मुख्य समाचार
किसी दुर्घटना के इंतजार में चार दिन से पड़ा आंधी में गिरा यह पेड़ पहले निर्माण, अब चारे के नाम पर गोशालाओं में प्रधान कर रहे फर्जीवाड़ा इसरो की तैयारियां पूरी, सोमवार को होगा चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण  कम नहीं हो रहीं आज़म खान की मुसीबतें, 3 और एफआईआर दर्ज छोटी सी गलती एक्टर को पड़ी भारी, 14 दिन की न्यायिक हिरासत में सोनभद्र: सीएम के दौरे को लेकर पुलिस ने कसा शिकंजा, पूर्व विधायक समेत कई कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी  सोशल मीडिया पर कहर ढा रहीं हॉट एक्ट्रेस ईशा गुप्ता, देखें सिजलिंग तस्वीरें लखनऊ: मुठभेड़ में टिंकू नेपाली गैंग के सरगना समेत तीन गिरफ्तार, दो सिपाही जख्मी मलाइका की सिजलिंग फोटो देख खुद पर काबू नहीं रख पाए आर्जुन कपूर, कर दिया ऐसा कमेंट... यूपी में बदमाशों के हौसले बुलंद, भाजपा नेता को गोलियों से भूना दो पुलिस कर्मियों की हत्या कर भागे कैदियों में एक को मुठभेड़ में पुलिस ने किया ढेर बाढ़ और बारिश से बेस्वाद हुई दाल, टमाटर हुआ लाल, इन सब्जियों के बढ़े 50 फीसदी दाम मॉब लिंचिंग पर सपा सांसद का बड़ा बयान, कहा- पाकिस्तान न जाने की सजा भुगत रहे हैं मुसलमान अब इस दिग्गज ने की प्रियंका के नाम की वकालत बाढ़ से बेहाल असम-बिहार, ताजा तस्वीरों में देखें तबाही का मंजर पीड़ितों ने कौन सा अपराध किया जो उन्हें मुझसे मिलने से रोका जा रहा : प्रियंका AKTU : यूपीएसईई – 2019 की काउंसलिंग का तीसरा चरण आज से शुरु ICC के फैसले से सदमे में जिम्बाब्वे की टीम प्लेसमेंट ड्राइव में 5 से 7 लाख के पैकेज के साथ आई कंपनी, 120 छात्र-छात्राओं ने किया प्रतिभाग मंचीय कविता के आखिरी स्तम्भ थे नीरज : लक्ष्मी नारायण चौधरी एजाज खान के अरेस्ट होने के बाद ट्वीटर पर छाए मीम्स- यूजर्स बोले... ग्रामीण क्षेत्रों में भी किया जाना चाहिए मैंगो फूड फेस्टिवल का आयोजन : डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा तेजबहादुर की याचिका पर पीएम मोदी को नोटिस
 

शीतकालीन सत्र: हंगामे के बीच लोकसभा में पेश हुआ तीन तलाक विधेयक


ABHIMANYU VERMA 17/12/2018 15:41:52
270 Views

New Delhi. लोकसभा में सोमवार को हंगामे के बीच तीन तलाक से संबंधित विधेयक (मुस्लिम महिला विवाह अधिकार संरक्षण विधेयक) पेश किया गया। केंद्रीय विधि एवं न्याय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने इस बिल को सदन में पेश किया, जिसमें मुस्लिम महिलाओं को तीन तलाक से संरक्षण प्रदान करने के साथ ऐसे मामलों में दंड का भी प्रावधान किया गया है। इस दौरान रविशंकर प्रसाद ने कहा कि तीन तलाक से जुड़ी खामियों से मुस्लिम महिलाओं को सुरक्षा प्रदान करने के लिए यह विधेयक लाया गया है।

Teen talaq Bill introduced in Lok Sabha

केंद्रीय मंत्री ने आगे कहा कि इस मामले में सुप्रीम कोर्ट का निर्देश आने के बावजूद धड़ल्ले से तीन तलाक दिया जा रहा था, जिससे मुस्लिम महिलाएं काफी परेशान थी। यह विधेयक मुस्लिम महिला विवाह अधिकार संरक्षण अध्यादेश 2018 का स्थान लेगा। वहीं, सदन में विधेयक पेश किए जाने का विरोध करते हुए कांग्रेस नेता शशि थरूर ने कहा कि तलाक को दंडनीय अपराध नहीं बनाया जा सकता है। इस विधेयक को एक वर्ग विशेष को ध्यान में रखकर लाया गया है। इसमें इस मुद्दे से जुड़े एक बड़े वर्ग को नजरंदाज किया गया है। उन्होंने कहा कि यह संविधान के अनुच्छेद 21 के अनुरूप नहीं है और संसद ऐसे विधान को नहीं बना सकता है। 

यह भी पढ़ें:-...लोकसभा चुनाव के लिए राजद में बड़ा बदलाव, इन्हें मिलने जा रही है पार्टी की कमान 

Teen talaq Bill introduced in Lok Sabha

इस पर थरूर के आरोपों का जवाब देते हुए रविशंकर प्रसाद ने कहा कि यह विधेयक देश के हित में है और पूरी तरह से संवैधानिक है। इसमें दंडात्मक प्रावधान के साथ ही अन्य चीजों में सुधार भी किये गए हैं। इसमें मुस्लिम महिलाओं को हितों का खास ध्यान रखा गया है। इस पर आपत्ति बेबुनियाद है। 

Teen talaq Bill introduced in Lok Sabha

गौरतलब है कि तीन तलाक से संबंधित मुस्लिम महिला विवाह अधिकार संरक्षण विधेयक पहले लोकसभा में पारित हो गया था, लेकिन राज्यसभा में बहुमत के अभाव में सरकार से पारित कराने में असफल रही थी। इसके बाद सरकार ने अध्यादेश लाकर इसे राष्ट्रपति से मंजूरी दिलाई। अब नए सिरे से मुस्लिम महिला विवाह अधिकार संरक्षण विधेयक 2018 को लोकसभा में पेश किया गया है।

Web Title: Teen talaq Bill introduced in Lok Sabha ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया