मुख्य समाचार
किसी दुर्घटना के इंतजार में चार दिन से पड़ा आंधी में गिरा यह पेड़ पहले निर्माण, अब चारे के नाम पर गोशालाओं में प्रधान कर रहे फर्जीवाड़ा इसरो की तैयारियां पूरी, सोमवार को होगा चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण  कम नहीं हो रहीं आज़म खान की मुसीबतें, 3 और एफआईआर दर्ज छोटी सी गलती एक्टर को पड़ी भारी, 14 दिन की न्यायिक हिरासत में सोनभद्र: सीएम के दौरे को लेकर पुलिस ने कसा शिकंजा, पूर्व विधायक समेत कई कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी  सोशल मीडिया पर कहर ढा रहीं हॉट एक्ट्रेस ईशा गुप्ता, देखें सिजलिंग तस्वीरें लखनऊ: मुठभेड़ में टिंकू नेपाली गैंग के सरगना समेत तीन गिरफ्तार, दो सिपाही जख्मी मलाइका की सिजलिंग फोटो देख खुद पर काबू नहीं रख पाए आर्जुन कपूर, कर दिया ऐसा कमेंट... यूपी में बदमाशों के हौसले बुलंद, भाजपा नेता को गोलियों से भूना दो पुलिस कर्मियों की हत्या कर भागे कैदियों में एक को मुठभेड़ में पुलिस ने किया ढेर
 

आज हो सकती है सीबीआई निदेशक के नाम की घोषणा


DEEP KRISHAN SHUKLA 02/02/2019 09:31:35
163 Views

New Delhi. लम्बे समय से चल रही सीबीआई निदेशक के चयन को लेकर ऊहापोह की स्थिति पर शनिवार को विराम लग सकता है। प्रधानमंत्री की अध्यक्षता वाली चयन समिति की बैठक में निदेशक पद के लिए शुक्रवार शाम को कई नामों पर चर्चा के बाद तीन नामों की सिफारिश नियुक्ति संबंधी कैबिनेट कमेटी को भेज दी गयी है। हालांकि कांग्रेस नेता ने नामों को लेकर आपत्ति भी जताई, लेकिन उसे दरकिनार कर दिया गया।

aaz ho sakti hai CBI nideshak ke naam ki ghoshna 
मालूम हो कि सीबीआई के शीर्ष दो अधिकारियों में छिड़ी जंग में निदेशक पद से आलोक वर्मा के हटाए जाने के बाद से 10 जनवरी से यह पद खाली चल रहा है। शुक्रवार शाम सीबीआई निदेशक चयन को लेकर प्रधानमंत्री आवास पर सम्पन्न हुई समिति की इस दूसरी बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा सीजेआई रंजन गोगोई और कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने हिस्सा लिया। सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक, सीबीआई निदेशक पद के लिए वरिष्ठ आईपीएस अधिकारियों में जावीद अहमद, रजनीकांत मिश्रा, एसएस देसवाल और शिवानंद झा के नाम सबसे ऊपर रहे। किन तीन नामों की सिफारिश की गई है यह फिलहाल स्पष्ट नहीं हो सका है। बैठक की खास बात यह रही कि समिति में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे इन नामों पर सहमत नहीं थे। 

aaz ho sakti hai CBI nideshak ke naam ki ghoshna

कोर्ट ने निदेशक की नियुक्ति में देरी पर जताई नाराजगी

सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई निदेशक की नियुक्ति में हो रही देरी पर नाराजगी जताई थी। सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को केंद्र सरकार से पूछा कि उसने अब तक सीबीआई के पूर्णकालिक निदेशक की नियुक्ति क्यों नहीं की है। न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा और न्यायमूर्ति नवीन सिन्हा की पीठ ने सरकार से कहा कि सीबीआई निदेशक का पद बेहद महत्वपूर्ण होता है, जिस पर अटार्नी जनरल के.के. वेणुगोपाल ने कोर्ट को बताया था कि प्रधानमंत्री की अध्यक्षता वाली समिति नए सीबीआई निदेशक के चयन के लिए शुक्रवार को बैठक करेगी। सीबीआई निदेशक की नियुक्ति में पारदर्शिता का मुद्दा उठाने पर पीठ ने कहा कि हम पहले निदेशक की नियुक्ति सुनिश्चित करेंगे। पारदर्शिता का मुद्दा बाद में उठाया जा सकता है। 

aaz ho sakti hai CBI nideshak ke naam ki ghoshna

एके बस्सी की याचिका पर एससी ने नागेश्वर राव से मांगा जवाब

डीएसपी ए.के. बस्सी ने अंडमान निकोबार तबादला किए जाने के निर्णय को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी। उनकी याचिका पर एससी ने सीबीआई के अंतरिम निदेशक एम नागेश्वर राव से जवाब मांगा है। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई और न्यायमूर्ति संजीव खन्ना की पीठ ने जांच एजेंसी और राव को नोटिस देकर छह हफ्ते में जवाब मांगा है। वहीं, बस्सी के वकील राजीव धवन ने मामले को सीबीआई की कार्यशैली पर सवाल उठाने वाला बताया है। बस्सी का पहली बार 23 अक्तूबर को पोर्टब्लेयर तबादला किया गया, लेकिन तत्कालीन सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा ने उस आदेश को रद्द करते हुए उनको 9 जनवरी को वापस दिल्ली बुला लिया। आलोक वर्मा के हटते ही 11 जनवरी को फिर से उनका तबादला पोर्ट ब्लेयर कर दिया गया।

 चार प्रमुख नामों में कौन, कहां है तैनात

यूपी कैडर के 1984 बैच के आईपीएस अधिकारी जावीद अहमद अभी नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ क्रिमिनोलॉजी एंड फॉरेंसिक साइंस यूपी में तैनात हैं। इसी बैच के रजनीकांत मिश्रा फिलहाल सीमा सुरक्षा बल के चीफ हैं। वहीं, हरियाणा कैडर के 1984 बैच के ही आईपीएस एसएस देसवाल आईटीबीपी के निदेशक हैं, जबकि 1983 बैच के अधिकारी शिवानंद झा गुजरात पुलिस के मुखिया हैं।

यह भी पढ़े...मुख्य सचिव समेत आधा दर्जन अधिकारियों पर भ्रष्टाचार का आरोप, लोकायुक्त से शिकायत

Web Title: aaz ho sakti hai CBI nideshak ke naam ki ghoshna ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया