रेलवे स्टेशन पर भी होगा एयरपोर्ट जैसा सिक्योरिटी चेक


DEEP KRISHAN SHUKLA 07/01/2019 10:26:12
149 Views

New Delhi. अगर आप ट्रेन के टाइम पर ही स्टेशन पहुंचते हैं, तो अपनी आदत सुधारना शुरू कर दें क्योंकि सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता करने के लिहाज से अब रेलवे स्टेशनों पर एयर पोर्ट जैसे सिक्योरिटी चेक से आपको गुजरना पड़ेगा। नए सिक्योरिटी चेक में तकरीबन 20 मिनट का समय लगेगा लिहाजा यात्रियों को ट्रेन छूटने के समय से 20 मिनट पहले स्टेशन पहुंच जाना होगा ताकि उनकी ट्रेन न छूटे। यह व्यवस्था फिलहाल कुंभ मेला को ध्यान में रखते हुए प्रयागराज रेलवे स्टेशन पर लागू हो गयी है।

railway station par hoga  airport jaisa security check

रेलवे की सुरक्षा व्यवस्था को और पुख्ता करने के लिहाज से रेलवे में हाईटेक सिक्योरिटी चेक की व्यवस्था लागू की जा रही है। रेलवे सुरक्षा बल के डीजीपी जनरल अरूण कुमार ने बताया कि मेले की शुरुआत इसी महीने से हो रही है जिसके चलते प्रयागराज रेलवे स्टेशन में इसे लागू किया जा चुका है। इस सिक्योरिटी चेक से लैस होने वाला दूसरा रेलवे स्टेशन कर्नाटक के हुबली रेलवे स्टेशन होगा। वहां पर यह व्यवस्था लागू की जाएगी। इन दोनों स्टेशनों पर पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर यह व्यवस्था शुरू की जाएगी। इसके बाद देश के 202 स्टेशनों पर इसे लागू किया जाना है। रेलवे सुरक्षा बल के डीजीपी जनरल अरुण कुमार ने यह जानकारी दी। हाईटेक सिक्योरिटी चेक तहत रेलवे स्टेशनों को सील करने की तैयारी भी रेलवे सुरक्षा बल कर रहा है। सबसे पहले स्टेशनों पर उन खुले स्थानों की पड़ताल की जाएगी जहां से अनाधिकृत तरीके से यात्री व अवैध वेंडर प्रवेश करते है फिर उन्हे बंद किया जाएगा। कुछ ओपनिंग प्वाइंट स्थायी दीवारों से बंद कराए जाएगें जबकि कुछ को रेलवे सुरक्षा बल की निगरानी में छोड़ा जाएगा। इसके साथ ही कुछ जगहों पर अस्थायी दरवाजे तैयार किए जाएंगे।

railway station par hoga  airport jaisa security check

  एंट्री प्वाइंट पर होगी रेण्डम चेकिेंग

डीजीपी जनरल अरुण कुमार ने बताया कि हर एंट्री प्वाइंट पर रैंडम सिक्यॉरिटी चेकिंग होगी। लेकिन इसका यह मतलब कतई नहीं है कि यात्री घण्टों पहले स्टेशन पहुंचे हां उनहें 15 से 20 मिनट पहले जरूर आना होगा ताकि चेकिंग के चलते ट्रेन न छूटे।

railway station par hoga  airport jaisa security check

  नहीं बढ़ानी पड़ेगी सुरक्षा कर्मियों की संख्या

रेलवे द्वारा यह कदम एकीकृत सुरक्षा प्रणाली के तहत उठाया जा रहा है। अरुण कुमार ने बताया कि वर्ष 2016 में लागू एकीकृत सुरक्षा प्रणाली के तहत यह व्यवस्था लागू की जाएगी। इसके लिए सुरक्षाकर्मियों की संख्या न बढ़ा कर तकनीकी संसाधन जुटा कर रेलवे की सुरक्षा बढ़ाई जाएगी।

railway station par hoga  airport jaisa security check

  387.06 करोड़ है एकीकृत सुरक्षा प्रणाली अनुमानित लागत

एकीकृत सुरक्षा प्रणाली की अनुमानित लागत 387.06 करोड़ बताई जा रही है। आईएसएस के तरह रेलवे को अतिरिक्त 139 सामान स्कैनर, 32 अंडर व्हिकल स्कैनिंग सिस्टम, 217 डोर फ्रेम मेटल डिटेक्टर्स और 1000 से ज्यादा हैंड हेल्ड मेटल डिटेक्ट्स रेलवे सुरक्षा बल को मुहैया कराए जाएगें।

railway station par hoga  airport jaisa security check

  अज्ञात अपराधी दिखते ही एलर्ट होगा आरपीएफ कमांड सेंटर

हाईटेक सिक्योरिटी चेक में रीयल-टाइम फेस रिकॉग्निशन सॉफ्टवेयर भी शामिल होगा, जो किसी भी अज्ञात अपराधियों की पहचान होने पर तुरंत आरपीएफ कमांड सेंटर को सतर्क करेगा। प्रत्येक यात्री को रेलवे परिसर में दाखिल होने के लिए इस प्रक्रिया से गुजरना होगा।

यह भी पढ़ें...शाह की शिवसेना को चेतावनी, कहा- गठबंधन नहीं हुआ तो चुनाव में देंगे करारी शिकस्त

Web Title: railway station par hoga airport jaisa security check ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया