मुख्य समाचार
हंगामे की भेंट चढ़ा विधानसभा के मानसून सत्र का पहला दिन  प्रियंका को लेकर चुनार पहुंची पुलिस; सैकड़ों की संख्या में कांग्रेस मौजूद नारेबाजी जारी लखनऊ में शिवसेना का सदस्यता अभियान शुरू  जिला पंचायत सदस्य पर प्लाट कब्जाने का आरोप, एंटी भूमाफिया पोर्टल पर शिकायत  टैंपो चालकों ने किया हंगामा, भाजपा सांसद के पुत्र के करीबियों और पुलिस पर लगा वसूली का आरोप  फोरम के आदेश की नाफरमानी लखनऊ डीएम को पड़ी भारी, वेतन रोकने के आदेश अजय कुमार लल्लू बोले - जमीनी विवाद नहीं, सामूहिक नरसंहार है घोरावल कांड जमीनी विवाद नहीं, सामूहिक नरसंहार है घोरावल कांड : अजय कुमार लल्लू सुरक्षा प्रबंध सराहनीय हैं, लेकिन मेरी सुरक्षा का दायरा कम से कम रखें : प्रियंका वाड्रा भाजपा सरकार ने जनता की सुरक्षा को अपराधियों के आगे गिरवी रख दिया है : अखिलेश जन्मदिन विशेष: शाहरुख की फिल्में हिट कराने में सुखविंदर सिंह का बड़ा योगदान हज यात्री इन्तज़ामों में कमी बतायें, दूर किया जायेगा : मोहसिन रज़ा ‘‘भूजल सप्ताह’’ के दूसरे दिन जल संरक्षण पर आधारित चित्रकला प्रतियोगिता एवं विज्ञान प्रश्नोत्तरी कार्यक्रम आयोजित जालान पैनल ने तैयार की फंड ट्रांसफर की रिपोर्ट, सरकार को मिलेगी बड़ी राहत बाढ़ राहत के कार्यों में किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाये : राहत आयुक्त राजकीय नलकूपों के यांत्रिक दोषों को 24 घंटे में दूर करें : धर्मपाल सिंह  पुलिस से परेशान व्यापारी ने खुद पर पेट्रोल छिड़क कर लगाई आग बाढ़ पीड़ितों के लिए आगे आए अक्षय, प्रियंका ने भी की अपील सोनभद्र: 90 बीघा जमीन के लिए हुआ खूनी संघर्ष, 11 की मौत
 

सपा-बसपा के बराबरी के गठबंधन पर लगी मुहर, कांग्रेस से इसलिए किया दोनों ने तौबा


GAURAV SHUKLA 12/01/2019 14:43:01
638 Views

Lucknow. उत्तर प्रदेश की राजनीति में 25 सालों बाद एक बार फिर समाजवादी पार्टी और बहुजन समाजवादी पार्टी ने संयुक्त रूप से प्रेस कॉन्फ्रेंस कर गठबंधन का ऐलान किया। दोनों ही राजनीतिक दल यूपी की 80 लोकसभा सीटों में से बराबरी की 38-38 सीटों पर चुनाव लड़ेंगी। गठबंधन से यूपी की चार सीटों पर चुनाव न लड़ने का खाका तैयार किया है। इसमें से दो सीटे गठबंधन में शामिल होने वाले अन्य दलों के लिए छोड़ी गयी हैं जबकि अमेठी और रायबरेली की सीट कांग्रेस के लिए छोड़ दी गयी है। 

sapa baspa gathbandhan par lagi muhar 38 seeto par ladenge chunaav
बसपा सुप्रीमो मायावती ने कांग्रेस पर हमलावर होते हुए कहा कि फिलहाल कांग्रेस ने हमेशा हमारे साथ विश्वासघात किया है और उनके साथ गठबंधन कर हमें नुकसान ही हुआ है जिसके चलते अब हम उनके साथ कोई गठबंधन नहीं करेंगे। सुप्रीमो ने कहा कि आजादी के बाद से अब तक केंद्र में अधिकतर भाजपा या कांग्रेस की ही सरकार रही है और दोनों ही सरकारों में रक्षा सौदों में जमकर घोटाले देखने को मिले हैं। जिसके चलते देशहित में गेस्ट हाउस कांड को किनारे रख 1993 के बाद यह गठबंधन हुआ है। 
समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इस दौरान कहा कि अगर गठबंधन के लिए हमें यूपी की कुछ कम सीटों पर भी चुनाव लड़ना पड़ता तो हम बसपा के साथ आते। लेकिन यह बहन जी का बड़प्पन है कि उन्होंने दोनों ही राजनीतिक दलों के लिए बराबर सीटों का बंटवारा किया है। अखिलेश यादव ने कहा कि भले ही इस गठबंधन का ऐलान आज हो रहा है लेकिन इसकी नींव उसी दिन रख दी गयी थी जब भाजपा ने मायावती जी लेकर अभद्र टिप्पणियां शुरु की थी। उसी दिन गठबंधन के विचार पर भी अंतिम मुहर लगा दी थी। कांग्रेस के साथ गठबंधन न करने को लेकर मायावती ने कहा कि कांग्रेस पार्टी को गठबंधन में शामिल करने का हमें कोई फायदा मिलता ही नहीं है। कांग्रेस को हमारे वोट तो ट्रांसफर हो जाते हैं लेकिन जिस सीट पर हमारा गठबंधन का प्रत्याशी उतरता है वहां भीतरघात होता है और वोट बीजेपी को ट्रांसफर कर दिया जाता है। लिहाजा इस पार्टी के साथ अब कोई भी गठबंधन नहीं होगा। वहीं सपा बसपा गठबंधन को लेकर मायावती ने कहा कि यह गठबंधन सिर्फ लोकसभा चुनावों तक ही सीमित न रहकर यूपी के अगले विधानसभा चुनाव में भी चलेगा। 

sapa baspa gathbandhan par lagi muhar 38 seeto par ladenge chunaav

Web Title: sapa baspa gathbandhan par lagi muhar 38 seeto par ladenge chunaav ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया