मुख्य समाचार
जानिए जातिवाद पर हरियाणा हाईकोर्ट ने क्या टिप्पणी की स्वरा भास्कर के निशाने पर आईं प्रज्ञा ठाकुर, हेमंत पर दिया था बयान वेडिंग एनिवर्सरी पर अभिषेक ने शेयर की ऐश की फोटो, लिखा हनी मून, फैंस बोले इतना गुरूर... कॉफी विद करण मामला : पांड्या और राहुल पर लगा 20-20 लाख रुपये का जुर्माना बाइक पोल से टकराई, युवक की मौत अधिकारियों को नहीं दिखाई पड़ रहा आचार संहिता का उल्लंघन मथुरा में आइसक्रीम फैक्ट्री में अमोनिया गैस का रिसाव,15 की ​बिगड़ी तबियत मोदी ने इस नेता को बताया स्पीड ब्रेकर शूट के दौरान विक्की कौशल को आई गंभीर चोटें अपने सबसे बड़े चुनावी वादे को लेकर बुरी फंसी कांग्रेस सुरवीन चावला के घर आई नन्ही परी, देखें तस्वीर खोदा पहाड़ निकली चुहिया साबित होगा नकली भतीजा-बुआ का गठबंधन : केशव मौर्य एलएचबी कोच बने सुरक्षा कवच, बची भीषण तबाही स्पाइसजेट बना जेट के कर्मचारियों का सहारा, 100 पायलटों सहित 500 लोगों को दी नौकरी जल्‍द फाइटर जेट के कॉकपिट में नजर आएंगे विंग कमांडर अभिनंदन पूर्वा एक्सप्रेस हादसे के चलते बाधित हुआ हावड़ा रूट पर ट्रेनों का संचालन कोहली की पारी ने दिखाया कमाल, 10 रन से जीती RCB नोट्रे डेम को पहले जैसा बनाना चाहते हैं मैक्रों, येलो वेस्ट प्रदर्शन से बिगड़ी छवि को सुधारने की कवायद सीएम योगी बोले- बाबा साहेब ने न किया होता यह काम, तो आज भी किसी जमींदार के यहां भैंस चरा रहे होते अखिलेश 
 

कृषि मंत्री बिहार ने इमामगंज में किया प्रेस कॉन्फ्रेंस


संतोष कुमार 10/01/2019 09:22
206 Views

'25478232-d762-4217-80a1-8469c152cbd3.jpg'

बिहार के कृषि मंत्री डॉ० प्रेम कुमार ने बुधवार को ईमामगंज प्रखंड के कोचया गांव में बीजेपी के जिला अध्यक्ष धनराज शर्मा के पिता जी के निधन के बाद आयोजित शोकसभा से लौटने के बाद संजय गांधी इंटर कॉलेज इमामगंज में पत्रकारों के साथ प्रेस वार्ता करते हुये कहा की अब बिहार राज्य बीज निगम और अन्य बीज कंपनियों के माध्यम से किसानों को गुणवत्तापूर्ण बीज किसानों को समय पर मिलेगा। जिससे बिहार सरकार एप से पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन बीज वितरण व मॉनीटनिंग एप के माध्यम से राज्य में बीज उत्पादन, प्रसंस्करण, वितरण और विपणन आसानी से होगा। पूरी प्रक्रिया पारदर्शी होगी। आसानी से मॉनिटरिंग होगी। इस एप में किसानों को पहचान आधार नंबर के माध्यम से बायोमैट्रिक ऑथेंटिकेशन द्वारा किया जायेगा। बिना किसी परेशानी और बिना किसी अभिलेख के किसानों को ऑन स्पॉट बीज उपलब्ध होगा। उन्होंने बताया की एप के मदद से किसानों को डायरेक्ट लाभ मिलेगा। बीज की कालाबाजारी और बिचौलियों के चंगुल से भी लोगों को मुक्ति मिलेगा उन्होंने कहा सिंचाई सुविधा बहाल करने के लिए नहर, पइन, डैम, आहार, पोखर की मरम्मत करायी जा रही है। बिहार के 38 में से 24 जिलों में 280 प्रखण्ड सुखाड़ की चपेट हैं। इनमें गया जिले के ईमामगंज, डुमरिया, बांकेबजार भी शामिल हैं। सूखे की मार झेल रहे 1,61,743 किसानों से आवेदन लेकर करीब 73,690 किसानों को 57 करोड़ रुपये की कृषि सहायता राशि खाते में भेज दी गयी है। पहाड़ी क्षेत्र के आठ जिलों के किसानों को कम पूंजी व कम पानी से सिंचाई कर बहेतर फसल उपजाने की ट्रेनिंग दिलायी जायेगी। कृषि यंत्र मेला अनुमंडल स्तर पर लगाया जायेगा। पंचायतों में बने कृषि भवन में भी सारी सुविधा मुहैया करायी जायेगी। जिस पंचायत में अपना भवन नहीं है, उसमें भाड़े पर भवन लेकर कृषि कार्यालय खोला जायेगा। उन्होंने कहा कि कृषि रोड मैप बनाकर जल संचय करने की भी तैयारी चल रही है। बिहार में 44 लाख 84 हजार 430 आवेदन आया है। इनमें से एक लाख 54 हजार, 372 किसानों का निबंधन भी हो चुका है। उन्होंने कार्यकर्ताओं से अपील करते हुये कहा की वे सिंचाई की सुविधा के लिए डैम आहर पोखकर कहां-कहां बनाये जा सकते हैं, इसकी सूची तैयार कर शिघ्र दें। मौके पर ई टी वी बिहार/ प्रभात खबर पत्रकार निर्भय पांडे, दैनिक भास्कर पत्रकार अजय प्रसाद,हिंदुस्तान पत्रकार अजय कुमार,दैनिक जागरण पत्रकार देवेंद्र प्रसाद के अलावा कारू सिंह, गंगाधर पाठक, पंकज सिंह चौहान, गजेंद्र दास, प्रमोद सिन्हा, प्रदीप सिंह, मनोज शर्मा, महेन्द्र गिरी सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

Web Title: ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया