मुख्य समाचार
UPTET : हाईकोर्ट के आदेश को सुप्रीम कोर्ट ने किया निरस्त, 1 लाख से ज्यादा शिक्षकों को मिली राहत अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर बोला करारा हमला, कहा- नौजवानों की जिन्दगी में ... फतेहपुर में प्रतिबंधित मांस मिलने पर बवाल, मदरसे पर पथराव साक्षी मामले पर मालिनी अवस्थी का बड़ा बयान, लड़कियां जीवन साथी चुनें लेकिन... यूपी पुलिस को मिली बड़ी सफलता, दो इनामी बदमाश किए ढेर वरिष्ठ पत्रकार बरखा दत्त ने कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल पर लगाए गम्भीर आरोप, मचा घमासान अंतिम संस्कार की चल रही थी तैयारी, अचानक युवक की खुली आंखे और फिर जो हुआ... सरकारी आवास के मोह पॉश में जकड़े दो पूर्व मंत्रियों को गहलोत सरकार ने दिया जुर्माने का झटका सलमान संग फिल्मों में डेब्यू कर सुपरस्टार बनीं कटरीना का नहीं है कोई क्राइम रिकॉर्ड 149 साल बाद बन रहा गुरू पूर्णिमा पर चंद्र दुर्लभ योग सपा नेता अखिलेश यादव की गोली मारकर हत्या, सियासत में भूचाल
 

अखिलेश के एक और दिग्गज नेता के खिलाफ मुकदमा दर्ज, सपा में मचा हड़कंप


ABHIMANYU VERMA 02/02/2019 09:53 AM
401 Views

Lucknow. यूपी के पूर्व कैबिनेट मंत्री आजम खां की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। लखनऊ के हजरतगंज कोतवाली में उनके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करवाई गई है। आजम पर शिया धर्म गुरु मौलाना कल्बे जवाद के खिलाफ असामाजिक बयान देने और उनकी प्रतिष्ठा को ठेस पहुंचाने का आरोप है।

Case against former UP cabinet Azam Khan

इस मामले में इंस्पेक्टर हजरतगंज राधा रमण सिंह का कहना है कि हुसैनाबाद बुरैरा निवासी अल्लामा जमीर नकवी की तहरीर के आधार पर रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है। आज़म खां के खिलाफ तहरीर पर आईपीसी की धारा 500 और 505 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। उन्होंने कहा कि तहरीर में आजम खां पर वरिष्ठ शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे जवाद पर बेबुनियाद टिप्पणी करने का आरोप है। 

यह भी पढ़ें:-...विधानसभा का बजट सत्र 5 फरवरी से, सर्वदलीय बैठक चार को

तहरीर में कहा गया है कि सपा के कार्यकाल के दौरान आजम खां ने सरकारी पैड पर चार अगस्त 2014 से 12 अगस्त 2014 तक मौलाना जवाद पर गलत आरोप लगाकर लेटर जारी किए। वे खबरें न्यूज चैनलों और अखबारों में भी प्रकाशित हुईं। हालांकि, आज तक मौलाना जवाद के खिलाफ आजम खां किसी भी आरोप का सबूत नहीं दे सके हैं।

Case against former UP cabinet Azam Khan

बता दें कि पूर्व कैबिनेट मंत्री आजम खां ने सपा के कार्यकाल के दौरान अपने सरकारी लेटर पैड पर लिखकर आरोप लगाया था कि ठाकुरगंज स्थित वक्फ सज्जादिया की 22 बीघा जमीन को मौलाना कल्बे जवाद ने प्लॉटिंग कर बेच डाला था, लेकिन इसकी रजिस्ट्री किसके नाम हुई, यह आज तक साबित नहीं हो सका। साथ ही यह भी आरोप लगाया था कि मौलाना जवाद ने राम मंदिर निर्माण के लिए 15 लाख रुपये दिए हैं। 

Web Title: Case against former UP cabinet Azam Khan ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया