मुख्य समाचार
मायावती ने फिर उठाया ये पुराना मुद्दा, कहा- भाजपा की साजिश में शामिल थे मुलायम आम उत्पादन के क्षेत्र को विस्तारित करने पर शोध करें : राज्यपाल RBI को फिर लगा बड़ा झटका, डिप्टी गवर्नर विरल आचार्य ने अचानक दिया इस्तीफा सबके विकास से ही देश का विकास होगा : राज्यपाल पूर्व सैनिकों के लिए मेरे घर के दरवाजे 24 घंटे खुले : महापौर संयुक्ता भाटिया करणी सेना को डायरेक्टर ने दिया जवाब, दोनों पक्षों में घमासान ससुरालियों को नशीला पदार्थ खिलाकर शादी के दूसरे दिन ही अपने प्रेमी संग फरार हुई दुल्हन बच्ची की दुष्कर्म के बाद हत्या करने वाला रिश्तेदार पुलिस के हत्थे चढ़ा विराट कोहली ने विश्व कप में किया ये कमाल और कर ली इस कप्तान की बराबरी BSP सांसद के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज, जा सकती है लोकसभा की सदस्यता ट्रिपल मर्डर से दहली दिल्ली, बुजुर्ग दंपति और नौकरानी की हत्या फिर वायरल हुई अनोखे अंदाज में प्रिया प्रकाश की फोटो, पहचानना हुआ मुश्किल कांग्रेस पार्टी को मिला नया राष्ट्रीय अध्यक्ष, राहुल गांधी का इस्तीफा मंजूर! सुहाना का पोल डांस सोशल मीडिया पर वायरल राजस्थान की जेल से भाग निकले दुष्कर्म और हत्या के तीन आरोपी शमी ने कहा, हमारी गेंदबाजी ने जीत अपनी झोली में डाल ली इंदौर में ऑनर किलिंग का मामला आया सामने, भाई ने गर्भवती बहन को मारी गोली ईरान पर हमले का खतरा टला नहीं, नए प्रतिबंध लगाने की तैयारी में अमेरिका सतर्कता अधिष्ठान ने शुरू की मायावती शासनकाल के 45 कर्मियों की भ्रष्टाचार व संपत्ति की जांच
 

JNU राष्ट्रविरोधी नारेबाजी केस: कन्हैया समेत 10 छात्रों पर चार्जशीट को लेकर पुलिस को फटकार


ABHIMANYU VERMA 19/01/2019 17:00:15
224 Views

New Delhi. दिल्ली के जेएनयू में कथित तौर पर राष्ट्र विरोधी नारे लगाने के मामले में पुलिस को दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने फटकार लगाई है। कोर्ट ने इस मामले में आरोपी छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार सहित 10 छात्रों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल करने को लेकर लेकर सवाल खड़े किए हैं। 

delhi-court-ask-to-delhi-police-why-did-you-file-chargesheet-without-approval-kanhaiya kumar

दरअसल, कोर्ट ने सुनवाई के दौरान पुलिस को फटकार लगाते हुये कहा कि आपके पास लीगल डिपार्टमेंट की मंजूरी नहीं है तो फिर सरकार की अनुमति के बिना चार्जशीट कैसे दाखिल कर दी गई, जिसके जवाब में पुलिस ने सफाई देते हुए कहा कि उसे 10 दिन के अंदर दिल्ली सरकार से चार्जशीट के लिए ज़रूरी मंजूरी मिल जाएगी। बता दें कि देशद्रोह के मामले में सीआरपीसी के सेक्शन 196 के तहत जब तक सरकार की ओर से मंजूरी नहीं दी जाती, तब तक कोर्ट चार्जशीट पर संज्ञान नहीं ले सकता। 

यह भी पढ़ें:-...राष्ट्रविरोधी नारेबाजी मामले में चार्जशीट दाखिल, कन्हैया समेत 10 पर देशद्रोह का आरोप

गौरतलब है कि 9 फरवरी, 2016 को लेफ्ट स्टूडेंट्स के ग्रुप्स ने संसद पर हमले के गुनहगार अफजल गुरु और जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (जेकेएलएफ) के को-फाउंडर मकबूल भट की याद में एक प्रोग्राम ऑर्गनाइज किया था। जिसमें कथित तौर पर पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार और उमर खालिद समेत कई अन्य छात्रों पर देश विरोधी नारे लगाने के आरोप लगा था। 

delhi-court-ask-to-delhi-police-why-did-you-file-chargesheet-without-approval-kanhaiya kumar

जिसको लेकर सोमवार को पुलिस की ओर से दाखिल 1200 पन्नों की चार्जशीट दाखिल की गयी थी। जिसमें आरोप लगाया गया है कि आतंकी अफजल गुरु की याद में हुए इस प्रोग्राम में देश विरोधी नारे लगाए गए थे। वहीं, कन्हैया कुमार ने इसे राजनीति से प्रेरित कदम बताते हुए पीएम मोदी पर निशाना साधा है। 

Web Title: delhi-court-ask-to-delhi-police-why-did-you-file-chargesheet-without-approval-kanhaiya kumar ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया