राज्यपाल ने संरक्षण क्षमता महोत्सव सक्षम 2019 का किया उद्घाटन


MOHD ATHAR RAZA 16/01/2019 18:30:53
164 Views

Lucknow. उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने इन्दिरा गांधी प्रतिष्ठान में संरक्षण क्षमता महोत्सव ‘सक्षम 2019’ का उद्घाटन किया। ‘सक्षम 2019’ का आयोजन पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय, भारत सरकार के अंतर्गत पेट्रोलियम कंजर्वेशन एंड रिसर्च एसोसिएशन तथा तेल एवं गैस सार्वजनिक उपक्रमों द्वारा तेल एवं गैस उत्पादों के संरक्षण एवं समुचित उपयोग के लिये जनमानस में जागरूकता के उद्देश्य से किया गया था।

Governor inaugurates the Conservation Capacity Festival 2019

कार्यक्रम में इण्डियन आयल कारपोरेशन के कार्यकारी निदेशक अरूण कुमार गंजू, हिन्दुस्तान पेट्रोलियम लिमिटेड के अनुज कुमार जैन, गैस अथारिटी ऑफ इण्डिया के आरके दास, भारत पेट्रोलियम लिमिटेड के रमन मलिक सहित लगभग 400 विद्यार्थीगण एवं बड़ी संख्या में तेल कंपनियों के प्रतिनिधिगण उपस्थित थे। राज्यपाल ने इस अवसर पर पेट्रोलियम उत्पादों के संरक्षण की शपथ दिलायी तथा जागरूकता रैली में भाग लेने वाले विद्यालयों के प्रतिनिधियों को स्मृति चिन्ह व शाॅल भेंटकर सम्मानित भी किया। ‘सक्षम 2019’ के अंतर्गत विद्यार्थियों द्वारा पोस्टर, बैनर, क्विज, चित्रकला, निबंध प्रतियोगिता के माध्यम से पेट्रोलियम उत्पादों के संरक्षण के लिये समाज को जागरूक किया जायेगा।

Governor inaugurates the Conservation Capacity Festival 2019

राज्यपाल ने कहा कि विकास के लिये ऊर्जा आवश्यक है। ऊर्जा के सही प्रयोग और संरक्षण पर ही आने वाले कल का विकास टिका है। सभी का यह दायित्व है कि ऊर्जा के विभिन्न विकल्पों का सही प्रयोग करें और इसके संरक्षण के प्रति हर संभव प्रयास करें। देश की तेजी से आगे बढ़ती अर्थव्यवस्था में पेट्रोलियम उत्पाद अत्यंत आवश्यक हैं। इनका अपव्यय अर्थव्यवस्था को प्रभावित करता है। प्राकृतिक संसाधन सीमित हैं इसलिये उनके प्रति जागरूकता और संरक्षण जरूरी है। उन्होंने कहा कि इस विषय पर जनता को ज्यादा से ज्यादा जागरूक किया जाना चाहिए।

राम नाईक ने कहा कि जैसे पानी जीवन के लिये महत्वपूर्ण है उसी तरह पेट्रोल को भी बचाने की आवश्यकता है। छोटी-छोटी बातों का ख्याल करके पेट्रोलियम बचाया जा सकता है। पेट्रोलियम की दो बूंद बचाना विकास के लिये जरूरी है। जन प्रबोधन के लिये जागरूकता आवश्यक है, उसे दायित्व और कर्तव्य समझकर करें तभी देश के विकास की गति बढ़ेगी। बढ़ते हुये प्रदूषण को ध्यान में रखकर अन्य ऊर्जा के स्रोत पर विचार करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि पेट्रोलियम पदार्थ की बचत के लिये लोगों के सामने व्यवहारिक उपाय सुझाना होगा। 

राज्यपाल ने कहा कि अपने परिवार में आना सबको अच्छा लगता है। मैं भी एक समय में पेट्रोलियम मंत्री के नाते पेट्रोलियम मंत्रालय से जुड़ा रहा हूँ। 30 दिन तक चलने वाला सक्षम महोत्सव वास्तव में पेट्रोलियम विभाग का कुम्भ महोत्सव जैसा आयोजन है। राज्यपाल ने बताया कि वर्ष 2004 में जब वे पेट्रोलियम मंत्री थे तब देश में 70 प्रतिशत पेट्रोलियम आयात होता था जिसका सीधा असर देश की अर्थव्यवस्था पर पड़ता था। आयात पर निर्भरता कम करने के लिये उनके कार्यकाल में पेट्रोल में 5 प्रतिशत इथनाॅल मिश्रित करने का निर्णय लिया गया। पेट्रोलियम मंत्री रहते हुये उन्होंने विदेशों में पेट्रोलियम क्षेत्र में निवेश का कठिन निर्णय लिया जिसके सकारात्मक परिणाम आये। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार के स्तर से पेट्रोलियम के क्षेत्र में महत्वपूर्ण प्रयास किये जा रहे हैं। कार्यक्रम में इण्डियन ऑयल कारपोरेशन के कार्यकारी निदेशक अरूण कुमार गंजू ने स्वागत उद्बोधन दिया। राज्यपाल ने स्कूली बच्चों की रैली को झण्डी दिखाकर रवाना किया।

Web Title: Governor inaugurates the Conservation Capacity Festival 2019 ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया