पीएम मोदी ने कहा साढ़े चार साल में गंगा के प्रदूषण स्तर में कमी आई


RAGHVENDRA CHAURASIA 29/12/2018 19:30 PM
107 Views

Varanasi. प्रधानमंत्री मोदी ने गाजीपुर के बाद अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में करोड़ों रुपये की परियोजनाओं का शिलान्यास किया। इस दौरान पीएम ने काशी के बड़ालालपुर स्थित हस्तकला संकुल में प्रवासी भारतीय सम्मेलन की तैयारियों का जायजा लिया। इसके साथ ही कई निर्माणधीन परियोजनाओं की प्रगति की समीक्षा की। उन्होेंने कहा कि काशी की सूरत पिछले साढ़े चार साल में बदल गई है अब काशी का दिव्य स्वरूप लगातार तेजी के साथ बढ़ रहा है।

Pm modi Ne Kaha Ki Kashi Ka divy Swaroop Lagatar Teji Ke sath Badh Raha

  हमारी सरकार ने युवाओं को रोजगार से जोड़ा 

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र में अपनी सरकार का बखान किया। उन्होेंने कहा कि हमारी सरकार ने पिछले साढ़े चार सालों में हर तबके लिए काम किया है। पीएम ने कहा कि हमने युवाओं को रोजगार भी दिया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि एक जनपद एक उत्पाद के तहत आयोजित क्षेत्रीय प्रदर्शनी का अवलोकन किया। इसके बाद 279 करोड़ रूपये की 14 विकास परियोजनाओं का शिलान्यास किया और 12 योजनाओें का लोकार्पण किया। पीएम ने कहा कि देश के जितने जिले हैं वहां कुछ न कुछ है जिसने यहां लोगों को रोजगार से जोड़ा है।

Pm modi Ne Kaha Ki Kashi Ka divy Swaroop Lagatar Teji Ke sath Badh Raha

  गंगा के प्रदूषण स्तर में आई कमी

प्रधानमंत्री ने सभा को संबोधित करते हुए कि गंगा की पवित्रता और अविरलता के प्रति हमारी प्रतिबद्वता है। पीएम ने कहा मुझे खुशी है कि हमारे प्रयासों के परिणाम भी दिखने लगे हैं। आप सभी ने मीडिया में आई उन रिपोर्टों को देखा होगा कि कैसे मछलियां,मगरमच्छ समेत अनेक जीव-जंतु जीवनदायिनी मां गंगा में फिर से लौटने लगे हैं। मोदी ने कहा कि बीते दिनों देश के अनेक वैज्ञानिकों की टीम ने गंगाजल के परीक्षण के बाद एक रिपोर्ट भी दी है। इस रिपोर्ट के मुताबिक मां गंगा में प्रदूषण के स्तर में कमी आई है। 

 

 

Web Title: Pm modi Ne Kaha Ki Kashi Ka divy Swaroop Lagatar Teji Ke sath Badh Raha ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया