मुख्य समाचार
अपने बजट का पांच फीसद हिस्सा पशुओं के कल्याण में लगाएं राज्य: गिरीश रतन टाटा को हाईकोर्ट से मानहानि मामले में राहत, जानें पूरा मामला मॉब लिंचिंग पर फिर बोले नसीरुद्दीन शाह, परिजनों से मिलकर कहा- साहस को... ट्रामा में फैला खतरनाक फंगस, कारगर दवा नहीं, अलर्ट जारी समलैंगिक विवाह के लिए कोर्ट पहुंचीं दो युवतियां, मजिस्ट्रेट ने नहीं लिया आवेदन, जानें वजह 10वीं पास के लिए दो हजार से अधिक पदों पर भर्तियां, ऐसे कर सकते हैं आवेदन दिव्यांग किशोरी से रेप करते धरा गया वृद्ध और फिर जो हुआ... भारत की गोल्डन गर्ल हिमा दास, जानिये खास बातें सरकार का सख्त आदेश, एयर इंडिया नहीं करे नियुक्ति और पदोन्नति फिर विवादों में घिरीं सोनाक्षी, धोखाधड़ी मामले के बाद सेक्सोलॉजिस्ट ने भेजा नोटिस अटल के आचरण से प्रेरित होकर एक आदर्श कार्यकर्ता का होता है निर्माण : स्वतंत्र देव अनिवार्य होगा टेस्ट, नशे में मिलने पर होगा निलंबन  लाइव शो में कॉमेडियन की मौत, लोग समझते रहे परफॉर्मेंस बजाते रहे तालियां... मेयर, पार्षद और नगर पंचायत अध्यक्ष भी लगाएंगे पौधे  यूपी में औद्योगिक विकास को बढ़ावा देने के हर सम्भव किये जाये प्रयास : उपमुख्यमंत्री मायावती ने चला ये बड़ा दांव, नहीं गिरेगी कर्नाटक की सरकार!
 

किसान दिवस विशेष: अन्नदाता के मसीहा माने जाते थे चौधरी चरण सिंह


ABHIMANYU VERMA 23/12/2018 11:29:50
218 Views

Lucknow. हमारा देश हमेशा से कृषि प्रधान देश रहा है। इसके पीछे की वजह यह है कि यहां की जनसंख्या का एक बड़ा भाग कृषि पर निर्भर है। वहीं, देश का अन्नदाता किसान न जाने कितनी मुसीबतों को उठाकर हमारा पेट भरता है और यही वजह है कि वह देश की रीढ़ की हड्डी भी है। उस किसान के सम्मान में हर साल 23 दिसंबर को किसान दिवस के रूप में मनाया जाता है। 

23 december Farmer Day Special Story

वैसे तो किसान एक दिन ही नहीं बल्कि जीवन के प्रत्येक दिन सम्मान के पात्र हैं, लेकिन उनके सम्मान के लिए 23 दिसंबर को किसान दिवस मनाए जाने के पीछे भी एक खास वजह है। दरअसल इस दिन यानि 23 दिसंबर को किसानों के मसीहा कहे जाने वाले चौधरी चरण सिंह का जन्म हुआ था। उन्हीं के सम्मान में हर साल किसान दिवस मनाया जाता है।

23 december Farmer Day Special Story

बता दें कि यूपी के हापुड़ जिले में जन्मे चौधरी चरण सिंह देश के प्रधानमंत्री पद पर ही रहे थे। वह भारत के पांचवें प्रधानमंत्री थे और उनका कार्यकाल सबसे कम 28 जुलाई 1979 से 14 जनवरी, 1980 तक रहा था। उन्होंने प्रधानमंत्री रहते हुए अपने कम समय के कार्यकाल में चरण सिंह भारतीय किसानों की दशा सुधारना की कोशिश की और इसके लिए कई पॉलिसीज भी लाए।

यह भी पढ़ें:-...ज्वालामुखी फटने से इंडोनेशिया में आयी सुनामी, 43 की मौत 600 घायल

23 december Farmer Day Special Story

चौधरी चरण सिंह के किसानों के प्रति ज्यादा लगाव की वजह यह भी थी कि वह खुद भी किसान परिवार से आते थे और किसानों की समस्या को अच्छी तरह समझ सकते थे। इसके अलावा वह एक अच्छे लेखक भी थे और उनकी अंग्रेजी पर अच्छी पकड़ भी थी। 'ऐबॉलिशन ऑफ जमींदारी', 'इंडियाज पॉवर्टी ऐंड इट्ज सॉल्यूशंस 'औऱ 'लेजंड प्रोपराइटरशिप' जैसी किताबें उन्हीं की लिखी हुई हैं।

Web Title: 23 december Farmer Day Special Story ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया