुझे दुख है कि हमने सुनहरा मौका गंवा दिया।’


मिताली ने कहा, ‘हालात बेकाबू होने पर मैंने टीम मैनेजर से भी बात की, लेकिन उसके बाद हालात बदतर होते चले गए। कोच के लिए मानो मैं टीम में थी ही नहीं। पोवार ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच में मैदान पर नहीं आने के लिए कहा। शाम को टीम बैठक के बाद रमेश ने मेरे कमरे में फोन किया और कहा कि मैदान पर नहीं आना क्योंकि वहां मीडिया होगा। मैं स्तब्ध रह गई कि मेरे टीम के साथ होने से मीडिया को क्या दिक्कत है। हमारे सबसे बड़े मैच में मुझे अपनी टीम से अलग रहने को कहा गया।’

 

यह भी पढ़ें...मिताली को मैच से बाहर रखने पर मैनेजर ने हरमनप्रीत को झूठा बताया

गौरतलब है कि इंग्लैंड के खिलाफ महिला टी-20 विश्व कप के सेमीफाइनल में भारत की अनुभवी बल्लेबाज मिताली राज को मैच से बाहर रखने पर इंडियन क्रिकेट टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर आलोचकों का शिकार हुई थीं। मिताली के बाहर रखने पर हरमनप्रीत कौर का कहना था कि यह फैसला टीम के हित को ध्‍यान में रखते हुए लिया गया था, जिस पर उन्‍हें कोई अफसोस नहीं है। वह टीम के हित में किया। कई बार यह सही रहता है और कई बार नहीं। मुझे इसका खेद नहीं है। हमारी टीम ने पूरे टूर्नामेंट में जिस तरह से बल्लेबाजी की उस पर मुझे गर्व है। 

Web Title: mithali raj has lashed out at the womens team coach ramesh powar says he humiliated ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया