शासनादेश का उल्लंघन कर गांव में लगाई जा रहीं स्ट्रीट लाइटें


LEKHRAM MAURYA 05/01/2019 10:28:12
214 Views

MALL. अधिकारी और प्रधान अपने लाभ के लिए सरकार के शासनादेशों का किस कदर उल्लंघन कर रहे हैं, इसका उदाहरण कहीं दूर नहीं राजधानी के ही एक विकास खण्ड में देखा जा सकता है। शासन द्वारा सात माह पूर्व 1 जून, 2018 को जारी शासनादेश के अनुसार, बिना कनेक्शन लिए ग्राम पंचायतें स्ट्रीट लाइटें नहीं लगा सकतीं। यदि कोई भी अधिकारी या प्रधान इसका उल्लंघन करता है तो वह इसके लिए व्यक्तिगत रूप से जिम्मेदार होगा। विकास खण्ड के अधिकारी जांच कराने की बात कहकर चुप्पी साध लेते हैं। कर्मचारियों द्वारा प्रधानों के साथ मिलकर यह खेल लगातार जारी है। 

Street lights being imposed in the village, violating the mandate

आदेश मिलने के बाद भी बिना कनेक्शन लाइटें लगाने का काम जारी

विकास खण्ड माल की ग्राम पंचायत बाजारगांव, कमालपुर लोधौरा, माल, सैदापुर, बहिर सहित दर्जनों पंचायतों में प्रधानों एवं सचिवों द्वारा बिना स्ट्रीट लाइट का कनेक्शन लिए ही लाइटें लगाने का काम जारी है। सूत्रों ने बताया कि 15 सौ रुपए की लाइटों के लिए 43 सौ रुपए का भुगतान दिखाया जा रहा है। यही नहीं, इनको लगाने मे सरकारी मानकों का भी मखौल उड़ाया जा रहा है। 80 फीसदी ग्राम पंचायतों में घटिया और सस्ती सामग्री का उपयोग किया जा रहा है। फिर भी कोई पूछने वाला नहीं है। इसी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि इसमें कितना कमीशन खाया जा रहा है।

 Street lights being imposed in the village, violating the mandate

ग्राम पंचायतों द्वारा बिजली के खंभों मे लाइटें लगाने के अलावा सौर ऊर्जा की लाइटें भी लगाई जा रही हैं। यह लाइटें अधिकांश ग्राम पंचायतों मे लगाई गयी हैं। इनको लगाने में भी सरकारी मानकों का उल्लंघन किया जा रहा है। इन लाइटों को लगाने के लिए कौन से मानक अपनाए जा रहे हैं। यह किसी को पता नहीं है। एक ही व्यक्ति की तीन फर्माें के नाम बिल काटकर सरकार को गुमराह किया जा रहा है। 

Street lights being imposed in the village, violating the mandate

सांसद, विधायक निधि से लगने वाली लाइटों के लिए कोई नियम नहीं

वहीं, जहां सांसदों और विधायकों द्वारा लाइटें लगाई जा रही हैं, उनके बिलों का भुगतान किसके द्वारा किया जाएगा। गांवों, कस्बों एवं चौराहों सहित निजी परिसरों में लगने वाली लाइटों को भी सीधे खम्भे से जोड़ दिया जाता है। इसलिए इसका भी बिल ग्रामीणों को झेलना पड़ता है, जबकि लाभ कुछ लोगों को मिलता है, जो सांसदों एवं विधायकों के खास होते हैं। 

Web Title: Street lights being imposed in the village, violating the mandate ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया