मुख्य समाचार
 

कारगिल में पाक को धूल चटाने वाले फर्नांडीस हार गए जिंदगी की जंग


ABHIMANYU VERMA 29/01/2019 10:03 AM
65 Views

New Delhi. देश के लिए एक बेहद दुखद खबर है, पूर्व रक्षा मंत्री जॉर्ज फर्नांडीस का 88 साल की उम्र में निधन हो गया है। फर्नांडीस 1998 से 2004 तक अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में मंत्री रहे थे। उन्होंने मंगलवार को दिल्ली के मैक्स अस्पताल में आखिरी सांस ली। जॉर्ज फर्नांडीस लंबे समय से बीमारी से जूझ रहे थे। आखिरी बार वो अगस्त 2009 से जुलाई 2010 के बीच तक राज्यसभा सांसद रहे थे। 

Former Union Defense Minister George Fernandes dies

बता दें कि जॉर्ज फर्नांडीस वे 1967 से 2004 तक 9 बार लोकसभा चुनाव चुने गए। इसके बाद 2009 के लोकसभा चुनाव में नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू ने उन्हें टिकट नहीं दिया तो, जॉर्ज नहीं माने और उन्होंने मुज्जफरपुर से निर्दलीय पर्चा दाखिल किया। लेकिन वह हार गए। फर्नांडीस रक्षा मंत्री रहते हुए भारत-पाकिस्तान के बीच करगिल युद्ध हुआ जिसमें भारत ने पाकिस्तान को करारी शिकस्त दी थी। यही नहीं, पोखरण परमाणु परीक्षण के समय भी फर्नांडीस ही रक्षा मंत्री थे। वाजपेयी के अलावा फर्नांडीस 1989 में वीपी सिंह सरकार की सरकार के दौरान रेल मंत्री रहे और 1977 में जनता पार्टी सरकार में संचार और उद्योग मंत्री के तौर पर भी काम किया। 

यह भी पढ़ें:-...बसपा नेता और पूर्व मंत्री को हुई हनी ट्रैप में फंसाने का प्रयास

Former Union Defense Minister George Fernandes dies

जॉर्ज फर्नांडीस को ट्रेड यूनियन नेता के तौर पर जाना जाता है। 1975 में इंदिरा गांधी सरकार में इमरजेंसी के बाद देश में बड़े नेताओं के तौर पर जो नेता उभरे, उनमें जॉर्ज सबसे आगे थे। उस समय 1977 में जेल में रहते हुए रिकॉर्ड वोट से लोकसभा चुनाव जीते हासिल की थी। 

Former Union Defense Minister George Fernandes dies

जॉर्ज फर्नांडीस ने 1974 में सबसे बड़ी रेल हड़ताल कराई थी। इसके बाद फर्नांडीस ने 1994 में जनता दल छोड़कर समता पार्टी का गठन कर लिया था। 

Web Title: Former Union Defense Minister George Fernandes dies ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया