मुख्य समाचार
राबड़ी का केन्द्र पर गंभीर आरोप, लालू को जहर देकर मारना चाहती है सरकार #IPL2019 : पंजाब को पांच विकेट से हराकर दिल्ली के दिलवालों की जीत झोपड़ी में लगी आग, वृद्ध जिन्दा जला यूपी में सपा को लगा बड़ा झटका, दिग्गज नेता और उसके समर्थक कांग्रेस में शामिल स्मृति ईरानी के खिलाफ डिग्री मामले में कांग्रेस नेता ने की चुनाव आयोग में शिकायत विदेश सचिव दो दिवसीय चीन के दौरे पर लखनऊ के 37 उम्मीदवारों के चुनाव लड़ने के मंसूबों पर फिरा पानी जानिए जातिवाद पर हरियाणा हाईकोर्ट ने क्या टिप्पणी की स्वरा भास्कर के निशाने पर आईं प्रज्ञा ठाकुर, हेमंत पर दिया था बयान वेडिंग एनिवर्सरी पर अभिषेक ने शेयर की ऐश की फोटो, लिखा हनी मून, फैंस बोले इतना गुरूर... कॉफी विद करण मामला : पांड्या और राहुल पर लगा 20-20 लाख रुपये का जुर्माना बाइक पोल से टकराई, युवक की मौत अधिकारियों को नहीं दिखाई पड़ रहा आचार संहिता का उल्लंघन मथुरा में आइसक्रीम फैक्ट्री में अमोनिया गैस का रिसाव,15 की ​बिगड़ी तबियत मोदी ने इस नेता को बताया स्पीड ब्रेकर शूट के दौरान विक्की कौशल को आई गंभीर चोटें अपने सबसे बड़े चुनावी वादे को लेकर बुरी फंसी कांग्रेस सुरवीन चावला के घर आई नन्ही परी, देखें तस्वीर खोदा पहाड़ निकली चुहिया साबित होगा नकली भतीजा-बुआ का गठबंधन : केशव मौर्य एलएचबी कोच बने सुरक्षा कवच, बची भीषण तबाही स्पाइसजेट बना जेट के कर्मचारियों का सहारा, 100 पायलटों सहित 500 लोगों को दी नौकरी जल्‍द फाइटर जेट के कॉकपिट में नजर आएंगे विंग कमांडर अभिनंदन पूर्वा एक्सप्रेस हादसे के चलते बाधित हुआ हावड़ा रूट पर ट्रेनों का संचालन कोहली की पारी ने दिखाया कमाल, 10 रन से जीती RCB नोट्रे डेम को पहले जैसा बनाना चाहते हैं मैक्रों, येलो वेस्ट प्रदर्शन से बिगड़ी छवि को सुधारने की कवायद सीएम योगी बोले- बाबा साहेब ने न किया होता यह काम, तो आज भी किसी जमींदार के यहां भैंस चरा रहे होते अखिलेश 
 

ड्रैगन की ताजा हरकतें भारत के लिए नहीं है शुभ संकेत


DEEP KRISHAN SHUKLA 03/01/2019 13:36:31
217 Views

New Delhi. ड्रैगन की ताजा हरकतें भारत के लिए शुभ संकेत नहीं हैं। हालिया समय में चीन जो गतिविधियां कर रहा है, वह भारत की सुर​क्षा के लिहाज से कतई नजर अंदाज नहीं की जा सकती हैं। फिर चाहें चीनी सेना में हल्के लड़ाकू टैंक टाइप—15 को शामिल करने का मामला हो या फिर पड़ोसी देश पाकिस्तान को अत्याधुनिक तकनीकी से लैस युद्धपोत मुहैया कराने का मामला हो। 

draigan ki taja harkate bhart ke liye nahi hai shubh sanket

भारत से ईर्ष्या रखने वाले चीन के इरादे देश के प्रति नेक नहीं है, य​ह जग जाहिर है। लेकिन, हाल की में चीन में होने वाली गतिविधियां भारत को चौकन्ना करने के लिए पर्याप्त हैं। पाकिस्तान तक कारीडोर बना कर व डोकलाम में भारतीय सीमा में घुस पैठ कर चीन ने अपने इरादे तो पहले ही साफ कर दिए हैं। चीन में कुछ और ऐसी गतिविधियां हुई हैं, जो भारतीय सुरक्षा के लिहाज खास है। ​इन्हें अनदेखा करने बजाय की सुरक्षा एजेन्सियों को चौकन्ना रहने की जरूरत है।

   चीनी सेना हुई हाईटेक, टाइप-15 टैंक से लैस

सीमावर्ती इलाकों में ड्रैगन की हरकतें बढ़ने लगी हैं। चीन ने तिब्बत जैसे सीमावर्ती इलाकों में नए हल्के लड़ाकू टैंक टाइप—15 अपनी सेना में शामिल कर लिए हैं। पर्वतीय इलाकों में अपनी सैन्य क्षमता बढ़ाने के लिए इन हल्के टैंकों की मांग चीनी सेना लम्बे समय से कर रही थी।

चीनी सेना पीपुल्स​ लिबरेशन आर्मी ने इस टैंक को पिछले माह प्रदर्शित किया था। इन टैंकों की मांग सेना लम्बे समय से कर रही थी। चीन के रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता सीनियर कर्नल वू कियान की मानें तो सेना को टाइप-15 टैंक तैनाती के लिए सौंप दिए गए हैं। सूत्र बताते हैं कि चीन ने इस स्वदेशी टैंक का पिछले साल जून में तिब्बत के पठार में उस समय परीक्षण किया था, जब भारत व चीन की सेना डोकलाम में लम्बे समय तक आमने-सामने थी।

draigan ki taja harkate bhart ke liye nahi hai shubh sanket

  इन विशेषताओं से लैस चीन के टाइप-15 टैंक

चीनी सेना के नए छोटे युद्धक टैंक अत्याधुनिक तकनीक से लैस हैं। एक हजार हार्सपावर के इंजन वाले इन टैंकों में 105 एमएम की गन लगी है, जिससे गाइडेड मिसाइलें भी दागी जा सकती हैं। किसी अन्य टैंक की तुलना में बेहद हल्के टैंकों को हाइड्रो न्यूमेटिक सस्पेंशन सिस्टम से लैस किया गया है, ताकि ऊंचाई वाले क्षेत्रों में यह गति के साथ काम कर सकें।

draigan ki taja harkate bhart ke liye nahi hai shubh sanket

  पाकिस्तान को उन्नत किश्म के युद्धपोत देगा चीन

पाकिस्तान से अमेरिका की दूरियां बढ़ने के बाद चीन उसका सबसे करीबी बनता जा रहा है। नए साल में चीन पाकिस्तान को अत्याधुनिक किश्म का युद्धपोत देने जा रहा है, जिसका जिक्र चीन के एक अखबार ने किया है। हिंद महासागर में 'शक्ति संतुलन' सुनिश्चित करने के लिए दोनों देशों के बीच एक बड़ा द्विपक्षीय करार हुआ था, जिसके तहत पाकिस्तान ने चीन से चार अत्याधुनिक युद्धपोत खरीदने की घोषणा की थी। यह युद्धपोत उसी में से एक हैं। चीन के शंघाई स्थित हुदोंग झोंग ने किया है। यह पोत आधुनिक खोजी एवं हथियार प्रणाली से लैस होगा। यह पोत रोधी, पनडुब्बी रोधी और वायु रक्षा अभियान में दक्ष होगा। यह निर्माणाधीन पोत चीनी नौसेना के अत्याधुनिक गाइडेड मिसाइल फ्रिगेट का संस्करण है।

यह भी पढ़े... बड़ी खबर: इस दिग्गज नेता पर गिरी मायावती की गाज, महत्वपूर्ण पद से किया बाहर

Web Title: draigan ki taja harkate bhart ke liye nahi hai shubh sanket ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया