मुख्य समाचार
 

कुंभ: धर्म संसद में साधु संतों का हंगामा, भागवत के खिलाफ जमकर हुई नारेबाजी


ABHIMANYU VERMA 01/02/2019 16:57:38
171 Views

Prayagraj. प्रयागराज कुंभ में धर्म संसद के आखिरी दिन साधु-संतों के एक वर्ग ने जमकर हंगामा किया। दरअसल, आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने केंद्र सरकार को मंदिर निर्माण के लिए समय देने बात कही। इस पर वहां मौजूद साधु संत भड़क गए और आरएसएस प्रमुख के खिलाफ जमकर नारेबाजी करने लगे। वहीं, हालात बिगड़ते देख विहिप कार्यकर्ताओं ने उन्हें पंडाल से बाहर कर दिया और मीडिया को भी हटाने की कोशिश की गयी। 

Sadhu-Santon did a ruckus in the dharma sansad

क्या है पूरा मामला? 

बताया जा रहा है कि आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत धर्म संसद को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि राम मंदिर के निर्माण से कम कुछ भी स्वीकार नहीं है। अब सरकार ये कैसे करेगी देखेंगे। अगर सरकार ये करेगी तो प्रभु राम का आशीर्वाद मिलेगा। उन्होंने कहा कि वह 1990 में 20-30 साल का लक्ष्य मानकर चले थे और इसे पूरा होने में बस 2 साल बाकी है।

यह भी पढ़ें:-...अंतरिम बजट: मध्यम वर्ग और नौकरी-पेशा वाले लोगों को मोदी सरकार का बड़ा तोहफा

भागवत ने आगे कहा कि सनातन धर्म के विजय का काल आया है। भव्य मंदिर निर्माण के प्रयास में संघ पूरा समर्थन देगा। उन्होने कहा कि चुनाव के मद्देनजर फ़िलहाल आंदोलन की घोषणा नहीं की। लेकिन 4-6 महीने में इस पर कुछ हो गया तो ठीक नहीं तो सब देखेंगे।

Sadhu-Santon did a ruckus in the dharma sansad  

वहीं, भागवत की ओर से केंद्र सरकार को और समय देने की बात सुनकर वहां मौजूद साधु-संतों का एक वर्ग आक्रोशित हो गया। उन्होंने विहिप के इस मंच को राजनैतिक बताया और कहा कि उन्हें राजनीति नहीं राम मंदिर चाहिए। इसके बाद ही भागवत के खिलाफ नारेबाजी होने लगी। इस दौरान साधु-संत समाज दो भागों में बंटा नजर आया। 

दूसरी तरफ विहिप ने शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती के समर्थित साधु-संतों पर जानबूझकर हंगामा करने का आरोप लगाया है।

#WATCH: Ruckus ensued after RSS chief Mohan Bhagwat's speech at the Dharm Sansad called by VHP in Prayagraj, protesters were demanding early construction of Ram temple in Ayodhya. pic.twitter.com/IGnOxThHuq

— ANI UP (@ANINewsUP) February 1, 2019

 

Web Title: Sadhu-Santon did a ruckus in the dharma sansad ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया