मुख्य समाचार
KGMU : पल्मोनरी एंड क्रिटिकल केयर मेडिसिन विभाग ने किया भंडारे का आयोजन  ICC World Cup 2019 : टीम इंडिया इंग्लैंड हुई रवाना, धोनी को लेकर बनी यह रणनीति डीएम-एसपी ने लिया मतगणना स्थल पर तैयारियों का जायजा, तैयारियां पूरी मध्य कमान ने केन्द्रीय विद्यालय के छात्रों को कराया सीमा दर्शन नाराज तीन विधायक दे सकते हैं राजभर को झटका  सुप्रीम कोर्ट के बाद चुनाव आयोग ने दिया विपक्ष को झटका स्पा सेंटर की आड़ में चल रहा था सेक्स रैकेट, इस तरह पुलिस ने किया पर्दाफाश मायावती का बड़ा एक्शन, इस दिग्गज नेता को पार्टी से किया बाहर मौसी के घर आयी बच्ची का तालाब में उतराता मिला शव साढ़े छह लाख की शराब के साथ एसटीएफ के हत्थे चढे़ दो तस्कर 28वीं पुण्य तिथि पर याद किए गए पूर्व पीएम राजीव गांधी BSP की जगह BJP को वोट देना महिला को पड़ा भारी, पति ने फावड़े से काटकर की हत्या पूर्व मंत्री और बसपा के कद्दावर नेता को पार्टी ने दिखाया बाहर का रास्ता पूर्व मंत्री और बसपा के कद्दावर नेता को पार्टी ने दिखाया बाहर का रास्ता  लोकसभा चुनाव खत्म होते ही बंद हुआ नमो टीवी, भाजपा ने दिए थे इतने लाख रुपए सीडीओ ने देवलान गौशाला का किया निरीक्षण बड़ा मंगल दे रहा है दस्तक, लखनऊ मेट्रो की सवारी कर बचें धूप और जाम से आजम खान के खिलाफ आचार संहिला उल्लंघन के 13 मामलों में आरोप पत्र दाखिल
 

अखिलेश के खिलाफ हुए आजम खान, सपा में मचा हड़कंप


ABHIMANYU VERMA 21/01/2019 14:46:29
346 Views

Rampur. सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कोलकाता में आयोजित ममता बनर्जी की रैली में अपनी मौजूदगी दर्ज कराकर विपक्षी एक जुटता को संदेश देने की कोशिश की थी। लेकिन हाल ही में उनकी पार्टी के कद्दावर नेता आज़म खान ने अखिलेश के विपरीत रुख अख्तियार करते हुए इस पर सवालिया निशाना खड़ा कर दिया है। 

Azam Khan against Akhilesh stand

दरअसल, मुसलमानों के प्रतिनिधित्व के न होने को लेकर सपा नेता आज़म खान ने सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा कि कोलकाता की रैली में राजनीतिक दृष्टि से बहस तो बहुत हुई, लेकिन देश की स्थिति क्या है और इसे कहां ले जाना है? इस विषय पर कोई चर्चा नहीं हुई। उन्होंने कहा कि देश की दूसरी बड़ी आबादी, अल्पसंख्कों का प्रतिनिधित्व मात्र इतना हुआ कि एक साहब कश्मीर से थे और एक साहब असम से थे। 

यह भी पढ़ें:-...ममता की रैली से आज़म खान नाराज, इस मुद्दे को लेकर उठाए सवाल

यूपी के पूर्व मंत्री आजम खान ने कहा कि वह रैली में पहुंचे दोनों नेताओं के बारे में कोई टिप्पणी नहीं करेंगे, लेकिन देश की दूसरी बड़ी आबादी का कोई प्रतिनिधि नहीं था, इससे दूसरी बड़ी आबादी चिंतित है। वह निराश हैं कि बदलते हुए हालात में भी उनकी मौजूदगी नहीं है। 

Azam Khan against Akhilesh stand

बता दें कि ममता बनर्जी की ओर से आयोजित महा रैली में सपा के सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव, सपा नेता किरणमय नंदा और राजेंद्र चौधरी के साथ मौजूद थे। वहीं, मुस्लिम नेताओं में नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला, उमर अब्दुल्ला और ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट के अध्यक्ष बदरुद्दीन अजमल मौजूद थे। ऐसे में आज़म खान का ये बयान में सपा अध्यक्ष के स्टैंड के बिलकुल खिलाफ दिखाई पड़ता है। 

Web Title: Azam Khan against Akhilesh stand ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया