सवर्ण आरक्षण : आखिर किसे मिलेगा फायदा और कितना 


GAURAV SHUKLA 09/01/2019 13:36 PM
281 Views

Lucknow. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार ने तीन राज्यों के विधानसभा चुनावों में भाजपा को मिली करारी शिकस्त के बाद लोकसभा चुनावों से पहले बड़ा दांव चलते हुए आर्थिक रूप से कमजोर सवर्णों को 10 फीसदी आरक्षण देने का फैसला किया है। इस फैसले को लेकर चौंकाने वाली बात यह है कि इसे सरकार के साथ खड़े दलित सांसद और नेता तो ठीक बता रहे हैं लेकिन सामाजिक न्याय की राजनीति करने वाली अन्य पार्टियां इस सैद्धांतिक तौर पर गलत करार दे रही है। उनका कहना है कि यह संवैधानिक तौर पर असंभव है। हालांकि सरकार इस कदम को पूरा करने के लिए संविधान में संशोधन का तरीका अपनाने का प्रयास कर रही है। बता दें कि सवर्णों को 10 फीसदी आरक्षण दिये जाने के फैसले के बाद आरक्षण कोटा 49.5 फीसदी से बढ़कर 59.5 फीसदी हो जाएगा। 

sawarna arakshan se kise milega fayda or kitna
केंद्रीय मंत्री के मुताबिक यह दिया जाने वाला 10 फीसदी आरक्षण पहले के 50 फीसदी से अलग होगा। इसकी मांग काफी समय से चली आ रही थी और इससे सवर्ण समाज, ब्राह्मण, बनिया, ईसाई और मुस्लिमों को भी फायदा होगा। जिसको लेकर काफी समय से काम किया जा रहा था। सूत्रों की माने तो पिछड़े सवर्णों को आरक्षण देने के लिए सरकार ने कुछ पैमाने भी बनाए हैं। इसके अनुसार आरक्षण के दायरे में सिर्फ वह ही सवर्ण आएंगे जिनकी आमदनी आठ लाख से कम हो। कृषि भूमि 5 हेक्टेयर से कम हो, घर हो तो 1000 स्क्वायर फीट से कम हो। वहीं निगम में आवासीय प्लॉट है तो 109 यार्ड से कम की जमीन पर हो। जबकि निगम से बाहर का प्लॉट 209 यार्ड से कम की जमीन का हो।  

sawarna arakshan se kise milega fayda or kitna
बता दें कि सरकार सवर्ण आरक्षण को आर्थिक आधार पर ला रही है जिसकी संविधान में फिलहाल कोई व्यवस्था ही नहीं है। जिसके चलते सरकार को आरक्षण लागू करने के लिए संविधान में संशोधन की आवश्यकता है। इसके लिए संविधान के अनुच्छेद 15 और अनुच्छेद 16 में बदलाव किया जाएगा। इन दोनों ही अनुच्छेदों में बदलाव के बाद आर्थिक आधार पर आरक्षण का रास्ता साफ हो जाएगा। 
फिलहाल बीजेपी को मिलेगा फायदा
सरकार के इस फैसले के बाद सवर्णों को लाभ मिलेगा और कितना मिलेगा यह तो आने वाला वक्त ही तय करेगा, लेकिन मोदी सरकार ने लोकसभा चुनाव से ठीक पहले जो मास्टर स्ट्रोक खेला है उसका फायदा उसे जरूर मिलेगा। बता दें एससी-एसटी आरक्षण से जुड़े अध्यादेश पर सवर्णों की नाराजगी झेल रही बीजेपी को इस प्रस्ताव से उन्हें साधने की कोशिश में लगी हुई है। 

Web Title: sawarna arakshan se kise milega fayda or kitna ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया